चॉकलेट्स के शौकीन जानें इसके फायदे

चॉकलेट्स के शौकीन जानें इसके फायदे

 अक्सर आपने सुना होगा कि चॉकलेट्स खाने से दांत खराब हो जाएंगे, लेकिन यदि आपको चॉकलेट्स खाना पसंद है तो ये समाचार आपके लिए है क्योंकि आज हम आपको बताएंगे कि चॉकलेट्स के क्या लाभ हैं चॉकलेट्स न सिर्फ आपके स्वाद को बदल सकती है बल्कि आपको कई तरह की रोंगों से भी बचा सकती है आज बाजार में अनेक तरह की चॉकलेट उपस्थित हैं इन्हीं में से एक वैराइटी है ‘डार्क चॉकलेट’ दरअसल ‘डार्क चॉकलेट’ कोको बीन्स से बनाई जाती है बता दें कि मिल्क चॉकलेट की तुलना में डार्क चॉकलेट में 50 से 90 फीसदी अधिक कोका सॉलिड, कोको बटर और शुगर होती है ऐसी चॉकलेट्स में आयरन, कॉपर, फ्लेवनॉल्स, जिंक और फॉस्फोरस जैसे न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो आपकी स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी माने जाते हैं 

दिल रहेगा मेंटेन

डार्क चॉकलेट दिल को स्वस्थ रखने के लिए बहुत लाभकारी होती है एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की एक स्‍टडी के अनुसार, डार्क चॉकलेट में एपिकेटचिन, कैटेचिन और प्रोसायनिडिन जैसे फ्लेवनॉल्स होते हैं इसलिए ये आपके दिल के लिए लाभकारी हो सकती है 

डिप्रेशन से लड़ने में मददगार
आज के समय में लगभग हर कोई किसी न किसी वजह से उदास रहता है डिप्रेशन के लक्षणों में मूड में बदलाव, उदास, क्रोधित और चिड़चिड़ा महसूस करना शामिल है बता दें कि ऐसे में डार्क चॉकलेट इस परेशानी से बचने या मूड को ठीक करने में मददगार हो सकती है 

कोलेस्ट्रॉल लेवल रहता है मेंटेन 
डार्क चॉकलेट से बैड कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम होता है साथ ही ये गुड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को मेंटेन रहता है 

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर
आप जानते हैं ही होंगे कि शरीर को रोंगों से बचाने और हेल्‍दी रखने के लिए एंटीऑक्सीडेंट बहुत महत्वपूर्ण होते हैं बता दें कि डार्क चॉकलेट में भी एंटीऑक्सीडेंट के गुण उपस्थित हैं डार्क चॉकलेट में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होने के कारण इसे खाने से आप कई रोंगों से निजात पा सकते हैं 

सर्दी-जुकाम से बचाए
बदलते मौसम के साथ हल्की-फुल्की बीमारियां लगी रहती हैं सर्दी-जुकाम भी उन्हीं में से एक है ऐसे में सर्दी-जुकाम से बचाव के लिए डार्क चॉकलेट का सेवन किया जा सकता है दरअसल, डार्क चॉकलेट में थियोब्रोमाइन नाम का एक केमिकल सब्‍सटेंस होता है ये सर्दी जुकाम से लड़ने में कारगर साबित हो सकता है

डार्क चॉकलेट के नुकसान

-इनसोम्निया
-सिरदर्द या माइग्रेन
-डिहाइड्रेशन
-चिंता
-अनकंफर्टेबल फील करना
-वजन बढ़ना
-रैपिड हार्ट रेट

डार्क चॉकलेट आपके लिए कम मात्रा में सेवन करने से लाभकारी है, लेकिन अधिक सेवन से ये आपके लिए हानिकारक भी हो सकती है इसके अतिरिक्त चॉकलेट खाने के बाद यदि आपको ऊपर बताई गई किसी भी तरह की परेशानी है तो इसका सेवन तुरंत बंद कर दें


भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस
कोविड-19 बना जानलेवा, संक्रमण से 5 रोगियों की मौत" : राष्ट्र की राजधानी में एक बार फिर कोविड-19 वायरस जानलेना बन गया है दिल्ली में एक दिन में कोविड के 648 न‌ए मुद्दे सामने आए, जबकि संक्रमण से 5 रोगियों की मृत्यु हो गई है पॉजिटिविटी दर में भी उछाल आया है कोविड-19 संक्रमण रेट 4.29 फीसदी हु‌ई पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में कोविड-19 के कुल 15103 टेस्ट किए गए और 785 रोगी ठीक हुए

 देश की राजधानी में एक बार फिर कोविड-19 वायरस जानलेना बन गया है दिल्ली में एक दिन में कोविड के 648 न‌ए मुद्दे सामने आए, जबकि संक्रमण से 5 रोगियों की मृत्यु हो गई है पॉजिटिविटी दर में भी उछाल आया है कोविड-19 संक्रमण रेट 4.29 फीसदी हु‌ई पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में कोविड-19 के कुल 15103 टेस्ट किए गए और 785 रोगी ठीक हुए फिलहाल, दिल्ली में कोविड-19 के कुल 3268 सक्रिय रोगी हैं और कंटोनमेंट जोन की संख्या घटकर 370 हो गई है

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस

भारत में पिछले 24 घंटों में 16,103 नए मुद्दे सामने आए हैं, जो एक दिन पहले के मुकाबले करीब एक हजार कम है एक्टिव मामलों की संख्या 1 लाख 11 हजार से अधिक हो गई है स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, हिंदुस्तान में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16,103 मुद्दे सामने आए हैं, वहीं 31 लोगों की मृत्यु भी हो गई है इस समय दैनिक पॉजिटिविटी रेट 4.27 प्रतिशत हो गई है जो कि पिछले दिनों के मुकाबले बढ़ी है 

कोरोना वैक्सीनेशन में हिंदुस्तान गवर्नमेंट लगातार आगे

भारत में अब तक 1 अरब 97 करोड़ से अधिक कोविड-19 की वैक्सीन लग चुकी हैं यही वजह है कि कोविड-19 के मामलों के लगातार सामने आने के बावजूद राष्ट्र की स्वास्थ्य प्रबंध पर अधिक असर नहीं पड़ा है कोविड-19 संक्रमित अधिकांश लोग घरों पर ही आईसोलेट होकर अपना उपचार करा रहे हैं