इन 4 राशियों पर आज होगी धन की वर्षा, जानें अपना रविवार का राशिफल

इन 4 राशियों पर आज होगी धन की वर्षा, जानें अपना रविवार का राशिफल

माह- पौष, तिथि-एकादशी, नक्षत्र-रोहिणी  , पक्ष- शुक्ल सूर्योदय-06.42, सूर्यास्त-17.38, राहुकाल- 04:43 PM से 06:04 PM तक । चन्द्रमा वृषभ राशि पर संचार करेगा। आज रविवार के दिन सूर्य देव की आराधना के लिए सर्वोत्तम दिन है। जानिए कैसा रहेगा 12 राशियों का हाल…

मेष से कर्क तक…
मेष 24 जनवरी दिन रविवार को जातक का  प्रेम-प्रसंग के लिए आज अच्छा नहीं चलेगा। कानूनी काम निपटाएंगे। धन प्राप्ति के मार्ग सुगम होंगे। बेवजह खर्च बढ़ेगा। पारिवारिक सहयोग मिलेगा। प्रसन्नता तथा संतुष्टि मिलेगी लेकिन जल्दबाजी न करें। वाणी पर नियंत्रण रखें।

वृष 24 जनवरी दिन रविवार को जातक धनागम सहज ही होगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। भू‍ले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। नए दोस्त बनेंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। किसी भी काम में जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। आत्मविश्वास बढ़ेगा। कानूनी समस्या खड़ी हो सकती है। विवाद को बढ़ावा न दें। जल्दबाजी न करें।

मिथुन 24 जनवरी दिन रविवार को जातक आय में वृद्धि होगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। किसी बड़ी समस्या का हल सहज ही होगा। अच्‍छे कामों का भी विरोध हो सकता है। बुद्धि का प्रयोग आवश्यक है। भय रहेगा। चिंता बनी रहेगी। व्यावसायिक यात्रा लाभदायक रहेगी।

कर्क 24 जनवरी दिन रविवार को जातक का पुराना रुका हुआ पैसा मिल सकता है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बड़ा काम करने का मन बनेगा। आय में वृद्धि होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। प्रतिद्वंद्विता में कमी होगी। प्रसन्नता रहेगी। सुख के साधन जुटेंगे।

सिंह 24 जनवरी दिन रविवार को जातक स्थायी संपत्ति के काम मनोनुकूल लाभ देंगे। रोजगार में वृद्धि होगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। लेन-देन में हानि संभव है। जल्दबाजी न करें। व्यवसाय ठीक चलेगा। बड़ा काम करने का मन बनेगा। प्रसन्नता रहेगी। विरोधियों का पराभव होगा।

कन्या 24 जनवरी दिन रविवार को जातक  नई योजना बनाएंगी। सामाजिक कार्य करने का अवसर प्राप्त होगा। प्रतिष्ठा वृद्धि होगी। रुके हुए काम पूरे होंगे। नए अनुबंध होंगे हैं। भाग्य का साथ मिलेगा। आय में वृद्धि होगी। नौकरी में उच्चाधिकारी प्रसन्न रहेंगे। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। जल्दबाजी न करें। कोई भी निर्णय सोच-समझकर करें।

तुला 24 जनवरी दिन रविवार को जातक लाभ के अवसर हाथ आएंगे। अध्यात्म में रुचि रहेगी। सत्संग का लाभ मिलेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। अच्‍छी बात का भी विरोध हो सकता है। धैर्य से काम करें। शारीरिक कष्ट संभव है। प्रतिद्वंद्विता में वृद्धि होगी। कानूनी विवादों से दूर रहेंगे।

वृश्चिक 24 जनवरी दिन रविवार को जातक के थोड़े प्रयास से ही काम बनेंगे। काम के तरीके की प्रशंसा मिलेगी। आय में वृद्धि होगी। प्रेम के लिए अवसर सहज ही प्राप्त होंगे। व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। पराक्रम बढ़ेगा। नए काम मिलेंगे। बिजनेस में वृद्धि के योग हैं। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें।

धनु 24 जनवरी दिन रविवार को जातक थोड़े प्रयास से ही काम बनेंगे। काम के तरीके की प्रशंसा मिलेगी। आय में वृद्धि होगी। प्रेम के लिए अवसर सहज ही प्राप्त होंगे। व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। पराक्रम बढ़ेगा। नए काम मिलेंगे। बिजनेस में वृद्धि के योग हैं। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें।

मकर 24 जनवरी दिन रविवार को जातक दूसरों की बातों में न आएं। विवेक व धैर्य से काम करें। लाभ में वृद्धि होगी। नकारात्मकता बढ़ सकती है। काम पर ध्यान दें। गाड़ी या किसी मशीन से विशेष सावधानी रखें। क्रोध व उत्तेजना से किसी उलझन में फंस सकते हैं। सेहत का ख्याल रखें

कुंभ 24 जनवरी दिन रविवार को जातक को किसी अपने के व्यवहार से  ठेस पहुंचेगी। समय पर आवश्यक सामान न मिलने से तनाव रहेगा। दूसरों से अपेक्षा न करें। आय में निश्चितता रहेगी। थकान महसूस करेंगे। बेवजह विवाद को बढ़ावा न दें। परेशानी हो सकती है। दु:खद समाचार मिलेगा।

