हसन ने केंद्र सरकार को 'अल्पसंख्यक के साथ खिलवाड़' के खिलाफ चेतावनी दी

हसन ने केंद्र सरकार को 'अल्पसंख्यक के साथ खिलवाड़' के खिलाफ चेतावनी दी

झारखंड के मंत्री हाफिजुल हसन ने केंद्र गवर्नमेंट को 'अल्पसंख्यक के साथ खिलवाड़' के विरूद्ध चेतावनी दी है. झारखंड के मंत्री हफिजुल हसन ने खुलेआम धमकी दी है. उन्होंने कहा कि 20 फीसदी को तंग किया तो 80 फीसदी को समाप्त कर देंगे. उन्होंने कहा कि हमारे 20 घर बंद होंगे तो आपके 80 घर बंद कर देंगे. मंत्री ने भाजपा के नेतृत्व वाली गवर्नमेंट को चेतावनी में कहा कि केंद्र गवर्नमेंट के द्वारा जो किया जा रहा है. धर्म विशेष के साथ जो हो रहा है उसमें सभी का हानि है. यदि हम 20 फीसदी हैं तो आप 80 फीसदी हैं, 70 फीसदी हैं. लेकिन यदि मेरा 20 घर बंद होगा तो आपका 70 घर बंद होगा. ये सभी को समझ में आ गया.

भाजपा ने झारखंड के मंत्री का इस्तीफा मांगा

भाजपा ने इस टिप्पणी पर कड़ी आपत्ति जताते हुए हसन के इस्तीफे की मांग की है. झारखंड भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि यह हेमंत सोरेन गवर्नमेंट का असली चेहरा है. यदि मुख्यमंत्री में हौसला है तो उन्हें मंत्री से इस्तीफा देने के लिए कहना चाहिए.  झारखंड के भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने भी हाफिजुल हसन को 'हिंदुओं को खुली धमकी' देने के लिए निशाना साधा है. दुबे ने कहा, "क्या आपने इस मंत्री को सुपारी दी है? धर्मांतरण और सांप्रदायिक नफरत भड़काने का आपका एजेंडा अब खुले में है. हफीज मेरे लोकसभा क्षेत्र से विधायक हैं. अगले चुनाव में मैं उनकी जमानत रद्द करना सुनिश्चित करूंगा.

बता दें कि झामुमो नेता हाफिजुल हसन मधुपुर से विधायक हैं और वर्तमान में हेमंत सोरेन के मंत्रिमंडल में युवा और खेल मामलों के विभाग के मंत्री हैं. 2014 में, संपत्तियों के संबंध में आपराधिक विश्वासघात के लिए आईपीसी की धारा 409/420/120बी और 177 के अनुसार उनके विरूद्ध मामला रेट्ज किया गया था.


होटल से कूदकर आत्महत्या करने वाले कारोबारी की मौत का खुलासा

होटल से कूदकर आत्महत्या करने वाले कारोबारी की मौत का खुलासा

जमशेदपुर: झारखंड के जमशेदपुर में होटल से कूदकर सुसाइड करने वाले व्यवसायी की मृत्यु का खुलासा WhatsApp वीडियो के माध्यम से हुआ. मरने से पहले व्यवसायी ने एक वीडियो रिकॉर्ड कर अपने ससुराल पक्ष पर प्रताड़ना का आरोप लगाया. दरअसल, बिजनेसमैन राहुल अग्रवाल ने बृहस्पतिवार की शाम बिष्टुपुर के एक होटल की 7वीं  मंजिल से कूदकर जान दे दी थी.

WhatsApp पर उन्होंने अपने भाई को वीडियो भेजा, जिसमें अपनी मृत्यु के कारण जिक्र करते हुए बोला कि वह अपने ससुर, सास, साले और पत्नी की प्रताड़ना से परेशान होकर मृत्यु को गले लगा रहा है. उसका ससुर प्रदीप चूरीवाला शहर का नामी बिल्डर है. मृतक ने वीडियो में अपने भाई को बोला, मरने के बाद उसकी अस्थियों को हरिद्वार में तब तक विसर्जित ना किया जाए जब तक कि प्रदीप का पूरा परिवार बर्बाद ना हो जाए.

वीडियो में मृतक राहुल ने बोला कि उसकी अस्थियों को बैंक के लॉकर में रखा जाए. वह वहीं से सब कुछ देखता रहेगा. प्रदीप की बर्बादी के पश्चात् ही उसकी अस्थियों को हरिद्वार में प्रवाहित किया जाए. इसी के साथ राहुल ने वीडियो में अपनी पत्नी एवं बच्चों का भी जिक्र किया. उसने कहा कि वह अपनी पत्नी और बच्चों से बहुत प्यार करता है. पत्नी इतनी भी बुरी नहीं थी किन्तु उसकी मां ने उसे बुरा बना दिया. वीडियो में राहुल ने आगे कहा कि रूपये के लिए प्रदीप चूरीवाला कुछ भी कर सकता है. किसी रूपये वाले के साथ प्रदीप अपकी बेटी की विवाह करवाना चाहता है, इसलिए मुझे प्रताड़ित कर रहा है. वीडियो में राहुल ने अपने माता-पिता तथा भाई से क्षमा मांगते हुए कहा, मैं नहीं चाहता कि आप लोग मेरे कारण कोर्ट-कचहरी के चक्कर काटें. वही अब पुलिस द्वारा मुद्दे की जाँच की जा रही है.