लौंग के ज्यादा सेवन से भी हो सकती है एलर्जी

लौंग के ज्यादा सेवन से भी हो सकती है एलर्जी

शरीर की कई बिमारियों का इलाज तो हमारे किचन में ही रहता है बस थोड़ा ध्यान देने की जरूरत होती है। लौंग बहुत आम मसाला हैं जिसका आम तौर पर खाना पकाने के लिए उपयोग किया जाता है। परंपरागत रूप से कई बीमारियों के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। लेकिन ज्यादा लौंग भी कुछ मामलों में हानिकारक हो सकती है।

ज्यादा लौंग खाने के नुकशान:

अगर ब्लड शुगर सामान्य स्तर से नीचे हैं, तो आपको जल्दी से लौंग के इस्तेमाल को कम करना होगा इस स्वास्थ्य की स्थिति में लौंग खाना बहुत खतरनाक है। लौंग खून में ग्लूकोज के स्तर को कम करता है।

# लौंग का ज्यादा इस्तेमाल करने से एलर्जी हो सकती है। लौंग में यूजेनॉल होता है और यह केमिकल एलर्जी का सबसे महत्वपूर्ण कारण है। लौंग की अत्यधिक मात्रा में सेवन से चकत्ते, सूजन, और पित्ती हो जाते हैं।

# लौंग का बहुत अधिक मात्रा में सेवन करने से लंबे समय तक खून बह सकता है। लौंग खून को पतला कर देता है इस वजह से ब्लीडिंग हो सकती है।


नींद न आने की समस्या से हैं बहुत ज्यादा परेशान, तो इन घरेलू नुस्खों को एक बार जरूर करें ट्राय

नींद न आने की समस्या से हैं बहुत ज्यादा परेशान, तो इन घरेलू नुस्खों को एक बार जरूर करें ट्राय

स्वस्थ शरीर के लिए जितना जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर भोजन है, उतना ही आवश्यक भरपूर नींद भी है। अच्छी नींद से दिमाग शांत और मन खुश रहता है। आंखों के नीचे काले घेरे नहीं पड़ते, त्वचा की चमक बरकरार रहती है। अगर आप नींद न आने की समस्या से परेशान हैं तो यहां दिए जा रहे टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं।

1. सिर की मालिश नींद लाने का एक कारगर उपाय है। सोने से पहले गुनगुने तेल से सिर की मालिश करें और हल्के हाथों से कनपटियों को अंगुलियों से दबाएं, कुछ ही देर में नींद आ जाएगी।


2. रात को सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने दूध में एक टीस्पून शहद मिलाकर पिएं और सुकून भरी नींद लें।

3. रोज दो टीस्पून मेथी के पत्तों के रस में एक टीस्पून शहद मिलाकर खाने से नींद न आने की समस्या दूर होती है।

4. नियमित दलिया, बादाम, अखरोट और दूध के सेवन से अच्छी नींद आती है।

5. अच्छी नींद के लिए रात में काबुली चना, केला और कीवी खाया जा सकता है।


6.  अध्ययनों के मुताबिक सोने स कुछ देर पहले चेरी खाने से सुकूनभरी नींद आती है। दिन में दो बार एक कप चेरी का जूस पीना भी फायदेमंद होता है।

7. केले में मौजूद पोटैशियम और मैग्नीशियम मांसपेशियों को तनावमुक्त करता है, जिससे नींद अच्छी आती है। इसलिए रात को नींद न आने पर कटे हुए केले पर भुना-पिसा जीरा छिड़कर खाना चाहिए।

8. शरीर में मैग्नीशियम की कमी अनिद्रा के लिए जिम्मेदार होती है। बादाम में अच्छी मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है, इसलिए सुकूनभरी नींद के लिए हर रोज 8-10 बादाम खाएं।

9. दूध में हल्दी या जायफल मिलाकर पीने से नींद से दोस्ती हो सकती है।

10. गहरी नींद के लिए रात को सोने से पहले एक ग्लास दूध में आधा टीस्पून दालचीनी पाउडर मिला सकते हैं।

11. एक ग्लास दूध में केसर के दो धागे मिलाकर पीने से गहरी नींद आती है।

12. सोने से पहले जीरे की चाय पीने या एक ग्लास दूध में एक टीस्पून जीरा पाउडर और एक केला मसल कर खाने से नींद अच्छी आती है।