कंगना की हुई बड़ी जीत, बॉम्बे हाईकोर्ट ने दिया ये बड़ा आदेश

कंगना की हुई बड़ी जीत, बॉम्बे हाईकोर्ट ने दिया ये बड़ा आदेश

अभिनेत्री कंगना रणौत बॉम्बे हाईकोर्ट ने सात और नौ सितंबर को बृह्नमुंबई महानगर पालिका द्वारा जारी किए गए नोटिस को खारिज कर दिया है। अदालत ने कंगना के कार्यालय पर की गई तोड़फोड़ को दुर्भावनापूर्ण इरादे से की गई कार्रवाई बताया है। न्यायालय ने यह भी आदेश दिया है कि कार्यालय में की गई तोड़फोड़ के कारण हुए नुकसान का पता लगाने के लिए एक वैल्यूअर (मूल्यांकन करने वाला) को नियुक्त किया जाए। अब इस फैसले पर कंगना का रिएक्शन भी सामने आया है।


कंगना रणौत ने ट्वीट कर लिखा कि कोई व्यक्ति सरकार के खिलाफ खड़ा होता है और जीतता है तो यह जीत केवल उस व्यक्ति की नहीं होती, बल्कि पूरे लोकतंत्र की होती है। मेरा हौसला बढ़ाने के लिए हर व्यक्ति को धन्यवाद। हर उस व्यक्ति का भी शुक्रिया, जो मेरे सपनों के टूटने पर हंसे थे। यह सब इसलिए हुआ, क्योंकि आप विलेन की तरह काम कर रहे थे और मैं हीरो बन गई।

उच्च न्यायालय का कहना है कि वैल्यूअर अदालत को एक रिपोर्ट सौंपेगा। इसके बाद वह कंगना रणौत को मुआवजा देने का आदेश पारित करेगा। अदालत ने अभिनेत्री से सोशल मीडिया और अन्य लोगों पर टिप्पणी करते हुए संयम बरतने को कहा है।


 
कंगना ने बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। इस पर जस्टिस एसजे कैथावाला और आरआई छागला की बेंच ने फैसला सुनाया। बीएमसी ने 9 सितंबर को कंगना के पाली हिल स्थित बंगले में बने ऑफिस के कई हिस्सों को अवैध बताते हुए तोड़ दिया था। कंगना ने बीएमसी से अवैध तोड़फोड़ के लिए दो करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है। 


 
वहीं एक और केस में कंगना रणौत के ऊपर सोशल मीडिया के माध्यम से धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में मामला दर्ज किया गया था। जिस मामले में दोनों बहनों को पुलिस के समक्ष पेश होने के लिए कई बार बुलाया गया लेकिन अब तक दोनों ही पुलिस के समक्ष पेश नहीं हुई हैं। कोर्ट ने कंगना को 8 जनवरी से पहले पुलिस के सामने पेश होने के निर्देश दिए हैं। साथ ही पुलिस को तब तक उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने के लिए भी कहा गया है।


andav Controversy के बीच सांसद ने जानें क्यों की 'मिर्जापुर' के निर्माताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग

andav Controversy के बीच सांसद ने जानें क्यों की 'मिर्जापुर' के निर्माताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग

वेब सीरीज 'तांडव' विवाद के बीच भारतीय जनता पार्टी के सेक्रेटरी और उत्तर प्रदेश के कौशांबी से लोकसभा सांसद विनोद सोनकर ने मिर्जापुर वेब सीरीज के निर्माताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग की हैl एएनआई से बात करते हुए विजय सोनकर ने कहा कि वह खुश है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 'तांडव' वेब सीरीज के खिलाफ एक्शन ले रहे हैl इसके अलावा उन्होंने मिर्जापुर के निर्माताओं के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई करने की मांग की हैl

