UNSC की बैठक में आमने-सामने आए दोनों देश, कोरोना को लेकर चाइना पर भड़का अमेरिका

UNSC की बैठक में आमने-सामने आए दोनों देश, कोरोना को लेकर चाइना पर भड़का अमेरिका

नई दिल्ली/वाशिंगटन: विश्व के लिए इस वक़्त कोरोना वायरस महामारी से निपटना एक चुनौती बन गई है. इस वायरस की आरंभ गत साल चाइना के वुहान से हुई थी. यह वायरस अब तक़रीबन पूरी संसार को प्रभावित कर चुका है. इसी मुद्दे को लेकर जब संयुक्त देश सुरक्षा परिषद (UNSC) ने बैठक बुलाई तो यहां भी अमेरिका व चाइना आमने-सामने आ गए.

अमेरिका अब तक संयुक्त देश (UN) व दुनिया स्वास्थ्य संगठन (WHO) की किरदार पर सवाल खड़े किए थे तो वहीं चाइना ने दोनों संस्थाओं की प्रशंसा कर दी. कोरोना वायरस के मुद्दे को लेकर UNSC ने गुरुवार को वर्चुअल महाबैठक बुलाई थी. बैठक में चाइना ने बोला कि कोरोना वायरस एक वैश्विक चुनौती है जिसमें UN व WHO की तरफ से जो प्रतिनिधित्व की जा रही है. उसकी चाइना सराहना करता है. यह वायरस सभी के लिए खतरा है, जिसमें सभी को मिलकर कार्य करना होगा. चाइना यूएन की उस अपील का भी समर्थन करता है जहां उसने सभी राष्ट्रों से अपने मतभेद भुलाकर कोरोना से जंग करने की बात कही है.

चीन का बोलना है कि जब वह संकट से जूझ रहा था तो कई राष्ट्रों ने उनकी सहायता की थी अब वह 100 से अधिक राष्ट्रों की मदद कर रहा है. वहीं अमेरिका ने एक बार फिर चाइना की नीयत पर सवाल खड़े किए हैं. अमेरिका का बोलना है कि संकट के इस दौर में पारदर्शिता रखने की जरुरत है जिससे कि हर कोई सच जान सके. अमेरिका ने दावा किया है कि इस समय वह संसार के विभिन्न राष्ट्रों के साथ मिलकर कोरोना के विरूद्ध जंग लड़ रहा है.