रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सेल्फ आइसोलेट, कुछ करीबी पाए गए हैं कोरोना संक्रमित

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सेल्फ आइसोलेट, कुछ करीबी पाए गए हैं कोरोना संक्रमित

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अपने दल के कुछ सदस्यों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद एहतियात के तौर पर सेल्फ आइसोलेट हो गए हैं। हालांकि, वह संक्रमित नहीं हैं और बिल्कुल स्वस्थ हैं। वह पहले ही रूस की वैक्सीन स्पुतनिक v के दोनों शाट ले चुके हैं। क्रेमलिन ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। इस वजह से 68 वर्षीय पुतिन इस सप्ताह क्षेत्रीय सुरक्षा बैठकों के लिए ताजिकिस्तान की यात्रा नहीं करेंगे। अब वह इसमें वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हिस्सा लेंगे।  वह  डाक्टरों के परामर्श में हैं। उन्होंने सोमवार को क्रेमलिन में सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद से मिलने के बाद सेल्फ-आइसोलेशन का निर्णय लिया। पुतिन ने रूसी पैरालिंपियन से भी मुलाकात की और बेलारूस के साथ संयुक्त सैन्य अभ्यास का निरीक्षण करने के लिए सोमवार को पश्चिमी रूस की यात्रा की थी।

अगले माह 69 साल के होने वाले पुतिन के सेल्फ आइसोलेट होने का मतलब है कि उन्हें स्वस्थ रखने और कोरोना से बचाने के लिए बनाए गए कठोर नियम में संभवत: उल्लंघन हुआ है। क्रेमलिन आने वाले लोगों को विशेष डीसइंफेक्शन टनल्स से गुजरना पड़ता है।  उनके कार्यक्रमों में हिस्सा लेने वाले पत्रकारों को कई बार पीसीआर टेस्ट से गुजरना पड़ता है और जिन लोगों से वे मिलते हैं, उन्हें पहले से क्वारंटाइन होने और टेस्ट कराने के लिए कहा जाता है। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा कि पुतिन अपने दल में कई लोगों के संपर्क में थे जो कोरोना संक्रमण से बीमार पड़ गए हैं।

पेसकोव ने कहा, 'बेशक हम जानते हैं कि राष्ट्रपति के दल में कौन बीमार पड़ा और सेल्फ आइसोलेशन राष्ट्रपति के काम को सीधे प्रभावित नहीं करता है। व्यक्तिगत तौर पर बैठकें कुछ दिनों तक नहीं होंगी। राष्ट्रपति वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अपना काम जारी रखेंगे।' यह पूछे जाने पर कि क्या पुतिन  का कोरोना टेस्ट नेगेटिव आया है, पेसकोव ने कहा, 'जी हां। राष्ट्रपति बिल्कुल स्वस्थ हैं।'


तालिबानी आतंकवादियों में संघर्ष की समाचार हकीकत या झूठ? Mullah Baradar को खोलनी ही पड़ी जुबान

तालिबानी आतंकवादियों में संघर्ष की समाचार हकीकत या झूठ? Mullah Baradar को खोलनी ही पड़ी जुबान

काबुल: हक्कानी (Haqqani) गुट के साथ जंग में घायल होने की खबरों पर आज तालिबान (Taliban) ने आधिकारिक रूप से तालिबानी सरकार के उप-प्रधानमंत्री मुल्ला बरादर (Mullah Baradar) के अफगानिस्तान के सरकारी चैनल RTA पश्तो को दिए गए साक्षात्कार को जारी किया है साक्षात्कार में मुल्ला बरादर हक्कानी गुट के साथ जंग की खबरों का खंडन कर रहा है और बता रहा है कि तालिबान में कोई आपसी संघर्ष नहीं चल रहा, सब एक परिवार का भाग हैं

साथ ही कतर के उप-प्रधानमंत्री/विदेश मंत्री के अफगानिस्तान दौरे में शामिल ना होने पर मुल्ला बरादर ने बोला कि उसे पता ही नहीं था कि कतर के उप-प्रधानमंत्री/विदेश मंत्री अफगानिस्तान के दौरे पर आ रहें हैं अन्यथा वो जरूर उपस्थित रहता

सवाल- मुल्ला बरादर अखुंद साहब आपके आपसी जंग में घायल होने और कई स्थान मृत्यु की खबरें भी मीडिया में दिखाई जा रही हैं आपका इस पर बोलना है क्या ये हकीकत है?

मुल्ला बरादर- नहीं ये हकीकत नहीं है जो आजकल खबरें फैलाई जा रही हैं कि हमारे बीच आपसी जंग चल रही है (बरादर गुट और हक्कानी गुट के बीच में) और मैं घायल हूं, ये सरासर गलत है हम एक परिवार की तरह हैं और प्यार-मोहब्बत से एक साथ कार्य कर रहे हैं मैं एक स्थान कार्य से यात्रा पर गया हुआ था जहां मीडिया उपस्थित नहीं था

सवाल- अभी कुछ दिन पहले कतर के विदेश मंत्री काबुल के दौरे पर आए थे लेकिन आप उसमें उपस्थित नहीं थे

मुल्ला बरादर- कतर के विदेश मंत्री के अफगानिस्तान के दौरे पर आने की जानकारी मुझे नहीं थी यदि मुझे पता होता कि वो आ रहे हैं तो मैं अपने यात्रा को कैंसिल करके उनके साथ मीटिंग में जरूर शामिल होता

सवाल- इस साक्षात्कार के लिए आपका शुक्रिया आप आखिर में कुछ बोलना चाहते हैं

मुल्ला बरादर- इससे पहले जब कतर में हमारे बीच शांति मीटिंग हो रही थी तब भी कुछ मीडिया अपने फायदे के लिए ऐसे ही असत्य दिखाती थी जैसा कि आज दिखा रहे हैं मैं मीडिया से दरख्वास्त करना चाहता हूं कि वो हकीकत दिखाएं ना कि अपने फायदे के लिए झूठ ये ठीक नही है साक्षात्कार के लिए आपका भी शुक्रिया