हार्ट अटैक के बाद भी आपका दिल पहले की तरह हो सकता है स्वस्थ

हार्ट अटैक के बाद भी आपका दिल पहले की तरह हो सकता है स्वस्थ

हार्ट अटैक के बाद भी आपका दिल पहले की तरह स्वस्थ हो सकता है. यूनिवसिर्टी ऑफ कैलिफोर्निया द्वारा हाल ही में किए गए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है. वैज्ञानिकों ने अध्ययन में पाया कि हार्ट अटैक से डेड होने वाली कोशिकाओं (सेल्स) को हॉर्मोन के जरिए दोबारा जीवित किया जा सकता है. खास बात ये है कि ये एकदम नेचुरल होंगी. जो जीन थैरेपी प्रक्रियाओं के मुद्दे में भी काफी लाभकारी साबित होगी. अभी यह प्रयोग चूहो में किया गया है. इसका इंसानों पर परीक्षण बाकी है.

अगर परीक्षण मनुष्यों पर कारगर रहा, तो उन लोगों को बचाना और उनके लंबे जीवन की राह खुल सकती है, जिन्हें दिल का दौरा पड़ा है. चूहों पर किए गए इस प्रयोग में एक सिंथेटिक मैसेंजर राइबोन्यूक्लिक एसिड का उपयोग किया गया है. इस तकनीक में mRNA DNA अनुक्रमों का एक ‘ब्लूप्रिंट’ बनाता है, जिसे शरीर प्रोटीन बनाने के लिए वहां पर उपयोग करता है, जहां प्रोटीन हमारी कोशिकाओं को बनाता और नियंत्रित करता है.

वैज्ञानिक के ऐसा करने का मकसद एमआरएनए में परिवर्तन करके भिन्न-भिन्न जैविक प्रक्रियाओं के लिए भिन्न-भिन्न निर्देश देना है. यह मैसेज दो तरह से पैदा होते हैं. पहला- स्टेमिन और दूसरा वाईएपी5एसए के जरिए. ये दोनों हॉर्मोन दिल की मांसपेशियों की कार्डियोमायोसाइट्स को सक्रिय कर देते हैं. इससे दिल की उन कोशिकाओं को जिंदा करने में सहायता मिलती है, जो डेड हो चुकी हैं. वैज्ञानिक डेड कोशिकाओं को नयी कोशिकाओं की शक्ल चाहते हैं.

दुनिया में होने वाली कुल मौतों में 1 चौथाई दिल के दौरे से

हार्ट अटैक एक गंभीर रोग है. पूरे विश्व में होने वाली कुल मौतों में दिल की रोग से होने वाली मौतें एक चौथाई हैं. पिछले 20 वर्ष में हार्ट डिसीज से होने वाली मौतों में 20 लाख से अधिक की बढ़ोतरी हुई है. 2019 तक ये आंकड़ा 90 लाख पहुंच गया है.


कैल्शियम की कमी से होते हैं चेहरे पर सफेद धब्बे

कैल्शियम की कमी से होते हैं चेहरे पर सफेद धब्बे

White Marks On Face Due To Calcium Deficiency: कैल्शियम एक ऐसा खनिज तत्व है, जो हड्डियों को मजबूत रखने के साथ दांतों का भी ख्याल रखता है कैल्शियम खून के थक्के और मसल्स को मजबूत रखने में अहम किरदार निभाता है शरीर में लगभग 99 प्रतिशत कैल्शियम केवल हड्डियों में जमा होता है, जबकि 1 प्रतिशत कैल्शियम मसल्स, ब्लड और टिशूज में मिलता है यदि शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाए तो चेहरे पर सफेद धब्बे भी नजर आ सकते हैं कैल्शियम की कमी एक आम परेशानी बनती जा रही है, जिसकी वजह से बहुत सी स्किन प्रॉब्लम देखने को मिल सकती हैं, जैसे एग्जिमा, विटिलिगो इस परेशानी को कम करने के लिए डाइट भी अपना रोल निभाती है इसलिए कैल्शियम युक्त डाइट लेनी चाहिए, जिससे चेहरे पर सफेद धब्बों को भी दूर किया जा सके

किसके लिए कितना कैल्शियम जरूरी?

कैल्शियम की कमी के आरंभ में कोई लक्षण नहीं दिखाई देते, लेकिन यदि इनका उपचार न किया जाए तो बाद में रिस्की हो सकता है ओस्टियोंपीनिया यानी लो बोन डेंसिटी जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं दैनिक आवश्यकता के आधार पर लगभग 19 से 50 वर्ष की स्त्रियों के लिए हर रोज 1000 मिलीग्राम कैल्शियम की आवश्यकता होती हैअगर कोई स्त्री गर्भवती है या बच्चे को स्तनपान करवाती है तो उसे भी 1000 मिलीग्राम कैल्शियम की आवश्यकता होती है इसी तरह 19 से 70 वर्ष तक के मर्दों के लिए दैनिक आवश्यकता के मुताबिक 1000-1200 मिलीग्राम कैल्शियम की आवश्यकता होती है

कैल्शियम की कमी कैसे करें दूर?

-फल, हरे पत्तेदार साग, बीन्स, और स्टार्च वाली सब्जियों को आहार में शामिल करें
-बादाम, सोया और चावल के दूध में कैल्शियम की अच्छी मात्रा होती है
-पनीर, दूध को अपने आहार में शामिल करें
-ऑरेंज जूस का सेवन भी हर दिन कर सकते हैं
-शलजम, पालक, सरसों में कैल्शियम अच्छी मात्रा में होता है
यदि शरीर में कैल्शियम की कमी हो गयी है तो एक अच्छी और प्रॉपर डाइट की सहायता से इसे कम किया जा सकता है लेकिन परेशानी अधिक होने पर डॉक्टर की राय जरूर लें