दिल्ली में कुछ उपद्रवी तत्व भड़का रहे हिंसा : किशन रेड्डी       सांस्कृतिक प्रोग्राम से भटकी मेलानिया ट्रंप की नजरे       राजीव शुक्ला ने गौतम गंभीर को लेकर बड़ा बयान       इल्तिजा मुफ़्ती का तंज, कहा- दिल्ली जल रही, लेकिन...       इन ​अधिकारियों पर मुकदमा हुआ दर्ज, भ्रष्टाचार के विरूद्ध मुख्यमंत्री योगी का जीरो टालरेंस       भीमा कोरेगांव मुद्दे में शरद पवार से की जाएगी पूछताछ       दिल्ली हिंसा पर मनोज तिवारी ने कहा कि भड़काने वालों को चिन्हित किया जाए       दिग्विजय मुझसे अभिव्यक्ति का अधिकार नहीं छीन सकते : भाजपा प्रवक्ता कोठारी       कपिल मिश्रा ने कहा कि ओवैसी मुझे गाली दे रहा है, क्योंकि मैंने आतंक के विरूद्ध बोलने का साहस किया       बिहार विधानसभा में CAA-NRC पर हंगामा, मुख्यमंत्री नितीश बोले...       सीएस प्रोफेशनल व एग्जीक्यूटिव के परिणाम घोषित, यहां देखें रिजल्ट       495 पदों के लिए निकली भर्ती, सैलेरी 1.77 लाख रुपए       कर्मचारी चयन आयोग के 1355 पदों पर भर्ती, जल्द से जल्द करें आवेदन       ऐसे करें इम्तिहान की तैयारी, गारंटेड होगा सिलेक्शन       उपनिरीक्षक, हेड कांस्टेबल पदों के लिए निकली भर्ती, फटाफट करें अप्लाई       इस दिन जारी होंगे राजस्थान बोर्ड 10वीं के एडमिट कार्ड       लाइब्रेरियन समेत कई भर्ती इम्तिहान की तिथि जारी       8वीं पास के लिए निकली बम्पर सरकारी नौकरी, जल्द करें आवेदन       आज ssc.nic.in पर जारी होगा एसएससी सीएचएसएल रिजल्ट       11 बड़ी भर्तियों में फंसे हुए हैं 1.60 लाख पद, देखें पूरी लिस्ट      

गर्भवती महिलाओं को करना चाहिए इन फलों का सेवन

गर्भवती महिलाओं को करना चाहिए इन फलों का सेवन

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अपने खानपान का विशेष ध्यान रखना आवश्यक होता है।गर्भवती महिलाओं के इस अवस्था में लिए गए खानपान का असर पैदा होने वाले नवजात के स्वास्थ्य पर भी दिखाई देता है इसलिए आज हम आपको गर्भावस्था के दौरान कुछ ऐसे फलों के सेवन करने की जानकारी देने वाले है जिनसे आपका नवजात बच्चा हेल्दी और तंदुरूस्त रहेगा।इसके अलावा फलों का सेवन मां और बच्चा दोनों को स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा रहता है।

ताजे फलों में विटमिन्स और न्यूट्रिएंट्स की मात्रा भी अधिक पाई जाती है जिनसे की होेने वाले बच्चे के साथ मां को भी जरूरी पोषक तत्व आसानी प्राप्त हो जाते है।इसलिए प्रेगनेंसी के दौरान अनहेल्दी खाने की बजाए फ्रूट्स खाना लाभकारी होता है।गर्भवती महिलाओं को कीवी फल का सेवन करना बेहद फायदेमंद माना गया है।

इसके अलावा आप केला भी खा सकती है क्योकि इसमें पाएं जाने वाले पोटैशियम, मैग्नीशियम और फॉलेट से नवजात बच्चा स्वस्थ रहता है और गर्भवती स्त्री के जी मिचलाने की समस्या भी दूर होती है। गर्भावस्था में आप चीकू का सेवन कर चक्कर आना और जी मिचलाने जैसी समस्या से बच सकती है।

चीकू आपके पेट से जुड़ी बीमारियां को दूर करने में भी मदद करता है।गर्भवती महिलाएं विटमिन ए, सी और फाइबर से भरपूर सेब का सेवन कर होने वाले बच्चे में किसी भी तरह की एलर्जी की समस्यां को दूर कर सकती है।

इसके अलावा अनार में भी विटमिन के, कैल्शियम, प्रोटीन, आयरन अधिक मात्रा में पाया जाता है जो कि गर्भवती महिलाओं को भरपूर अनार उर्जा प्रदान करने वाला है और नवजात बच्चे की हड्डियों को मजबूत बनाने में भी मददगार होता है।


क्या आपको पता हैं उल्टी-दस्त और कब्ज में हरड़ के इस्तेमाल से मिलती है राहत

क्या आपको पता हैं उल्टी-दस्त और कब्ज में हरड़ के इस्तेमाल से मिलती है राहत

हरड़ पाचन तंत्र को मजबूत बनाती है. साथ ही यह शरीर को डिटॉक्स कर वजन घटाने में भी मदद करती है. इसमें कई प्रकार के एसिडिक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं. इसमें कई अन्य अघुलनशील पदार्थ भी होते हैं. इसमें 18 प्रकार के अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं.


उल्टी-दस्त से मिलता आराम

बुखार, पेट फूलना, उल्टी-दस्त, गैस बनना व बवासीर जैसी समस्याओं में इसका इस्तेमाल किया जाता है. हरड़ का चूर्ण व शहद का इस्तेमाल करने से उल्टी-दस्त में आराम मिलता है.
कब्ज में राहत

हरड़ में गैलिक एसिड पाया जाता है जो रक्त में प्लाज्मा इंसुलिन बढ़ाकर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है. कब्ज के लिए चुटकीभर हरड़ चूर्ण को नमक के साथ खाना चाहिए. इसे लौंग या दालचीनी के साथ लें. दस्त की समस्या में हरड़ की चटनी बनाकर दिन में 3-4 बार खाने से दस्त में आराम मिलता है.
जरूर बरतें सावधानी

कमजोर शरीर, अवसादग्रस्त आदमी तथा गर्भवती स्त्रियों को इसका इस्तेमाल करने से बचना चाहिए. इसको बिना आयुर्वेद विशेषज्ञ से परामर्श के नहीं लें.

Loading...