छिपकली ने तोड़ा विश्व रिकॉर्ड, ऐसे पहुंची 17000 फीट की ऊंचाई पर

छिपकली ने तोड़ा विश्व रिकॉर्ड, ऐसे पहुंची 17000 फीट की ऊंचाई पर

नई दिल्ली: आज तक तो आपने इंसानों को ऊंचाइयों तक पहुंचते हुए देखा होगा, लेकिन क्या आपने कभी छिपकली को 17 हजार फीट की ऊंचाई पर रहते हुए सुना है? जी हां, आपने सही पढ़ा। दुनिया में एक ऐसी छिपकली है, जिसने एक अलग ही वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। यह छिपकली समुद्री तल से लगभग 5400 फीट की ऊंचाई पर रहती है, तो चलिए जानते है इस अनोखी छिपकली के बारे में…

किसने किया खुलासा
समुद्र तल से करीब 5400 मीटर (17,716.54 फीट) की ऊंचाई पर रहने वाली इस छिपकली का नाम लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) है। हर्पेटोजोआ (Herpertozoa) नाम की एक मैगजीन ने इस छिपकली के बारे में खुलासा किया है। इस मैगजीन की रिपोर्ट के मुताबिक, इस छिपकली को दक्षिणी अमेरिका के एक महाद्वीप जिसका नाम पेरू है, वहां के एंडीज के पहाड़ों पर लगभग 17,716 फीट की ऊंचाई देखा गया है।

क्या कहते है शोधकर्ता
एंडीज पर्वतों पर अल्ट्रवायलेट की किरणें काफी तेज होती है। वहीं इतनी ऊंचाई होने के कारण यहां के तापमान में काफी अंतर भी होता है, साथ ही ऑक्सीजन की भी समस्या होती है। इसके बावजूद लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) इतनी ऊंचाई पर रहना पसंद करती है।


टैक्ने को समझा चूहा
लियोलाइमस टैक्ने के बारे में नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सेंट ऑगस्टिन अरेक्विपा के शोधकर्ता जोस सेर्डेन (Jose Carden) ने बताया, “हमनें चट्टानों के बीच कुछ हिलते हुए देखा, पहले तो हमे लगा कि वो चूहा है, जब हमारी टीम ने पास जाकर देखा तो पाया कि ये जानवर छिपकली है, जिसे लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) के रूप में पहचाना जाता है।”

पेरू के ऊंचाई पर रहने के लिए जानी जाती है ये प्रजाति
इस छिपकली के बारे में जोस सेर्डेन (Jose Carden) ने आगे बताया, “ये प्रजाति पेरू के ऊंचाई वाले इलाके में जीवित रहने के लिए जानी जाती है। चचानी के पास लोगों ने इसे पहले समुद्र तल से 4,000 मीटर पर देखा था, क्योंकि स्तनधारियों के लिए ऐसी परिस्थितियों में जीवन जीना अत्यधिक मुश्किल है। लेकिन ठंडे खून वाले रेप्टाइल्स यानी सरीसृप या छिपकलियां ऐसी जगहों पर रह लेती हैं।”

टैक्ने ने किस छिपकली का तोड़ा रिकॉर्ड
लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) ने 5400 मीटर (17,716.54 फीट) की ऊंचाई पर रहकर एक विश्व रिकॉर्ड बना दिया है। इससे पहले टॉड हैडेड आगामा छिपकली ने 5300 मीटर की ऊंचाई पर रहकर एक नया रिकॉर्ड बनाई थी।


हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत

हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत

भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 24 घंटे में दो लाख के पार तक पहुंच चुकी है। ऐसे में मेडिकल जनरल 'द लांसेट' में छपे एक आंकलन में इस बात के ठोस सबूत मिले हैं कि कोरोना वायरस मुख्य रूप से हवा के जरिए फैलता है।

इंग्लैंड, अमेरिका, कनाडा के 6 एक्सपर्ट के मुताबिक जो पब्लिक हेल्थ से जुड़े कदम उठाए जा रहे हैं, उनमें वायरस  को मुख्य रूप से एयरबोर्न की तरह नहीं माना जा रहा है और इसकी वजह से लोग असुरक्षित हैं। वायरस तेजी से फैल सकता है।

