Diabesity Pandemic के लिए वरदान है पेगन डाइट, ऐसे करें फॉलो

Diabesity Pandemic के लिए वरदान है पेगन डाइट, ऐसे करें फॉलो

वर्तमान समय में  पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से जूझ रही है। इसके चलते लोगों को ध्यान अन्य बीमारियों पर कम है। हालांकि, कई ऐसी बीमारियां हैं जो महामारी का रूप ले चुकी है। इनमें एक डायबिटीज है। विश्व महुमेह संघ की एक रिपोर्ट की मानें तो 2045 तक डायबिटीज के मरीजों की संख्या 69 करोड़ पहुंच सकती है। वहीं, भारत में डायबिटीज के मरीजों की संख्या अन्य देशों की तुलना में सबसे अधिक है। इसके लिए भारत को डायबिटीज बीमारी की राजधानी कहा जाता है। यह गंभीर चिंता का विषय है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने साल 2016 में विश्व स्वास्थ्य दिवस पर Diabesity पर एक रिपोर्ट पेश किया था। इस रिपोर्ट में बताया गया था कि साल 1980 के बाद डायबिटीज के मरीजों की संख्या में नाटकीय ढंग से इजाफा हो रहा है। इसका मुख्य कारण मोटापे को बताया गया है। इसके लिए WHO ने सभी विश्व के सभी देशों से अनुरोध किया है कि डायबिटीज के मरीजों के उपचार हेतु उत्तम स्वास्थ्य व्यवस्था स्थपित की जाए।


विशेषज्ञों की मानें तो डायबिटीज से बचाव के लिए सबसे पहले दिनचर्या और डाइट में सुधार की जरूरत है। अनुचित आहार और दिनचर्या से डायबिटीज, स्ट्रोक, किडनी फेलियर, मोटापा और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। एक बार बीमारी हो जाती है, तो फिर लंबे समय तक साथ रहती है। वहीं, डायबिटीज तो ताउम्र साथ रहती है। इसके लिए जरूरी है कि जीवन में सेहत को प्राथमिक स्थान दें। जबकि, मोटापा और डायबिटीज से बचाव के लिए पेगन डाइट का सहारा लिया जा सकता है।

www.researchgate.net पर छपी एक शोध में पेगन डाइट को मोटापा और डायबिटीज के लिए वरदान बताया गया है। इस शोध में यह जानकारी दी गई है कि Diabesity Pandemic के नियंत्रण में पेगन डाइट अहम भूमिका निभा सकती है। अगर आपको पेगन डाइट के बारे में नहीं पता है, तो आइए जानते हैं-


पेगन डाइट क्या है

यह पैलियो डाइट और वेगन डाइट पर आधारित मिश्रित डाइट है। इस डाइट में मांस, मछली, फल और सब्जियां खाने की सलाह दी जाती है। वहीं, चाय, कॉफी, चीनी, अधिक नमक, साबुत अनाज खाने की मनाही होती है। इस डाइट के सेवन से वजन घटाने में मदद मिलती है। साथ ही पेगन डाइट ब्लड लेवल को नियंत्रित रखती है। अगर आप बढ़ते वजन से परेशान हैं और मोटापे को कंट्रोल करना चाहते हैं, तो पेगन डाइट का सहारा ले सकते हैं। इस डाइट को फॉलो करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।


डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


कोरोना वैक्सीन के दूसरे चरण की आज से हो रही है शुरूआत, जानें

कोरोना वैक्सीन के दूसरे चरण की आज से हो रही है शुरूआत, जानें

एक मार्च मतलब आज से कोरोना वैक्सीन के दूसरे चरण की शुरूआत हो रही है। जिसमें 60+ बुजुर्गों और 45 पार के बीमारों को टीका लगना है। दूसरे दौर में 27 करोड़ लोगों को लगना है टीका। कोरोना वायरस का टीका लगवाने के लिए पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। तो क्या है इसका पूरा प्रोसेस और व्यवस्था, जानेंगे इससे जुड़ी हर एक जरूरी जानकारी।इस तरह कराना होगा रजिस्ट्रेशन

