अग्निवीर भर्ती में ना करें ये गलती

अग्निवीर भर्ती में ना करें ये गलती

मनीष गुप्ता/आगरा: ताजनगरी आगरा में इन दिनों अग्निवीर भर्ती (Agniveer Recruitment) चल रही है आगरा-दिल्ली रोड स्थित आनंद इंजीनियरिंग कॉलेज पर अग्निवीर की भर्ती के लिए अभ्यर्थियों का जमावड़ा लगा है आर्मी भर्ती के लिए सबसे बड़ी परीक्षा दौड़ को माना जाता है इसी लक्ष्य को भेदने के लिए युवा दिन रात मेहनत करते हैं,मगर कुछ युवा ऐसे भी हैं जो गलत ढंग से अग्निवीर बनने का ख़्वाब पाले बैठे हैं भर्ती से पहले की स्क्रीनिंग में आर्मी ने ऐसे 115 युवाओं की पहचान की है, जो दौड़ की बाधा पार करने के लिए स्टेरॉइड औऱ इंजेक्शन की डोज लेकर आये थे

दरअसल अग्निवीर बनने की पहली परीक्षा दौड़ होती है इसमें दमखम दिखाने वाले अभ्यर्थी ही आगे के राउंड में प्रवेश पाते हैं सेना के भर्ती ऑफिसर्स के मुताबिक, शुरुआती स्क्रीनिंग में 115 अभ्यर्थी की पहचान की गई है, जो अलीगढ़ और एटा जिले के हैं इन लोगों ने स्टेरॉइड औऱ इंजेक्शन की डोज लगवाई थी ये युवा अपने मंसूबों में सफल हो पाते उससे पहले ही धर लिए गए अग्निवीर सेना भर्ती में पास होने को युवा अपने स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे हैं 

अलीगढ़ और एटा जिले के हैं युवा 
अग्निवीर भर्ती रैली में अलीगढ़ की खैर और एटा की अलीगंज तहसील के 115 युवा इंजेक्शन और स्टेरॉइड की डोज लेकर भर्ती स्थल पर आये थे, जिनकी पहचान कर भर्ती प्रक्रिया से बाहर किया गया निदेशक, अग्निवीर भर्ती रैली ने बताया कि सुबह सिविल मेडिकल टीम, एसीएम (प्रथम) राम प्रकाश और उपाधीक्षक की उपस्थिति में, भर्ती में आये युवाओं की दौड़ से पहले जांच कर रही थी, सिविल मेडिकल टीम को जांच के दौरान कुछ युवाओं के शरीर पर इंजेक्शन लगाये जाने के निशान पाये गये, जिसकी गहराई से जांच करने पर गैर कानूनी रूप से इंजेक्शन और स्टेरॉयड लेने की पुष्टि हुई 

स्वास्थ्य से कर रहे खिलवाड़ 
ऐसे 115 युवाओं की जांच के दौरान पहचान की गयी है ये युवा अपने स्वास्थ्य से तो खिलवाड़ कर ही रहें हैं, उन पर विधिक और कानूनी कार्रवाई भी की जा रही है, जिससे वे आगे किसी भी भर्ती के लिये प्रतिबन्धित भी हो रहे हैं उन्होंने सेना भर्ती के लिए आ रहे युवाओं से अपील करते हुए बोला कि युवा ऐसे अनधिकृत और गैर कानूनी ढंग न अपनायें, जिससे उनके स्वास्थ्य के साथ-साथ कैरियर भी समाप्त हो रहा है