जानें क्या है "स्वाइन फ्लू" के लक्षण और रोकने के उपाय

जानें क्या है "स्वाइन फ्लू" के लक्षण और रोकने के उपाय

"स्वाइन फ्लू" एक खतरनाक मौसमी बीमारी है। इसके वायरस का नाम H1N1 है, ये वायरस मौसमी फ्लू के साथ भी तेज़ी से फैलता है। इस वर्ष राजधानी में स्वाइन फ्लू के कुल 303 केस दर्ज हुए, जिसमें मरने वालों की संख्या सिर्फ 2 है। वहीं राजस्थान में 407 मामले दर्ज हुए हैं जिनमें 59 मौतें हुई हैं।

- शरीर में खून की कमी को दूर करता है मिश्री और इलायची वाला दूध

"स्वाइन फ्लू" के लक्षण:

नाक का लगातार बहना, छींक आना, नाक जाम होना।

मांसपेशियां में दर्द या अकड़न महसूस करना।

सिर में भयानक दर्द रहना।

कफ और ज़ुकाम का बने रहना , लगातार खांसी आना।

नींद ना आना, बहुत ज्यादा थकान महसूस होना।

बुखार होना, दवा खाने के बाद भी बुखार का लगातार बढ़ना।

गले में लगातार खराश होना।

स्वाइन फ्लू को रोकने के उपाय:

बाहर से घर आने पर हाथ धोना एक अच्छी आदत मानी जाती है तो साबुन से अपने हाथों को ठीक से धोएं, खासकर तब जब आप किसी भीड़ भरी जगह से वापस आएं।

जब आपको  खांसी या छींक आए, तो अपनी नाक और मुंह को तुरंत कवर कर लें। इससे वायरस को फैलने से रोका जा सकता है।

अपने नाक, आंखों और मुंह को अपने हाथों से छूने से बचें। इन तीन जगहों से संक्रमण होने का सबसे अधिक खतरा होता है। 

जब आप घर से बाहर निकलें तो, मास्क का उपयोग करना एक अच्छी बात होती है। इससे न केवल आप धूल से खुद को सुरक्षित करेंगें बल्कि ये संक्रमण को रोकने में भी मददगार है।

खूब पानी और तरल पदार्थों का सेवन करें। इससे आप हाइड्रेटेड रहते हैं और वायरस रोकने में मदद मिलती है।


नीम के पत्तों के सेवन से होते हैं ये फायदे, कभी नहीं होता है कैंसर

नीम के पत्तों के सेवन से होते हैं ये फायदे, कभी नहीं होता है कैंसर

नीम कई बीमारियों के इलाज में कामयाब है। नीम को आयुर्वेद में ‘सर्व रोग निवारिणी’ का नाम दिया गया है। चाहें पेट की समस्या हो या त्‍वचा की नीम आपको हर रोग से आसानी से छुटकारा दिला सकता है। वैस तो नीम स्वाद में कड़वा होता है परंतु यह आपके शरीर को ठंडा है और पित्‍त और कफ दोषों से आपके बचाने में मदद करता है।

नीम के सेवन के फायदे:

अगर आप मुंहासे की समस्या से परेशान हैं तो नीम आपके लिए बेहद लाभकारी है। नीम में जीवाणुरोधी गुण पाया जाता है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण मुंहासों के दाग और निशान को हटाने में मदद करते हैं।

नीम के पत्ते प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया में सुधार करके कैंसर के उपचार में सहायक होते हैं। यह शरीर में मुक्त कणों को खत्म करते हैं और कोशिका विभाजन कर सूजन को कम करते हैं।

नीम की दातुन करने से आपके दांतों और मसूड़ों की सभी समस्‍याएं खत्‍म हो सकती हैं। नीम में एंटीमाइक्रोबायल गुण पाए जाते हैं जो बदबू, दांतों का पीलापन, मुंह के अल्सर और पायरिया जैसे रोगों को खत्‍म करने में सहायक हैं।


Bigg Boss 14: राखी को हुआ कैप्टन बनने का पछतावा, घरवालों के परेशान करने से टूटी हिम्मत       नेहा पेंडसे ने सीरियल में आने को लेकर तोड़ी चुप्पी, बोलीं...       Bigg Boss 14: निक्की के बिस्तर पर खाना फेंकना सोनाली फोगाट को पड़ा भारी, ट्रोलर्स ने यूं निकाला भाजपा नेता पर गुस्सा       इस एक्ट्रेस की बोल्ड फोटो हुई वायरल, कुर्सी पर बैठकर हॉट पोज देती आईं नजर       Amitabh Bachchan ने किया खुलासा, 14 साल की उम्र में बेटे अभिषेक बच्चन ने दिया था पहला ऑटोग्राफ       2021 में सोने की कीमत होगी 65000 रुपये!       नए साल में UPI ट्रांजैक्शन होगा महंगा?       Jio ने फ्री की सेवा, कस्टमर की हुई बल्ले-बल्ले       महंगा हुआ प्याज, इतने रुपये तक पहुंचा       बैंक आएगा घर! ग्राहकों को मिलेगी ये सभी सुविधाएं, जानें       सेहत के लिए फायदेमंद होता है इसका सेवन       नीम के पत्तों के सेवन से होते हैं ये फायदे, कभी नहीं होता है कैंसर       मानसिक स्वास्थ्य बिगड़ रहा है कोरोना वायरस के कारण       जलने के बाद अपनाएं ये घरेलू उपाय       लड़कियों के पीरियड्स में दर्द से राहत दिलाती है ये घरेलू उपाय       दिग्गज खिलाड़ियों के बावजूद यूपी की टीम ने झेली हार की हैट्रिक, आगे की राह हुई मुश्किल       सिर्फ चौके-छक्के से बनाए 90 रन,इस धुरंधर ने तोड़ा सबसे तेज महिला टी20 शतक का वर्ल्ड रिकॉर्ड       शिखर धवन नहीं चले फिर भी दिल्ली ने आंध्र को हराकर दर्ज की लगातार दूसरी जीत       फाइनल टेस्ट मैच के दौरान भारतीय टीम को लगा बड़ा झटका!       रोहित शर्मा ने की फिटनेस पर उंगली उठाने वालों की बोलती बंद