चीन में कोरोना वैक्सीन की लगाई गई करीब एक अरब डोज

चीन में कोरोना वैक्सीन की लगाई गई करीब एक अरब डोज

कोरोना महामारी की शुरुआत का केंद्र रहे चीन में इस घातक वायरस के खिलाफ टीकाकरण ने अब रफ्तार पकड़ ली है। 1.4 अरब की आबादी वाले इस देश के 40 फीसद लोगों का जून के अंत तक टीकाकरण पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। यहां अब तक कोरोना वैक्सीन की करीब एक अरब डोज लग चुकी है।

जून के अंत तक 40 करोड़ लोगों का टीकाकरण पूरा करने का लक्ष्य

न्यूयॉर्क टाइम्स अखबार के वैक्सीन ट्रैकर के अनुसार, चीन में अब तक 94 करोड़ 50 लाख से अधिक डोज लगाई जा चुकी है। यह संख्या वैश्विक स्तर पर लगी कुल डोज की एक तिहाई से अधिक है। चीन में टीकाकरण की धीमी शुरुआत हुई थी, लेकिन अब इसकी गति तेज हो गई है।

इस माह रोजाना एक करोड़ 70 लाख से ज्यादा डोज लगाई जा रही है। चीन में मध्य मार्च तक महज छह करोड़ 50 लाख डोज लगाई गई थी। चीन में डेल्टा वैरिएंट को लेकर भी चिंता है। क्योंकि देश के दक्षिणी शहर गुआंगझोऊ में गत मई से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। संक्रमण की रोकथाम के लिए यहां तमाम उपाय किए गए हैं।


तालिबानी आतंकवादियों में संघर्ष की समाचार हकीकत या झूठ? Mullah Baradar को खोलनी ही पड़ी जुबान

तालिबानी आतंकवादियों में संघर्ष की समाचार हकीकत या झूठ? Mullah Baradar को खोलनी ही पड़ी जुबान

काबुल: हक्कानी (Haqqani) गुट के साथ जंग में घायल होने की खबरों पर आज तालिबान (Taliban) ने आधिकारिक रूप से तालिबानी सरकार के उप-प्रधानमंत्री मुल्ला बरादर (Mullah Baradar) के अफगानिस्तान के सरकारी चैनल RTA पश्तो को दिए गए साक्षात्कार को जारी किया है साक्षात्कार में मुल्ला बरादर हक्कानी गुट के साथ जंग की खबरों का खंडन कर रहा है और बता रहा है कि तालिबान में कोई आपसी संघर्ष नहीं चल रहा, सब एक परिवार का भाग हैं

साथ ही कतर के उप-प्रधानमंत्री/विदेश मंत्री के अफगानिस्तान दौरे में शामिल ना होने पर मुल्ला बरादर ने बोला कि उसे पता ही नहीं था कि कतर के उप-प्रधानमंत्री/विदेश मंत्री अफगानिस्तान के दौरे पर आ रहें हैं अन्यथा वो जरूर उपस्थित रहता

सवाल- मुल्ला बरादर अखुंद साहब आपके आपसी जंग में घायल होने और कई स्थान मृत्यु की खबरें भी मीडिया में दिखाई जा रही हैं आपका इस पर बोलना है क्या ये हकीकत है?

मुल्ला बरादर- नहीं ये हकीकत नहीं है जो आजकल खबरें फैलाई जा रही हैं कि हमारे बीच आपसी जंग चल रही है (बरादर गुट और हक्कानी गुट के बीच में) और मैं घायल हूं, ये सरासर गलत है हम एक परिवार की तरह हैं और प्यार-मोहब्बत से एक साथ कार्य कर रहे हैं मैं एक स्थान कार्य से यात्रा पर गया हुआ था जहां मीडिया उपस्थित नहीं था

सवाल- अभी कुछ दिन पहले कतर के विदेश मंत्री काबुल के दौरे पर आए थे लेकिन आप उसमें उपस्थित नहीं थे

मुल्ला बरादर- कतर के विदेश मंत्री के अफगानिस्तान के दौरे पर आने की जानकारी मुझे नहीं थी यदि मुझे पता होता कि वो आ रहे हैं तो मैं अपने यात्रा को कैंसिल करके उनके साथ मीटिंग में जरूर शामिल होता

सवाल- इस साक्षात्कार के लिए आपका शुक्रिया आप आखिर में कुछ बोलना चाहते हैं

मुल्ला बरादर- इससे पहले जब कतर में हमारे बीच शांति मीटिंग हो रही थी तब भी कुछ मीडिया अपने फायदे के लिए ऐसे ही असत्य दिखाती थी जैसा कि आज दिखा रहे हैं मैं मीडिया से दरख्वास्त करना चाहता हूं कि वो हकीकत दिखाएं ना कि अपने फायदे के लिए झूठ ये ठीक नही है साक्षात्कार के लिए आपका भी शुक्रिया