गिरिराज सिंह ने बिहार सरकार के मंत्रियों को दी नसीहत, बोले...

गिरिराज सिंह ने बिहार सरकार के मंत्रियों को दी नसीहत, बोले...

बेगूसराय केंद्रीय मंत्री सह बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह ने एक बार फिर बिहार गवर्नमेंट एवं बिहार गवर्नमेंट के मंत्रियों को नसीहत देते हुए बोला है कि जायज और नाजायज की परिभाषा कुर्सी पर बैठकर ना करें गिरिराज सिंह ने बोला है कि आज हिंदुस्तान में उपस्थित कट्टरपंथी हिंदुस्तान को इस्लामिक राष्ट्र बनाने की षड्यंत्र कर रहे लोगों के द्वारा प्रलोभन देकर लोगों का धर्म बदलाव करा रहे हैं उन्होंने बोला कि सत्ता आती रहेगी जाती रहेगी, लेकिन सनातन धर्म की परिभाषा बदलने की प्रयास सदन में बैठे लोगों को नहीं करनी चाहिए

गौरतलब है कि बिहार गवर्नमेंट के मंत्री आलोक कुमार मेहता ने धर्मांतरण को जायज बताते हुए बयान दिया था इसी बयान के खंडन में गिरिराज सिंह ने बिहार गवर्नमेंट के मंत्रियों को नसीहत दी है वहीं उन्होंने राहुल गांधी के बयान पर बोला कि हिंदुस्तान तपस्वी का राष्ट्र रहा है और हम लोग सनातन धर्म  को मानने वाले लोग हैं और आज नरेंद्र मोदी की तपस्या ही है कि हिंदुस्तान आज राष्ट्र एवं विदेश में अपना परचम लहरा रहा है लेकिन यहां के कुछ लोगों को यह बात रास नहीं आ रही है और वह सदैव मोदी को नीचा दिखाने के कोशिश में लगे रहते हैं

‘केजरीवाल की चर्चा करना ही बेकार है’

वहीं उन्होंने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को आड़े हाथों लेते हुए बोला कि उनकी बातों को महत्व देना बेकार है क्योंकि अन्ना आंदोलन के समय केजरीवाल ने अपने बेटे की शपथ खाकर बोला था कि हम राजनीति में कभी नहीं आएंगे लेकिन उन्होंने अन्ना हजारे को ही पीठ दिखाते हुए राजनीति में अपना कदम जमाया एक समय था जब वह अपने नानी की बात करते हुए कहते थे कि मस्जिद के ऊपर मंदिर बना है इसलिए हम मंदिर नहीं जाएंगे लेकिन आज केजरीवाल काशी विश्वनाथ, अयोध्या और केदारनाथ की बातें करते हुए कह रहे हैं कि लोगों को चारों धाम के दर्शन कराएंगे केजरीवाल आज उन नेताओं में शामिल हैं जिनकी चर्चा करना ही बेकार है

चार दिवसीय दौरे पर बेगूसराय में है गिरिराज सिंह 

दरअसल केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह अपने चार दिवसीय दौरे पर बेगूसराय में हैं और यहां उन्होंने क्षेत्र में हो रहे विकास में केंद्र गवर्नमेंट के सहयोग को गंभीरता के सामने मीडिया के सामने प्रस्तुत किया और बोला कि केंद्र गवर्नमेंट के द्वारा बेगूसराय के विकास के लिए लाखों करोड़ों रुपए खर्च किए गए हैं लेकिन, बिहार गवर्नमेंट और विपक्ष आज उल्टे केंद्र गवर्नमेंट पर ही प्रश्न खड़े कर रही है