सर्वाइकल की परेशानी से झट से दिलाएगा राहत यह योगासन

सर्वाइकल की परेशानी से झट से दिलाएगा राहत यह योगासन

शलभासन करते समय पूरे शरीर का आकार टिड्डे या टिड्डे की संरचना जैसा लगता है इसलिए इस मुद्रा को टिड्डी मुद्रा भी कहा जाता है.शलभासन पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करने और पीठ दर्द जैसी बीमारियों को ठीक करने के लिए फायदेमंद है. शलभासन के अभ्यास कीकुल तीन विधियाँ हैं. हम इन विधियों का एकएक करके सही तरीके से करते हैं. यह आसन करने में आसान है और सभी के लिए उपयुक्त है.यह रीढ़ की हड्डी के लिए विशेष आसन है.

शलभासन की विधि (टिड्डी मुद्रा)

अपने पेट के बल लेट जाओ; दोनों हाथों को जाँघों के नीचे रखें.

आपकी ठुड्डी जमीन पर टिकी रहनी चाहिए.

इस पोजीशन में करीब दस से बीस सेकेंड तक रहें.

इसके बाद सांस छोड़ते हुए अपने पैर को शुरुआती स्थिति में नीचे ले जाएं.

इसी तरह अपने बाएं पैर से भी करें.

इसे पांच से सात बार दोहराएं.

इसे बाएं पैर से करने के बाद सांस अंदर लें और अपने दोनों पैरों को ऊपर उठाएं (आपके पैर घुटनों पर नहीं झुकना चाहिए, अपने पैरों को जितनाहो सके ऊपर उठाएं).

दोनों पैरों से इस प्रक्रिया को दो से चार बार दोहराएं.

शलभासन के लाभ

यह रीढ़ के निचले सिरे की सभी परेशानियों में लाभकारी है.

कमर दर्द और साइटिका दर्द के लिए सबसे ज्यादा मददगार है.

पेट, कमर, कूल्हों और जांघों के आसपास की चर्बी को हटाने के लिए उपयोगी है.

इस आसन के दैनिक अभ्यास से सर्वाइकल स्पॉन्डिलाइटिस और रीढ़ की हड्डी के रोग ठीक हो सकते हैं.

इसके द्वारा आप अपनी कलाई, कूल्हों, जांघों, पैरों, नितंबों, पेट के निचले हिस्से और डायाफ्राम को मजबूत कर सकते है.

पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करता है


भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस
कोविड-19 बना जानलेवा, संक्रमण से 5 रोगियों की मौत" : राष्ट्र की राजधानी में एक बार फिर कोविड-19 वायरस जानलेना बन गया है दिल्ली में एक दिन में कोविड के 648 न‌ए मुद्दे सामने आए, जबकि संक्रमण से 5 रोगियों की मृत्यु हो गई है पॉजिटिविटी दर में भी उछाल आया है कोविड-19 संक्रमण रेट 4.29 फीसदी हु‌ई पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में कोविड-19 के कुल 15103 टेस्ट किए गए और 785 रोगी ठीक हुए

 देश की राजधानी में एक बार फिर कोविड-19 वायरस जानलेना बन गया है दिल्ली में एक दिन में कोविड के 648 न‌ए मुद्दे सामने आए, जबकि संक्रमण से 5 रोगियों की मृत्यु हो गई है पॉजिटिविटी दर में भी उछाल आया है कोविड-19 संक्रमण रेट 4.29 फीसदी हु‌ई पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में कोविड-19 के कुल 15103 टेस्ट किए गए और 785 रोगी ठीक हुए फिलहाल, दिल्ली में कोविड-19 के कुल 3268 सक्रिय रोगी हैं और कंटोनमेंट जोन की संख्या घटकर 370 हो गई है

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस

भारत में पिछले 24 घंटों में 16,103 नए मुद्दे सामने आए हैं, जो एक दिन पहले के मुकाबले करीब एक हजार कम है एक्टिव मामलों की संख्या 1 लाख 11 हजार से अधिक हो गई है स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, हिंदुस्तान में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16,103 मुद्दे सामने आए हैं, वहीं 31 लोगों की मृत्यु भी हो गई है इस समय दैनिक पॉजिटिविटी रेट 4.27 प्रतिशत हो गई है जो कि पिछले दिनों के मुकाबले बढ़ी है 

कोरोना वैक्सीनेशन में हिंदुस्तान गवर्नमेंट लगातार आगे

भारत में अब तक 1 अरब 97 करोड़ से अधिक कोविड-19 की वैक्सीन लग चुकी हैं यही वजह है कि कोविड-19 के मामलों के लगातार सामने आने के बावजूद राष्ट्र की स्वास्थ्य प्रबंध पर अधिक असर नहीं पड़ा है कोविड-19 संक्रमित अधिकांश लोग घरों पर ही आईसोलेट होकर अपना उपचार करा रहे हैं