इस दिन जारी होंगे राजस्थान बोर्ड 10वीं के एडमिट कार्ड       लाइब्रेरियन समेत कई भर्ती इम्तिहान की तिथि जारी       8वीं पास के लिए निकली बम्पर सरकारी नौकरी, जल्द करें आवेदन       आज ssc.nic.in पर जारी होगा एसएससी सीएचएसएल रिजल्ट       11 बड़ी भर्तियों में फंसे हुए हैं 1.60 लाख पद, देखें पूरी लिस्ट       इसरो यंग साइंटिस्ट प्रोगाम युविका 2020: आवेदन की अंतिम तिथि जानें       साइबर अपराध कंसल्टेंट के पदों पर भर्तियां, करें आवेदन       उन्नीस हजार से अधिक पद रिक्त, यहां जानेें पूरा विवरण       Indian Navy MR Result 2020 आधिकारिक वेबसाइट पर जारी       Sarkari Naukri 2020 Updates: UPSC और SSC ने हजारों पदों पर निकाली भर्ती       पीयू प्रारम्भ करेगा चार वर्षीय होटल मैनेजमेंट एवं टूरिज्म कोर्स       RBSE 8वीं बोर्ड इम्तिहान 14 मार्च से इस तरह से करें आवेदन       हिन्दुस्तान कॉपर लिमिटेड में 120 पदों पर भर्तियां, इस दिन करें आवेदन       28 फरवरी को इंटरव्यू, पीजीआईएमईआर में 17 पदों पर भर्तियां       आईआईआईटी नागपुर में नॉन टीचिंग स्टाफ के 6 पदों पर भर्तियां, जल्द से जल्द करें आवेदन       सीटीईटी जुलाई 2020 इम्तिहान के लिए 2 मार्च तक करें आवेदन       ऐसे करें आवेदन, भारतीय नेवी एमआर रिजल्ट हुआ घोषित       जीआरएसई ने सुपरवाइजर के आठ पदों को भरने के लिए करें आवेदन       IOCL में 500 भर्तियां, 12वीं पास, ग्रेजुएट व इंजीनियरिंग प्रोफेशनल करें आवेदन       ऐसे करें आवेदन, सब इंस्पेक्टर व हेड कांस्टेबल के पदों पर बंपर भर्तियां      

मासिक धर्म के दौरान लड़कियों को क्यों होता है कमर दर्द, जानें

मासिक धर्म के दौरान लड़कियों को क्यों होता है कमर दर्द, जानें

महिलाओं और लड़कियों को पीरियड्स आना जीवन की एक सामान्य सी क्रिया है। बहुत सारी महिलाएं और लड़कियां पीरियड आने के कारण काफी परेशान नज़र आती है। लेकिन कई बार पीरियड्स में कमर दर्द होने के कारण महिलाओं को ऐसा लगता है कि पीरियड्स कभी भी आना नहीं चाहिए।

लड़कियों को क्यों होता है कमर दर्द:

पीरियड्स के बाद महिलाओं का सामान्य शरीर पूरी तरह से प्रभावित हो जाता है, जिसके कारण महिलाओं के योनि में दर्द होने के साथ-साथ महिलाओं की कमर तेज दर्द होने लगती है।

पीरियड्स के समय पेट के निचले हिस्से पर काफी तेज ऐंठन होने लगती है, जिसके कारण बहुत सारी महिलाएं अपने शरीर को मोड़ते रहती है।

महिलाओं के शरीर में जब अंडा फूटता है तब महिलाओं के योनि से खून बाहर निकलने लगता है, यह सारी क्रिया काफी दर्द भरी होने के कारण पीरियड्स के समय कमर दर्द होता है।

कमर दर्द होने पर क्या करें:

महिलाओं को अपने शरीर को संतुलित रखने की कोशिश करना चाहिए, कई बार महिलाएं मासिक धर्म में अपने शरीर का ठीक तरह से ख्याल नहीं रख पाती है जिसके कारण यह समस्या और भी बढ़ जाती है।

जब कमर दर्द होती है तब महिलाओं ने भारी काम करना पूरी तरह से बंद कर देना चाहिए, अगर आप इस वक्त दिन भर लेटी हुई रहती हो तो भी कोई बात नहीं है।

जिन महिलाओं को ठीक तरह से खाना खाने की आदत नहीं होती है उन महिलाओं ने कमर दर्द होने पर शुद्ध शाकाहारी चीजों का सेवन करना चाहिए और पोषक तत्व को अपने भोजन में समाविष्ट करना चाहिए।

जिन महिलाओं की हड्डियां काफी कमजोर होती है उन महिलाओं को अक्सर इस समस्या का सामना ज्यादा करना पड़ सकता है ऐसे वक्त अपने भोजन में कैल्शियम युक्त चीजों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें।


क्या आपको पता हैं उल्टी-दस्त और कब्ज में हरड़ के इस्तेमाल से मिलती है राहत

क्या आपको पता हैं उल्टी-दस्त और कब्ज में हरड़ के इस्तेमाल से मिलती है राहत

हरड़ पाचन तंत्र को मजबूत बनाती है. साथ ही यह शरीर को डिटॉक्स कर वजन घटाने में भी मदद करती है. इसमें कई प्रकार के एसिडिक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं. इसमें कई अन्य अघुलनशील पदार्थ भी होते हैं. इसमें 18 प्रकार के अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं.


उल्टी-दस्त से मिलता आराम

बुखार, पेट फूलना, उल्टी-दस्त, गैस बनना व बवासीर जैसी समस्याओं में इसका इस्तेमाल किया जाता है. हरड़ का चूर्ण व शहद का इस्तेमाल करने से उल्टी-दस्त में आराम मिलता है.
कब्ज में राहत

हरड़ में गैलिक एसिड पाया जाता है जो रक्त में प्लाज्मा इंसुलिन बढ़ाकर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है. कब्ज के लिए चुटकीभर हरड़ चूर्ण को नमक के साथ खाना चाहिए. इसे लौंग या दालचीनी के साथ लें. दस्त की समस्या में हरड़ की चटनी बनाकर दिन में 3-4 बार खाने से दस्त में आराम मिलता है.
जरूर बरतें सावधानी

कमजोर शरीर, अवसादग्रस्त आदमी तथा गर्भवती स्त्रियों को इसका इस्तेमाल करने से बचना चाहिए. इसको बिना आयुर्वेद विशेषज्ञ से परामर्श के नहीं लें.

Loading...