कर्मचारियों को बड़ा तोहफा! मोदी सरकार ने कर दिया ऐलान

कर्मचारियों को बड़ा तोहफा! मोदी सरकार ने कर दिया ऐलान

नई दिल्ली: अगर आपकी सैलरी 15 हजार रुपय से कम है या आपने लॉकडाउन में अपनी नौकरी गंवा दी है तो ये आपके लिए अच्छी खबर है। दरअसल, कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित होने के बाद औपचारिक क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने आत्‍मनिर्भर भारत रोजगार योजना को मंजूरी दे दी है।

इस योजना के तहत सरकार कंपनियों और लोगों की मदद करेगी। इसके जरिए PF खाताधारक कर्मचारियों को फायदा होगा, जिनकी सैलरी कम है। तो चलिए जानते हैं कि आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज 3.0 के तहत किन-किन लोगों को फायदा मिलेगा और इस योजना के कौन-कौन लोग लाभार्थी होंगे-

इन लोगों को मिलेगा लाभ
मोदी सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के चलते हुए आर्थिक नुकसान के बाहर निकालने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरूआत की थी, जिसमें सरकार कई फेज में लोगों की सहायता कर रही है। अब इसी अभियान के तहत सरकार ने आत्‍मनिर्भर भारत रोजगार योजना की शुरुआत की है।

इस योजना के माध्यम से सरकार औपचारिक क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने का काम किया जाएगा। इसका फायदा PF खाताधारक कर्मचारियों को फायदा मिलने वाला है। इस योजना का केवल वहीं संस्थाएं फायदा उठा सकती हैं, जो EPFO के अंतर्गत रजिस्टर्ड हैं। आत्‍मनिर्भर भारत रोजगार योजना का फायदा नई नौकरी करने वाले कर्मचारी उठा सकेंगे।


क्या है आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना?
केंद्र सरकार ने ‘आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना’ के तहत एक अक्टूबर 2020 से 30 जून 2021 तक कंपनियों और अन्य इकाइयों द्वारा नौकरी पर रखे जाने वाले नए कर्मचारियों के लिए दो साल तक रिटायरमेंट फंड (EPF) में कर्मचारी और नियोक्ता दोनों की ओर से अंशदान करेगी। यानी सरकार कर्मचारी का 12 फीसदी और नियोक्ता का 12 फीसदी दोनों का अंशदान उनके भविष्य निधि कोष (EPF) में करेगी|

ये भी उठा सकते हैं लाभ
अगर किसी कर्मचारी की सैलरी 15 हजार रुपये से कम है और उसने पहले किसी ऐसे संस्थान में काम किया था, जो 1 अक्‍टूबर, 2020 से पहले ईपीएफओ से रजिस्टर नहीं है। इसके अलावा उसके पास इस अवधि से पहले यूनिवर्सल एकाउंट नंबर (UAN) या ईपीएफ खाता नहीं था तो वो भी इस योजना का फायदा उठा सकता है।

साथ ही उसे भी इस योजना का लाभ मिलेगा, जिसके पास UAN है और मंथली सैलरी 15 हजार से कम है और उसने कोरोना काल के दौरान (एक मार्च से 30 सितंबर के बीच) नौकरी छोड़ दी है, साथ ही 30 सितंबर तक ईपीएफ के दायरे में आने वाली किसी संस्थान में नौकरी नहीं मिली है।

केंद्र की मोदी सरकार ने बुधवार को कैबिनेट बैठक में आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को मंजूरी दे दी है। इस योजना के जरिए औपचारिक क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए काम किया जाएगा।

58 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को मिलेगा फायदा
बता दें कि बुधवार को ही सरकार ने कैबिनेट बैठक में आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को मंजूरी दी है। केंद्र सरकार इस योजना पर 22,810 करोड़ रुपये खर्च करेगी। कहा जा रहा है कि इस योजना से 58 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को फायदा मिलेगा।


महंगा हुआ प्याज, इतने रुपये तक पहुंचा

महंगा हुआ प्याज, इतने रुपये तक पहुंचा

नई दिल्ली: प्याज के निर्यात पर लगी रोक को सेंट्रल गवर्नमेंट ने हटाने का फैसला लिया है। केंद्र सरकार कि तरफ से 1 जनवरी 2021 को इस रोक को हटा लिया जायेगा। इसकी सूचना मिलते ही प्याज के कीमतों में उछाल देखने को मिला है। सिर्फ दो दिनों के भीतर नासिक के लासलगांव थोक मंडी में प्याज का दाम 2500 रुपए प्रति क्विंटल हो गया। प्याज कि कीमत 28 फीसदी बढ़ गई। उससे पहले दिन करीब 2,400 रुपए प्रति क्विंटल रही है।