जो मिला विशेषज्ञ को
विशेषज्ञों की टीम ने वायरस के हवा से फैलने को लेकर कई सबूत पेश किए हैं। उनकी सबूतों की लिस्ट में टॉप पर स्कैगिट चोइर आउटब्रेक जैसे सुपर स्प्लेंडर इवेंट हैं। इस इवेंट में एक संक्रमित केस से 53 लोग संक्रमित हुए थे। अध्ययन से पुष्टि हुई है कि ऐसे आयोजन का स्पष्टीकरण करीबी संपर्क या सहत या चीजों को छूने से नहीं दिया जा सकता। 

टीम ने जो सबूत दिए
टीम ने उस रिसर्च पर जोर दिया जिसमें अनुमान लगाया गया कि जो लोग खांस और छींक नहीं रहे हैं उनसे साइलेंट ट्रांसमिशन (बिना लक्षण या लक्षण देखने से पहले की स्थिति) में कुल ट्रांसमिशन का 40 फीसदी तक है। आंकलन के मुताबिक दुनिया भर में कोविड संक्रमण फैलने में सबसे बड़ी भूमिका साइलेंट ट्रांसमिशन की है और यह मुख्य रूप से एयरबोर्न ट्रांसमिशन के संकेत देता है।

शोधकर्ताओं ने उन लोगों के बीच वायरस ट्रांसमिशन का भी केस रखा जो होटलों के करीबी कमरों में थे और कभी एक दूसरे के संपर्क में नहीं आए। टीम को इस मामले में कोई सबूत नहीं मिला कि वायरस बड़ी ड्रॉपलेट्स से आसानी से फैल जाता है। जो कि हवा से जल्दी गिर जाती है और लोगों को संक्रमित करती है।

बंद जगह पर ज्यादा संक्रमण
रिसर्च में बताया गया है कि खुली जगहों की बजाय बंद जगहों में संक्रमण ज्यादा तेजी से फैलता है। बंद जगहों को हवादार बनाकर संक्रमण के प्रसार को कम किया जा सकता है। 


गर्मियों में बीमारियों से बचने के लिए ध्यान रखें ये विशेष बातें       राजेश खन्ना के बंगले में जमीन पर बैठते थे डायरेक्टर-प्रोड्यूसर       अथिया शेट्टी ने किया rumoured बॉयफ्रेंड KL Rahul को बर्थडे विश       रिजिजू ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में डबल डिजिट में पदक आने की उम्मीद       कुम्भ मेले से लौटने वाले लोग बढ़ा सकते हैं कोरोना महामारी को : संजय राउत       अखिलेश ने कहा कि लखनऊ कैंसर इंस्टीट्यूट को कोरोना मरीजों के लिए खोले योगी सरकार       राज ठाकरे ने कहा कि प्रवासी मजदूर हैं महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के तेजी से फैलने के लिए जिम्मेदार       योगी सरकार के मंत्री ने ही लखनऊ में कोरोना हालात पर उठाए सवाल, CM पृथक-वास में       किसी वर्ग का नहीं, सबका होता है मुख्यमंत्री: योगी आदित्यनाथ       यूपी में कोरोना का कहर, योगी सरकार ने उठाए ऐहतियाती कदम       रमजान समेत अन्य त्योहारों को लेकर बोले सीएम योगी       उत्तरप्रदेश में टूटा Corona का कहर, एक दिन में मिला इतने नए केस       दिल्ली के बाद UP में भी लगा Lockdown, बंद रहेंगे सभी बाजार और दफ्तर       High Level मीटिंग के दौरान Nude दिखे कनाडा के सांसद       हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत       कोरोना वायरस रोधी टीके है कम असरदार, चीन के अधिकारी का दावा       रेप की घटनाओं पर इमरान खान का बेतुका बयान, कहा...       फ्रांस से तीन और राफेल विमान बिना रुके पहुंचे भारत       हर्षवर्धन ने साधा निशाना, मोदी सरकार को रास नहीं आए मनमोहन के कोरोना पर सुझाव       अभी अभी: मनमोहन सिंह कोरोना वायरस से संक्रमित, एम्स में भर्ती