बच्चे को डंसने के बाद कैसे तड़प-तड़प कर मर गया कोबरा

बच्चे को डंसने के बाद कैसे तड़प-तड़प कर मर गया कोबरा

 बिहार के गोपालगंज में चार वर्ष के बच्चे को डंसने के बाद कोबरा सांप ने को ही दुनिया छोड़ दी सोशल मीडिया पर इस समाचार की खूब चर्चा हो रही है सुनकर भी लोग हैरत में हैं कि ये संभव कैसे हुआ कोबरा सांप ने आज तक जिसे भी काटा, शायद ही कोई बचा है परिजन बच्चे में ईश्वरीय शक्ति मान रहे हैं तो विज्ञान के लिए ये अनसुलझा प्रश्न है हालांकि बच्चे की ब्लड सैंपल लेकर जांच करायी जा रही है, जिसकी रिपोर्ट आनी बाकी है

सदर हॉस्पिटल के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सनाउल मुस्तफा बताते हैं कि चार वर्ष के जिस बच्चे को डसने के बाद कोबरा सांप की मृत्यु हुई; वह सांप बहुत घातक और जहरीला था कोबरा सांप किसी को भी काट ले तो, बिना उपचार कराये रोगी का बचना कठिनाई है केवल ‘एंटी स्नैक वेनम’ इंजेक्शन ही है, जो विषैले सांप की जहर को मारने की क्षमता रखता है सदर हॉस्पिटल समेत सभी सरकारी अस्पतालों में ये इंजेक्शन मौजूद है

उन्होंने बोला कि बच्चा को जब सांप ने डसा तो परिजन उसे तुरन्त उपचार कराने के लिए सदर हॉस्पिटल के इमरजेंसी वार्ड में पहुंचे, जहां उपचार प्रारम्भ किया गया और बच्चे की जान बची इसमें कोई दैवी शक्ति नहीं है वहीं, जंतु विज्ञान के प्रोफेसर मानते हैं कि करोड़ों में ऐसा मुकदमा देखने को मिलता है कोबरा सांप किसी को काट ले और स्वयं उसकी मृत्यु हो जाये

जयप्रकाश यूनिवर्सिटी से सेवानिवृत प्रोफेसर सीपी सिंह का मानना है कि कोबरा सांप बच्चे को काटने के बाद कैसे मर गया ये सुनकर भी आश्चर्य हो रही है उन्होंने बोला कि हम सभी ईश्वर को मारने वाले हैं, हो सकता है कि बच्चे में कोई शक्ति हो, या फिर कोबरा सांप किसी रोग से ग्रस्त या फिर जख्मी हो, जिसके कारण बच्चे को डसने के बाद उसकी मृत्यु हुई हो प्रोफेसर सीपी सिंह ने बोला कि अपने जीवन में पहली बार ऐसा मुकदमा सुनने को मिला है

क्या है पूरा मामला
गोपालगंज जिले के बरौली थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव निवासी रोहित कुमार का चार वर्ष का पुत्र अनुज कुमार अपने मामा के घर कुचायकोट थाना क्षेत्र के सासामुसा खजुरी टोला में आया था यहां बुधवार की शाम दरवाजे के सामने बच्चों के साथ अनुज कुमार खेल रहा था खेलने के दौरान की खेत की तरफ से आए कोबरा सांप ने बच्चे को पैर में डस लिया इसके बाद उसकी चंद मिनट में मृत्यु हो गयी

परिजन पहुंचे तो सांप मरा हुआ था इसके बाद बच्चे और सांप दोनों को लेकर सदर हॉस्पिटल में पहुंचे थे बहरहाल, इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर लोग सांप और बच्चे की तस्वीर खूब वायरल कर रहे हैं कुछ लोग दैवी शक्ति बता रहे हैं तो कुछ लोग विज्ञान का करिश्मा बता रहे हैं


बारातियों को ले जा रही स्कॉर्पियो गंगा नदी में गिरी

बारातियों को ले जा रही स्कॉर्पियो गंगा नदी में गिरी

पटना बिहार की राजधानी पटना (Patna) में बारातियों को ले जा रही स्कॉर्पियो वाहन गंगा नदी (Ganga River) में गिर गयी घटना नदी थाना क्षेत्र के जेठुली घाट की है जहां शनिवार की देर शाम नाव पर स्कार्पियो चढ़ाने के दौरान यह दुर्घटना हुआ गंगा नदी में स्कॉर्पियो (Scorpio) गिर जाने से घाट पर अफरा-तफरी मच गई हालांकि, स्कॉर्पियो में सवार छह लोग तैर कर सकुशल बाहर निकल गए, लेकिन उसमें सवार दो अन्य लोग लापता बताए जा रहे हैं इस घटना में स्कॉर्पियो उफनती गंगा नदी में डूब गई है क्षेत्रीय लोगों के द्वारा सूचना देने पर फतुहा डीएसपी राजेश कुमार मांझी, नदी थाना पुलिस, वैशाली जिले की रुस्तमपुर थाना पुलिस और राघोपुर पुलिस मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू अभियान में जुट गई है हालांकि रात होने से अंधेरे के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन में परेशानी आ रही है

मिली जानकारी के अनुसार कंकड़बाग थाना क्षेत्र के इंदिरा नगर नवरतनपुर निवासी उपेंद्र राय के बेटे शंभू राय की विवाह राघोपुर थाना क्षेत्र के रामपुर भट्टी गांव निवासी सकिंदर राय की बेटी सविता कुमारी के साथ तय हुई थी रविवार की शाम उपेंद्र राय नवरतनपुर से बारात लेकर नदी थाना क्षेत्र के जेठुली घाट पहुंचे थे यहां सभी बारातियों को नाव पर बिठाया जा रहा था इस दौरान नाव पर चढ़ाने के दौरान बारातियों से भरी स्कॉर्पियो अनियंत्रित हो गई और गंगा नदी में पलट गयी हादसे के बाद वहां चीख-पुकार मच गई स्कार्पियो में सवार आधा दर्जन लोग तत्परता दिखाते हुए तैर कर नदी से सुरक्षित बाहर निकल गए वहीं, स्कार्पियो में ही बैठे हुए दो अन्य लोग लापता हैं दूल्हे के पिता उपेंद्र राय ने बताया कि मोहल्ले के ही रहने वाले दो लड़कों के गंगा में डूबने की सूचना है

फतुहा डीएसपी राजेश कुमार मांझी ने घटना की पुष्टि करते हुए बोला कि एनडीआरएफ और एसडीआरएफ को सूचना दे दी गई है उनके पहुंचने के बाद लापता दोनों लोगों की तलाश को लेकर जोर-शोर से सर्च ऑपरेशन चलाया जाएगा