सेहत के लिए अलसी है बहुत फायदेमंद,इसके सेवन से मिलेगी राहत

सेहत के लिए अलसी है बहुत फायदेमंद,इसके सेवन से मिलेगी राहत

 आपके दिल की अच्छी स्वास्थ्य के लिए अलसी को बहुत लाभकारी माना गया है अलसी के बीजों को तीसी या फ्लेक्स सीड्स भी कहते है इन बीजों को सुपरफूड भी बोला जाता है वास्तविक के उपयोग से मोटापे को कंट्रोल कर सकते है इसके अतिरिक्त वास्तविक के सेवन से कई तरह के लाभ हैं क्लिनिकल स्टडीज के मुताबिक, हाई ब्लड प्रेशर (High BP) को कम करने में भी वास्तविक के बीज बहुत कारगर हैं  

असली को कई भारतीय परिवारों में मुखवास के तौर पर उपयोग किया जाता है इसे खाने के उपाय सबका भिन्न-भिन्न है कोई इसे भूनकर चबाता है, तो कोई सौंफ या तिल के साथ मिक्स करके इसका सेवन करते हैं आज हम आपको वास्तविक के उपयोग का ठीक उपाय बता रहे हैं 

सेहत के लिए अलसी है बहुत फायदेमंद
असली के बीजों में लगभग 35 प्रतिशत फाइबर होता है प्रतिदिन सिर्फ 10 ग्राम बीजों को कंज्यूम किया जाए, तो हमारे शरीर के लिए महत्वपूर्ण प्रोटीन, फाइबर, ओमेगा-3 फैटी एसिड्स और कई अहम विटामिन्स और मिनरल्स मिल सकते हैं अलसी एंटीऑक्सीडेंट होने के साथ-साथ एंटी इंफ्लेमेटरी भी है वास्तविक माइक्रो और मैक्रो न्यूट्रिएंट्स का खजाना है 

अलसी को भून कर ठंडा होने पर हल्का कूट लें
इस तरह खाने से इसका भरपूर लाभ मिले दरअसल, इसके बीज का आवरण सख्त होता है, जिसे हमारा पेट गला नहीं पाता है कूटकर या फिर पीसकर इसके पाउडर का सेवन किया जाए, तो ये सरलता से शरीर से मिल जाता है वास्तविक को तवे पर हल्का भून लें और खलबत्ते में कूटकर पाउडर तैयार कर लें इसका स्वाद बढ़ाने के लिए आप चाहे तो इसमें हल्का सा काला नमक भी मिला सकते हैं

दिनभर में 3 से 4 चम्मच इस पाउडर का आप सेवन कर सकते हैं हार्ट से जुड़ी परेशानी, हाई ब्लड प्रेशर या फिर वजन कम करना हो इन सब समस्याओं में यह पाउडर लाभ पहुंचाएगा अलसी के बीजों में पाया जाने वाला ओमेगा-3 हार्ट के लिए बहुत अच्छा माना जाता है अलसी के बीजों में एल्फा लीनोलिक एसिड पाया जाता है यह आपके दिल की हेल्थ के लिए बहुत महत्वपूर्ण है 

भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं फाइबर्स
अलसी में फाइबर प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं ये फाइबर्स सॉल्युबल और इनसॉल्युबल दोनों तरह के होते हैं सॉल्युबल फाइबर पेट में जाकर पाचन की प्रोसेस को स्लो-डाउन करते हैं, पानी को सोखते हैं, जिससे आपकी फूड क्रेविंग्स कम हो जाती है इसका सीधा असर आपके मोटापे पर पड़ता है और यही सीधा असर डायबेटिक्स को भी मिलता है, ब्लड शुगर रेगुलेट होता है

इनसॉल्युबल फाइबर पचते नहीं हैं, लेकिन उन सूक्ष्मजीवों के लिए बढ़िया चीज हैं जो आपके पेट की स्वास्थ्य को अच्छा रखते हैं इससे आपका पाचन तंत्र भी संतुलित रहता है अलसी का पाउडर आईबीएस और कॉन्स्टिपेशन की कठिनाई में लोगों को लाभ पहुंचाता है

इन उपायों से भी कर सकते हैं इस्तेमाल
अलसी कई समस्याओं का निवारण है आप महंगे ऑलिव ऑइल की स्थान अलसी के ऑयल का उपयोग कर सकते हैं फ्लेक्स सीड्स ऑइल कम खर्चीला होने के साथ-साथ गुणों का खजाना है इसी तरह चिया सीड्स के बजाए अलसी  के बीजों का सेवन कर सकते हैं

अगर आपको अलसी के बीजों का पाउडर बनाना हो, तो आप इसे एकदम भी ग्राउंड न करें, खलबत्ते में कूटकर ही तैयार करें इस पाउडर को आप बटरमिल्क, दूध या फिर गुनगुने पानी में मिलाकर पीएं आप चाहे तो इसे सीधे तौर पर भी खा सकते हैं 


भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस
कोविड-19 बना जानलेवा, संक्रमण से 5 रोगियों की मौत" : राष्ट्र की राजधानी में एक बार फिर कोविड-19 वायरस जानलेना बन गया है दिल्ली में एक दिन में कोविड के 648 न‌ए मुद्दे सामने आए, जबकि संक्रमण से 5 रोगियों की मृत्यु हो गई है पॉजिटिविटी दर में भी उछाल आया है कोविड-19 संक्रमण रेट 4.29 फीसदी हु‌ई पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में कोविड-19 के कुल 15103 टेस्ट किए गए और 785 रोगी ठीक हुए

 देश की राजधानी में एक बार फिर कोविड-19 वायरस जानलेना बन गया है दिल्ली में एक दिन में कोविड के 648 न‌ए मुद्दे सामने आए, जबकि संक्रमण से 5 रोगियों की मृत्यु हो गई है पॉजिटिविटी दर में भी उछाल आया है कोविड-19 संक्रमण रेट 4.29 फीसदी हु‌ई पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में कोविड-19 के कुल 15103 टेस्ट किए गए और 785 रोगी ठीक हुए फिलहाल, दिल्ली में कोविड-19 के कुल 3268 सक्रिय रोगी हैं और कंटोनमेंट जोन की संख्या घटकर 370 हो गई है

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16 हजार से अधिक केस

भारत में पिछले 24 घंटों में 16,103 नए मुद्दे सामने आए हैं, जो एक दिन पहले के मुकाबले करीब एक हजार कम है एक्टिव मामलों की संख्या 1 लाख 11 हजार से अधिक हो गई है स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, हिंदुस्तान में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 16,103 मुद्दे सामने आए हैं, वहीं 31 लोगों की मृत्यु भी हो गई है इस समय दैनिक पॉजिटिविटी रेट 4.27 प्रतिशत हो गई है जो कि पिछले दिनों के मुकाबले बढ़ी है 

कोरोना वैक्सीनेशन में हिंदुस्तान गवर्नमेंट लगातार आगे

भारत में अब तक 1 अरब 97 करोड़ से अधिक कोविड-19 की वैक्सीन लग चुकी हैं यही वजह है कि कोविड-19 के मामलों के लगातार सामने आने के बावजूद राष्ट्र की स्वास्थ्य प्रबंध पर अधिक असर नहीं पड़ा है कोविड-19 संक्रमित अधिकांश लोग घरों पर ही आईसोलेट होकर अपना उपचार करा रहे हैं