मीन 24 जनवरी दिन रविवार को जातक को जरूरी समान समय पर नहीं मिलेगा। स्वभाव में चिड़चिड़ापन रहेगा। बेवजह विवाद हो सकता है। आय में निश्चितता रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। शारीरिक कष्ट से बाधा हो सकती है। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें।


आज है फाल्गुन मास की कालाष्टमी, इस मुहूर्त में करें पूजा

आज है फाल्गुन मास की कालाष्टमी, इस मुहूर्त में करें पूजा

हर माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को कालाष्टमी मनाई जाती है। इस दिन भगवान काल भैरव की पूजा की जाती है। मान्यता है अगर आज के दिन पूरे विधि-विधान के साथ काल भैरव की पूजा की जाए तो व्यक्ति की हर मनोकामना पूरी होती है। हिंदू पंचांग के अनुसार, मार्गशीर्ष माह के कृष्ण अष्टमी को काल भैरव प्रकट हुए थे। काल भैरव को भगवान शिव ने प्रकट किया था। ऐसे में हर माह की इस तिथि को कालाष्टमी मनाई जाती है। तो आइए जानते हैं फाल्गुन कालाष्टमी का शुभ मुहूर्त और महत्व।

कालाष्टमी का शुभ मुहूर्त:

5 मार्च, शुक्रवार, फाल्गुन कृष्ण पक्ष

फाल्गुन कृष्ण अष्टमी आरंभ- 5 मार्च, शुक्रवार शाम 7 बजकर 54 मिनट से (अष्टमी तिथि 5 मार्च शाम से शुरू हो रही है। ऐसे में कालाष्टमी का व्रत आज रखा जाएगा।)

फाल्गुन कृष्ण अष्टमी समाप्त- 6 मार्च, रविवार शाम 6 बजकर 10 मिनट पर


फाल्गुन कालाष्टमी का महत्व:

कालाष्टमी के दिन रात के समय अगर जागरण किया जाए तो व्यक्ति को शुभ फलों की प्राप्ति होती है। साथ ही व्रत के पुण्य में भी वृद्धि होती है। काल भैरव का वाहन कुत्ता है ऐसे में इस दिन कुत्तों को अगर खाना खिलाया जाए तो यह बेहद शुभ होता है। कहा जाता है कि ऐसा करने से भैरव जी प्रसन्न हो जाते हैं। भक्तों का ऐसा मानना है कि भैरव अष्टमी का व्रत करने से उनके पाप धुल जाएंगे और वे मृत्यु के भय से मुक्त हो जाएंगे। इस दिन सुबह सवेरे उठकर स्नानादि कर व्रत का संकल्प लेना चाहिए। फिर काल भैरव की पूजा करनी चाहिए। इनके साथ भगवान शिव और पार्वती की पूजा भी की जाती है। इस दिन भक्त पूरे दिन का उपवास करते हैं। साथ ही शाम के समय काल भैरव के मंदिर भी जाते हैं।


खत्म हुई अब दूरी, लोगों को पहली बार मिली ये सेवा       75 फीसदी आरक्षण, हरियाणा से पलायन कर सकते हैं उद्योग       ‘Aruvi’ के हिन्दी रीमेक में नजर आएंगी फातिमा सना शेख, कहा...       Virat Kohli अनुष्का शर्मा की हाइट को लेकर थे परेशान, जानें       Shweta Tiwari पलक तिवारी और रेयांश के साथ आई नजर       सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ नजर आएंगी रश्मिका मंदाना, Mission Majnu की शूटिंग लखनऊ में हुई शुरू       इस एक्टर के निधन की ख़बर सुनकर इसलिए सुन्न पड़ गये थे अभिषेक कपूर       Saif Ali Khan ने कोविड-19 वैक्सीन की ली डोज       इस एक्ट्रेस के बॉयफ्रेंड ने खेल मंत्री किरण रिजिजू से आयकर छापे मामले में मांगी मदद       क्या ‘इंडियन आइडल 12’ बंद होने जा रहा है? शो को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा       जेपी दत्ता और बिंदिया गोस्वामी की बेटी निधि जयपुर में कर रहीं शादी       ‘Liger’ का गोवा शेड्यूल हुआ पूरा, इस एक्ट्रेस ने शेयर किए पार्टी के फोटो       आज है श्री राम की भक्त माता शबरी की जयंती, जानें       आज है फाल्गुन मास की कालाष्टमी, इस मुहूर्त में करें पूजा       भगवान शिव ने स्वयं बताई है महाशिवरात्रि व्रत की महिमा, जानें       कैसे हुई थी माता शबरी की प्रभु श्री राम से मुलाकात       मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार को जरुर करें ये उपाय       इस महाशिवरात्रि करें ये दो कार्य, आप पर होगी भगवान शिव की कृपा       कालाष्टमी आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल       भगवान शिव ने क्यों लिया अर्धनारीश्वर अवतार, हमारे और आप से जुड़ा है कारण