विनोद सोनकर का दावा है कि इस वेब सीरीज के चलते क्षेत्र से जुड़े लोगों की भावनाएं आहत हुई हैl विनोद सोनकर ने एएनआई को बताया, 'मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आभारी हूं लेकिन मैं उनसे यह भी निवेदन करता हूं कि वह मिर्जापुर वेब सीरीज के निर्माताओं के खिलाफ भी कार्रवाई करेंl इसका कारण यह है कि यह वेब सीरीज मिर्जापुर के लोगों और मिर्जापुर की छवि खराब करता हैl मिर्जापुर मां विंध्यवासिनी शक्तिपीठ और कारपेट उद्योग के लिए लोकप्रिय हैंl यह हिंदुओं का प्रमुख धार्मिक स्थल भी है लेकिन निर्माताओं ने इस वेब सीरीज के माध्यम से विश्व स्तर पर इसकी छवि खराब करने की प्रयास किया है और लोगों की भावनाएं आहत की हैl'

विजय ने यह भी कहा कि मिर्जापुर के निर्माताओं पर आर्थिक दंड लगाने की आवश्यकता है और इससे आए धन से क्षेत्र का विकास होना चाहिएl इस वेब सीरीज में दर्शाया गया है कि मिर्जापुर अवैध हथियारों के व्यापार में आगे है जो कि गलत बात है।

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि उनकी सरकार अमेज़न प्राइम इंडिया की वेब सीरीज तांडव के खिलाफ एफआईआर रजिस्टर कर रही हैl इसके पहले तांडव वेब सीरीज के खिलाफ देशभर में कई एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैl इसपर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लगा है। इस वेब सीरीज में अली फजल और पंकज त्रिपाठी की अहम भूमिका थीl


तेज दिमाग पाने के लिए रोजाना इस तेल का करें इस्तेमाल       सर्दी में एलर्जी से परेशान हैं तो जानिए बचाव के उपाय       आंखो और त्वचा के लिए किसी दवा से कम नहीं है Witch Hazel, ऐसे करें इस्तेमाल       डायबिटीज के मरीज ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए स्नैक्स में खाएं ये चीजें       कोरोना के लक्षणों को घर पर ठीक करने के लिए अपनाएं ये आसान तरीके       क्या आप जानते हैं हथेली पर मौजूद इन निशानों का मतलब?       टोफू के स्क्युवर्स को तंदूरी फ्लेवर है बहुत ही लाजवाब       मिनटों में तैयार होने वाली बहुत ही स्वादिष्ट है ये दाल खिचड़ी       टेस्ट और हेल्थ दोनों के लिए स्नैक्स में बनाएं 'कैरट फ्रिटर्स'       राजस्थान की बेहद पॉपुलर ट्रेडिशनल डिश 'जैसलमेरी चना' है स्वाद का खजाना       खट्टा-मीठा स्वाद लिए हुए 'अंगूर का अचार' है बहुत ही टेस्टी और आसान       भुर्जी, स्क्रैम्बल एग से अलग आज सीखें 'मग ऑमलेट' बनाने की क्विक एंड ईजी रेसिपी       प्रोटीन रिच डाइट का बेहतरीन ऑप्शन है 'कॉलीफ्लॉवर चीज़'       डॉगी ने अपने दिव्यांग मालिक को कराई ऐसी सैर, देख आप कह उठेंगे OMG...       आपके अकाउंट में नहीं आई है सातवीं किस्त, तो यहां करें शिकायत; जानें क्या है प्रोसेस       अपने फोन से 10 मिनट में अपडेट करें अपना आधार कार्ड, जानिए ये आसान प्रॉसेस       PNB ग्राहक ध्यान दें, 1 फरवरी से इन ATM से नहीं निकाल पाएंगे पैसा       CLSS के तहत सब्सिडी, समयसीमा बढ़ाए जाने की मांग; अलग से टैक्स छूट भी चाहते हैं इंडस्ट्री के एक्सपर्ट       हेलमेट इंडस्ट्री की GST में कमी की मांग, EV इंडस्ट्री को चार्जिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर में निवेश की उम्मीद       रिजर्व बैंक ने कहा कि भारत की जीडीपी की वृद्धि दर सकारात्मक होने के बिल्कुल करीब