टीका लगवाने का सबसे पहला स्टेप रजिस्ट्रेशन है। इसके लिए 4 विकल्प हैं। पहला है कोविन 2.0 पोर्टल (CO-Win 2.0 portal) जिस पर आप अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। जिसका लिंक आपको आरोग्य सेतु एप पर भी मिल जाएगा।आरोग्य सेतु एप से इस वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। आरोग्य सेतु से भी सेंटर और स्लॉट की बुकिंग की जा सकती है। दूसरा ऑप्शन है सीधे COWIN.GOV.IN की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कराना। तीसरा ऑप्शन है आसपास के किसी कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन कराना। 60 से ज्यादा उम्र वाले लोगों की सुविधा के लिए सरकार ने चौथा ऑप्शन भी दिया है। जहां ऐसे लोग फोन से भी रजिस्‍ट्रेशन करा सकते हैं। इसके लिए कॉल सेंटर का नंबर 1507 डायल कर रजिस्ट्रेशन से संबंधित हर एक जानकारी प्राप्त की जा सकती है।


रजिस्ट्रेशन के स्टेप्स

अगर आपके घर में बुजुर्ग या कोई 45 पार का बीमार व्यक्ति है तो उसे इस चरण में टीका जरूर लगवाएं।

- रजिस्ट्रेशन कराने के लिए CO-Win ऐप या वेबसाइट पर जाएं।

- यहां अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें, इसके बाद आपके नंबर एक OTP आएगा। इस OTP को दर्ज करने के बाद आपका अकाउंट बन जाएगा।

- इसके बाद नाम, उम्र, लिंग के साथ कुछ और जानकारी देनी होती है।


- कोई एक फोटो पहचान पत्र भी अपलोड करना होगा।

- अब आपको किस सेंटर पर टीका लगवाना है और किस तारीख को लगवाना है, ये दर्ज करना होगा।

- 60 पार के लोगों को सिर्फ पहचान पत्र दिखाना होगा।

- अगर आप 45 साल से ज्‍यादा की उम्र के हैं और को-मॉर्बिडिटी है तो उसका सर्टिफिकेट अपलोड करना होगा।

- सरकारी सेंटर पर मुफ्त, प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीनेशन के लिए देने होंगे 250 रूपए।


खत्म हुई अब दूरी, लोगों को पहली बार मिली ये सेवा       75 फीसदी आरक्षण, हरियाणा से पलायन कर सकते हैं उद्योग       ‘Aruvi’ के हिन्दी रीमेक में नजर आएंगी फातिमा सना शेख, कहा...       Virat Kohli अनुष्का शर्मा की हाइट को लेकर थे परेशान, जानें       Shweta Tiwari पलक तिवारी और रेयांश के साथ आई नजर       सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ नजर आएंगी रश्मिका मंदाना, Mission Majnu की शूटिंग लखनऊ में हुई शुरू       इस एक्टर के निधन की ख़बर सुनकर इसलिए सुन्न पड़ गये थे अभिषेक कपूर       Saif Ali Khan ने कोविड-19 वैक्सीन की ली डोज       इस एक्ट्रेस के बॉयफ्रेंड ने खेल मंत्री किरण रिजिजू से आयकर छापे मामले में मांगी मदद       क्या ‘इंडियन आइडल 12’ बंद होने जा रहा है? शो को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा       जेपी दत्ता और बिंदिया गोस्वामी की बेटी निधि जयपुर में कर रहीं शादी       ‘Liger’ का गोवा शेड्यूल हुआ पूरा, इस एक्ट्रेस ने शेयर किए पार्टी के फोटो       आज है श्री राम की भक्त माता शबरी की जयंती, जानें       आज है फाल्गुन मास की कालाष्टमी, इस मुहूर्त में करें पूजा       भगवान शिव ने स्वयं बताई है महाशिवरात्रि व्रत की महिमा, जानें       कैसे हुई थी माता शबरी की प्रभु श्री राम से मुलाकात       मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार को जरुर करें ये उपाय       इस महाशिवरात्रि करें ये दो कार्य, आप पर होगी भगवान शिव की कृपा       कालाष्टमी आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल       भगवान शिव ने क्यों लिया अर्धनारीश्वर अवतार, हमारे और आप से जुड़ा है कारण