लापरवाही :सरकारी अस्पताल में नवजात बच्ची को कुतर गए चूहे

लापरवाही :सरकारी अस्पताल में नवजात बच्ची को कुतर गए चूहे

गिरिडीह: झारखंड के गिरिडीह के सरकारी हॉस्पिटल में चूहे का आतंक इस कदर है कि वे नवजात बच्चों को भी काटने से बाज नहीं आ रहे हैं। हॉस्पिटल में एक महिला ने कहा कि चूहे ने उसके 3 दिन की नवजात बच्ची को बुरी प्रकार से कुतर दिया तत्पश्चात, उसकी स्थिति गंभीर हो गई है। वही मामले की खबर प्राप्त होने के बाद प्रबंधन ने दो नर्सों को निकाल दिया गया तथा मामले की तहकीकात के लिए एक पैनल का गठन किया है।

साथ ही मां ममता देवी ने कहा कि जब वह गिरिडीह हॉस्पिटल के मॉडल मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य (MCH) वार्ड में अपने नवजात शिशु को देखने गई तो उसके घुटने पर चूहों द्वारा कुतरने से गहरा घाव हो गया था। ममता देवी ने बोला कि बच्ची के घुटने पर चोट देखकर मैं डर गई थी। बच्ची का जन्म 29 अप्रैल को हुआ था तथा उसे MCH में एडमिट कराया गया था क्योंकि उसे जन्म के बाद सांस लेने में समस्या हो रही थी। उसने कहा कि ड्यूटी पर उपस्थित नर्स ने उसे बताया था कि शिशु पीलिया से संक्रमित है। नर्स ने बच्ची को बेहतर हॉस्पिटल में एडमिट कराने की भी सलाह दी थी।

इसके साथ ही गिरिडीह के उपायुक्त नमन प्रियेश लाकड़ा ने कहा कि गिरिडीह सदर हॉस्पिटल में ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई के लिए झारखंड स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव को चिट्ठी भेजी गई है।


होटल से कूदकर आत्महत्या करने वाले कारोबारी की मौत का खुलासा

होटल से कूदकर आत्महत्या करने वाले कारोबारी की मौत का खुलासा

जमशेदपुर: झारखंड के जमशेदपुर में होटल से कूदकर सुसाइड करने वाले व्यवसायी की मृत्यु का खुलासा WhatsApp वीडियो के माध्यम से हुआ. मरने से पहले व्यवसायी ने एक वीडियो रिकॉर्ड कर अपने ससुराल पक्ष पर प्रताड़ना का आरोप लगाया. दरअसल, बिजनेसमैन राहुल अग्रवाल ने बृहस्पतिवार की शाम बिष्टुपुर के एक होटल की 7वीं  मंजिल से कूदकर जान दे दी थी.

WhatsApp पर उन्होंने अपने भाई को वीडियो भेजा, जिसमें अपनी मृत्यु के कारण जिक्र करते हुए बोला कि वह अपने ससुर, सास, साले और पत्नी की प्रताड़ना से परेशान होकर मृत्यु को गले लगा रहा है. उसका ससुर प्रदीप चूरीवाला शहर का नामी बिल्डर है. मृतक ने वीडियो में अपने भाई को बोला, मरने के बाद उसकी अस्थियों को हरिद्वार में तब तक विसर्जित ना किया जाए जब तक कि प्रदीप का पूरा परिवार बर्बाद ना हो जाए.

वीडियो में मृतक राहुल ने बोला कि उसकी अस्थियों को बैंक के लॉकर में रखा जाए. वह वहीं से सब कुछ देखता रहेगा. प्रदीप की बर्बादी के पश्चात् ही उसकी अस्थियों को हरिद्वार में प्रवाहित किया जाए. इसी के साथ राहुल ने वीडियो में अपनी पत्नी एवं बच्चों का भी जिक्र किया. उसने कहा कि वह अपनी पत्नी और बच्चों से बहुत प्यार करता है. पत्नी इतनी भी बुरी नहीं थी किन्तु उसकी मां ने उसे बुरा बना दिया. वीडियो में राहुल ने आगे कहा कि रूपये के लिए प्रदीप चूरीवाला कुछ भी कर सकता है. किसी रूपये वाले के साथ प्रदीप अपकी बेटी की विवाह करवाना चाहता है, इसलिए मुझे प्रताड़ित कर रहा है. वीडियो में राहुल ने अपने माता-पिता तथा भाई से क्षमा मांगते हुए कहा, मैं नहीं चाहता कि आप लोग मेरे कारण कोर्ट-कचहरी के चक्कर काटें. वही अब पुलिस द्वारा मुद्दे की जाँच की जा रही है.