एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य बने डॉ. राजीव बगरहट्टा

एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य बने डॉ. राजीव बगरहट्टा

ऱाजधानी के एसएमएस मेडिकल कॉलेज की कमान डाक्टर राजीव बगरहट्टा के हाथों सौंपी गई है चिकित्सा शिक्षा विभाग ने डॉ सुधीर भंडारी का कार्यकाल 4 जुलाई को पूरा होने पर डॉ राजीव बगरहट्टा को प्राचार्य एवं नियंत्रक नियुक्त किया है डॉ भंडारी का कार्यकाल पूरा होने से पहले चिकित्सा शिक्षा विभाग ने प्राचार्य के लिए आवेदन मांगे थे जिसमें 40 डॉक्टर्स ने आवेदन किया था आवेदनों की स्क्रूटनी के बाद 23 जून को 37 डॉक्टर्स को साक्षात्कार के लिए बुलाया गया था मुख्य सचिव की मौजूदगी में 28 डॉक्टर्स ने दावेदारी पेश की थी जिसके बाद तीन डॉक्टर्स के नाम तय कर चिकित्सा शिक्षा विभाग ने मंत्री और सीएम को भेजा गया जिनकी अनुमति के बाद डॉ राजीव बगरहट्टा को प्रिंसिपल नियुक्त किया है

मेडिकल कॉलेज और चिकित्सालयों के विकास पर करेंगे काम 

एसएमएस मेडिकल कॉलेज का प्राचार्य नियुक्त करने के बाद डॉ राजीव बगरहट्टा ने सीएम को धन्यवाद देते हुए बोला की गवर्नमेंट ने विश्वास जताकर जिम्मेदारी दी है इसे भली–भाँति निभाऊंगा एसएमएस मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल में सुविधाएं बढ़ाते हुए रोगियों को अच्छे उपचार और गवर्नमेंट की योजनाओं का आमजन को फायदा दिलाने पर काम किया जाएगा डॉ बगरहट्टा ने बोला की एसएमएस हॉस्पिटल में विश्वसत्तर का आईपीडी टावर बनाया जा रहा है इसे बेहतर बनाने और एसएमएस हॉस्पिटल के विस्तार पर काम किया जाएगा इसके अतिरिक्त मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा शिक्षा की गुणवत्ता और रिसर्च को बढ़ावा देने का काम किया जाएगा ताकि राष्ट्र ही नहीं विश्व में एसएमएस मेडिकल कॉलेज से निकले डॉक्टर्स रोगियों को बेहतर उपचार देते हुए एसएमएस का नाम रोशन करें साथ ही गवर्नमेंट की मुफ्त उपचार की योजना को सफल बनाते हुए रोगियों के भलाई में काम किया जाएगा
आईपीडी टावर में देंगे विश्वस्तरीय सुविधाएं लिए किया जाएगा काम

एसएमएस हॉस्पिटल में विश्व स्तरीय आईपीडी टावर बनाया जा रहा है इसके अतिरिक्त जनाना, और स्त्री चिकित्सालय में भी आईपीडी टावर बनाया जाएगा जिसको लेकर डॉ बगरहट्टा ने बताया की एसएमएस की सुविधाएं बढ़ाने के लिए 22 मंजिला आईपीडी टावर बनाया जा रहा है जो गवर्नमेंट का जरूरी प्रोजेक्ट है इसे बेहतर और समय पर पूरा करना हमारा लक्ष्य है साथ ही अन्य अस्पतालों में भी सुविधाएं बढ़ाने के लिए आईपीडी टावर बनाए जाएंगे इन्हे भी समय पर बनाते हुए रोगियों को सुविधाएं दी जाएगी