जिओ ने किया बड़ा ऐलान

जिओ  ने किया बड़ा ऐलान

रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के अध्यक्ष और व्यवस्था निदेशक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने शनिवार को घोषणा की है कि जियो दिसंबर 2023 तक सभी हिंदुस्तानियों के लिए 5जी सेवाएं लाएगी. पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव की उपस्थिति में भारतीय मोबाइल कांग्रेस पार्टी (IMC) 2022 के छठे संस्करण को संबोधित करते हुए अंबानी ने बोला कि जियो यह सुनिश्चित करेगी कि दिसंबर 2023 तक हर गांव 5जी सेवाओं का आनंद उठाए, जैसा कि जियो 5जी को रिलीज करने के लिए तैयार है.

2 लाख करोड़ रुपये के निवेश 

रिलायंस जियो दीपावली तक राष्ट्र के चुनिंदा शहरों में स्टैंडअलोन 5जी सेवाएं प्रारम्भ करेगी. 5जी नेटवर्क बनाने के लिए जियो ने कुल 2 लाख करोड़ रुपये के निवेश की प्रतिबद्धता जताई है. आरंभ करने के लिए, जियो चार मेट्रो शहरों- दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में 5जी सेवाएं प्रारम्भ करेगा. दिसंबर 2023 तक पूरे राष्ट्र को कवर करने के लिए इन्हें अन्य शहरों और कस्बों में तेजी से विस्तारित किया जाएगा.

चीन और अमेरिका को नेटवर्क के मुद्दे में भिड़न्त देगा भारत

अंबानी ने कहा, “जियो 5जी सेवाएं सभी को हर स्थान और हर चीज को उच्चतम गुणवत्ता और सामथ्र्य के साथ जोड़ेगी. हम चीन और अमेरिका से भी आगे हिंदुस्तान को डेटा-संचालित अर्थव्यवस्था बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.” जियो 5जी दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे उन्नत 5जी नेटवर्क होगा. अन्य ऑपरेटरों के उल्टा जियो का 5जी नेटवर्क 4जी नेटवर्क पर शून्य निर्भरता के साथ अकेला होगा.

5जी सर्विस का तीन गुना लाभ?

स्टैंडअलोन 5जी सर्विस का तीन गुना फायदा स्पेक्ट्रम और कैरियर एग्रीगेशन तकनीक का सबसे बड़ा और सबसे अच्छा मिश्रण का मतलब है कि जियो 5जी कवरेज, क्षमता, गुणवत्ता और सामर्थ्य का एक अद्वितीय संयोजन पेश करने में सक्षम होगा. स्टैंडअलोन 5जी के साथ जियो कम विलंबता, बड़े पैमाने पर मशीन-टू-मशीन संचार, 5जी वॉयस, एज कंप्यूटिंग और नेटवर्क स्लाइसिंग और मेटावर्स जैसी नयी और ताकतवर सेवाएं प्रदान कर सकता है.