मंडी में दिखी प्याज कि कीमतों में इजाफा
विदेश व्यापार महानिदेशालय ने एक सूचना जारी करते हुए कहा कि ‘प्याज की सभी किस्मों का निर्यात पर लगी रोक को एक जनवरी 2021 से हटा दिया गया है। प्याज का दाम 42 फीसदी तक बढ़ा हैं। लासलगांव एपीएमसी के सचिव नरेंद्र वद्धवाने ने कहा कि लासालगांव थोक मंडी में प्याज की कीमतें औसतन 1,951 रुपए प्रति क्विंटल थीं। सूचना के बाद से इस मंडी में प्याज का दाम बढ़ता ही जा रहा हैं। नई दिल्ली में प्याज की फुटकर दामों में 25-42 फीसदी कि बढ़ोतरी हुई हैं।

3 राज्यों में होता हैं प्याज कि सबसे अधिक पैदवार
सोमवार को प्याज की फुटकर में कीमत 35-40 रुपए प्रति किलो थी। लेकिन प्याज के निर्यात पर लगी रोक हटने के बाद से धवार को बढ़कर 50 रुपए प्रति किलो हो गई है। सितंबर माह में ,सेंट्रल गवर्नमेंटने बढ़ते दामों में और घरेलू बाजार में उपलब्धता बढ़ाने के प्याज के दामों में 35-40 रुपए प्रति किलो के थीज के निर्यात को रोक दिया था। आयात- निर्यात से जुड़े मुद्दों का कामकाज वाणिज्य मंत्रालय का एक प्रभाग डीजीएफटी देखता है। प्याज कि सबसे अधिक पैदवार कर्नाटक, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश राज्य में होता हैं। प्याज निर्यातकों में अन्य देशों में से भारत शामिल हैं।


Bigg Boss 14: राखी को हुआ कैप्टन बनने का पछतावा, घरवालों के परेशान करने से टूटी हिम्मत       नेहा पेंडसे ने सीरियल में आने को लेकर तोड़ी चुप्पी, बोलीं...       Bigg Boss 14: निक्की के बिस्तर पर खाना फेंकना सोनाली फोगाट को पड़ा भारी, ट्रोलर्स ने यूं निकाला भाजपा नेता पर गुस्सा       इस एक्ट्रेस की बोल्ड फोटो हुई वायरल, कुर्सी पर बैठकर हॉट पोज देती आईं नजर       Amitabh Bachchan ने किया खुलासा, 14 साल की उम्र में बेटे अभिषेक बच्चन ने दिया था पहला ऑटोग्राफ       2021 में सोने की कीमत होगी 65000 रुपये!       नए साल में UPI ट्रांजैक्शन होगा महंगा?       Jio ने फ्री की सेवा, कस्टमर की हुई बल्ले-बल्ले       महंगा हुआ प्याज, इतने रुपये तक पहुंचा       बैंक आएगा घर! ग्राहकों को मिलेगी ये सभी सुविधाएं, जानें       सेहत के लिए फायदेमंद होता है इसका सेवन       नीम के पत्तों के सेवन से होते हैं ये फायदे, कभी नहीं होता है कैंसर       मानसिक स्वास्थ्य बिगड़ रहा है कोरोना वायरस के कारण       जलने के बाद अपनाएं ये घरेलू उपाय       लड़कियों के पीरियड्स में दर्द से राहत दिलाती है ये घरेलू उपाय       दिग्गज खिलाड़ियों के बावजूद यूपी की टीम ने झेली हार की हैट्रिक, आगे की राह हुई मुश्किल       सिर्फ चौके-छक्के से बनाए 90 रन,इस धुरंधर ने तोड़ा सबसे तेज महिला टी20 शतक का वर्ल्ड रिकॉर्ड       शिखर धवन नहीं चले फिर भी दिल्ली ने आंध्र को हराकर दर्ज की लगातार दूसरी जीत       फाइनल टेस्ट मैच के दौरान भारतीय टीम को लगा बड़ा झटका!       रोहित शर्मा ने की फिटनेस पर उंगली उठाने वालों की बोलती बंद