Budget 2021: PMFAI ने की कीटनाशकों पर GST दर को 18 फीसद से घटाकर 5 फीसद करने की मांग

Budget 2021: PMFAI ने की कीटनाशकों पर GST दर को 18 फीसद से घटाकर 5 फीसद करने की मांग

पेस्टिसाइड्स मैनुफैक्चरर्स एंड फॉर्मुलेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (PMFAI) ने केंद्र सरकार से बजट में कीटनाशकों पर जीएसटी दर घटाने की मांग की है। पीएमएफएआई ने कीटनाशकों पर जीएसटी दर को 18 फीसद से घटाकर 5 फीसद करने की मांग की है। वर्तमान में बीज और खाद पर 5 फीसद जीएसटी लगता है। संगठन ने कहा कि कीटनाशकों पर जीएसटी दर घटाने से किसानों को काफी फायदा होगा।

पीएमएफएआई ने ड्यूटी ड्राबैक (एक्सपोर्ट बेनिफिट्स) को 2 फीसद से बढ़ाकर 13 फीसदी करने की मांग सरकार से की है। साथ ही संगठन ने टेक्निकल और फिनिश्ड पेस्टीसाइड्स पर आयात शुल्क बढ़ाकर 20 से 30 फीसद करने की मांग भी की है, जिससे घरेलू एग्रो-केमिकल्स इंडस्ट्री को संरक्षित किया जा सके।

एसोसिएशन ने मेक इन इंडिया कार्यक्रम के अंतर्गत सरकार से इंटरमीडिएट्स और टेक्निकल ग्रेड पेस्टीसाइड्स के लिए तकनीकी विकास करने को वित्तीय मदद के अतिरिक्त अन्य डेवलपमेंट एसिस्टेंस देने की भी मांग की है। एसोसिएशन द्वारा केंद्र सरकार से की गई ये मांगे ऐसी हैं, जो 200 से अधिक छोटे, मध्यम और बड़े श्रेणी की इंडियन पेस्टीसाइड्स मैनुफैक्चरर्स, फॉर्मुलेटर्स और ट्रेडर्स के लिए फायदेमंद साबित हो सकती हैं। पीएमएफएआई ने इन मांगों को ऊर्वरक एवं रसायन मंत्रालय को भेज दिया है।


पीएमएफएआई के प्रेसिडेंट प्रदीप दवे के अनुसार, जीएसटी दर में कमी करने से देश के तीन-चौथाई किसानों को फायदा पहुंचेगा, जो अभी इस सीमा से बाहर हैं। उनके अनुसार, सरकार को इससे कोई खास वित्तीय नुकसान भी नहीं होगा। दवे ने कहा कि इससे किसानों को अपनी फसल का बेहतर रिटर्न पाने में मदद मिलेगी। अगले वित्त वर्ष 2021-22 का केंद्रीय बजट 1 फरवरी 2021 को पेश किया जाएगा। यह आम बजट वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करेंगी।


WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर तीन माह की रोक, 8 फरवरी के बाद बंद नहीं होगा अकाउंट

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर तीन माह की रोक, 8 फरवरी के बाद बंद नहीं होगा अकाउंट

नई दिल्ली। WhatsApp ने भारी दबाव के चलते अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को फिलहाल टाल दिया है। ऐसे में अगर यूजर WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को 8 फरवरी तक नहीं मंजूरी देते हैं, तो इसके बावजूद भी WhatsApp अकाउंट बंद नहीं होगा। बता दें कि Facebook ओन्ड मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने 8 फरवरी से अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी लागू करने वाली थी, जिसे कंपनी ने अगले तीन माह के लिए टाल दिया है। ऐसे में यूजर के पास नई प्राइवेसी पॉलिसी के रिव्यू के लिए 15 मई 2021 तक का वक्त होगा। बता दें कि 15 मई 2021 को WhatsApp का नया बिजनेस ऑप्शन लॉन्च होगा।

कंपनी ने प्राइवेसी पॉलिसी पर दी सफाई 

Facebook ओन्ड कंपनी के मुताबिक WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर यूज़र्स में कंफ्यूजन हैं, जिसके चलते इसे स्थगित किया जा रहा है, जिससे यूजर्स को नई प्राइवेसी पॉलिसी को समझने में ज्यादा वक्त मिल सकेगा। WhatsApp नई प्राइवेसी और सिक्योरिटी पॉलिसी की भ्रामक जानकारियों को लेकर हर स्तर पर लोगों को जानकारी पहुंचाना चाहती है। कंपनी ने साफ किया कि 8 फरवरी के बाद भी यूजर का WhatsApp अकाउंट सस्पेंड या डिलीट नहीं होगा। 

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी से लोग हैं नाराज 

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी के ऐलान के बाद से ही भारी संख्या में लोग मैसेंजिंग ऐप जैसे Signal और Telegram पर शिफ्ट हो रहे हैं। WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी का ऐलान 5 जनवरी को हुआ था, जिससे WhatsApp यूजर काफी नाराज हैं। साथ ही WhatsApp के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में भी याचिका दाखिल की गई है, जिसमे दावा किया गया है कि WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी भारतीय नागरिकों के राइट टू प्राइवेसी के अधिकार का उल्लंघन करती है। इसके अलावा केंद्र सरकार भी WhatsApp को पूछताछ के लिए तलब कर सकती है। ऐसे में WhatsApp के खिलाफ चौतरफा दबाव बन रहा है।  


सबसे बड़े रामभक्त: 11 करोड़ का दान करने वाले हीरा कारोबारी, जानें       आन्दोलन में शामिल इस बड़े किसान नेता को NIA ने भेजा समन       गृहमंत्री अमित शाह, कई परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन       ममता को लगेंगे अभी और झटके!       Covaxin ने सवाल उठाने पर अमेरिकी मीडिया को दिया ऐसा जवाब       सेना दिवस पर माचिस की तीलियों से बनाया टैंक, ओड़िशा के कलाकार का कमाल       राम मंदिर निर्माण के लिए अब तक किन-किन लोगों ने दिया चंदा       लड़की जैसा दिखने के लिए कराया लिंग परिवर्तन और होगा गैंगरेप       अभी अभी: राख हो गए अमेजन कर्मचारी, लाशें भी पहचानना हुआ मुश्किल       11 लोगों का काल बना ये सड़क हादसा, पीएम मोदी ने जताया दुख       किसानों का बड़ा फैसला! 26 जनवरी को नहीं होगी ट्रैक्टर रैली       टीएमसी सांसद ने कहा कि भाजपा सत्ता में आई तो मुसलमानों की उलटी गिनती शुरू हो जाएगी       अभी अभी : सरकार का बड़ा ऐलान! कर्मचारियों को तोहफा, अब होगी पैसों की बारिश       क्या बिना रजिस्ट्रेशन वैक्सीन लगवाई जा सकती है? जानें       फिर बेनतीजा रही किसान नेताओं और सरकार के बीच वार्ता       सेना ने किया कमाल, पहली बार साथ उड़े 75 ड्रोन्स       Schools in Himachal Pradesh: 15 फरवरी से तैयार रहें, हुआ ये बड़ा ऐलान       मंत्रालय ने दी ये जानकारी, वैक्सीन लगवाने से पहले जान लें साइड इफेक्ट्स       झारखंड: सोशल मीडिया पर कैंपेन चलाने वालों पर होगा एक्शन       सेना के भयानक हथियार, हिले चीन-पाकिस्तान