30 की उम्र में ऐसे करें अपने त्वचा की देखभाल, बना रहेगा ग्लो और कसाव

30 की उम्र में ऐसे करें अपने त्वचा की देखभाल, बना रहेगा ग्लो और कसाव

उम्र का 30वां पड़ाव वह दौर होता है, जब मेटाबॉलिज्म का धीमा होना शुरू हो जाता है और त्वचा की कोशिकाएं ढीली पड़ने लगती हैं। युवावस्था में जानकारी न होने के कारण त्वचा को धूप से जो नुकसान पहुंचता है, उसका परिणाम अब त्वचा के लटकने और धब्बों के रूप में सामने आ सकता है। सर्दियों में ऐसी त्वचा का खासतौर से खयाल रखना जरूरी होता है।

कैसे करें सौंदर्य की देखभाल

1. स्किन केयर का सबसे जरूरी स्टेप क्लींजिंग, टोनिंग और मॉयस्चराइजिंग इस उम्र में भी जारी रखें।

2. आराम करें। खूब नींद लें। नींद के दौरान 'स्किन रिन्युअल सिस्टम' पूरी तरह एक्टिव रहता है। सोने के रुटीन को जहां तक संभव हो, बनाए रखें। लगातार कई रातों तक देर रात सोने के कारण आंखें सूज जाती हैं। उनके नीचे 'बैग्स' व काले सर्कल उभर सकते हैं।

3. रोज़ाना एक्सरसाइज करने से न सिर्फ मेटाबॉलिज्म में तेजी आएगी, बल्कि स्किन में ब्लड सर्कुलेशन भी तेज होगा, जिससे स्किन को जरूरी न्यूट्रिशन मिलते हैं। स्ट्रेंथ एक्सरसाइज करने से मसल टोन होती हैं, जिससे त्वचा का कसाव बना रहता है।

4. मेडिटेशन और रिलैक्सेशन थेरेपीज आजमाएं। लंबे समय से चला आ रहा तनाव त्वचा को कई तरह से प्रभावित करता है। तनाव की वजह से शरीर में कॉर्टिसॉल नामक हार्मोन का स्राव होता है और इसके कारण रक्त, ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की आपूर्ति त्वचा के बजाय उन नाजुक अंगों में होने लगती है, जो तनाव से निपटने के लिए काम करते हैं। इस तरह त्वचा को पर्याप्त मात्रा में खून, पोषण व ऑक्सीजन न मिलने के कारण वह बेजान-सी हो जाती है। उसकी रंगत फीकी पड़ जाती है और लचीलापन कम हो जाता है। इस कारण त्वचा के छिद्र बंद हो जाते हैं और कील-मुंहासे होने की संभावना बढ़ जाती है।5. त्वचा जवां दिखे इसके लिए महीने में एक बार केमिकल/ग्लाईकोलिक पील कराएं। इससे त्वचा की मृत कोशिकाओं की ऊपरी परत हट जाती है और नीचे की नई त्वचा नजर आने लगेगी।


बच्चों से कराएं कुछ क्रिएटिव, ऐसे सिखाएं ग्रीटिंग कार्ड्स बनाना

बच्चों से कराएं कुछ क्रिएटिव, ऐसे सिखाएं ग्रीटिंग कार्ड्स बनाना

गणतंत्र दिवस  हर साल 26 जनवरी को मनाते है। इसी दिन हमारा देश गणराज्य बना था। इस मौके पर पूरे देश झंडातोलन के साथ झांकियां निकाली जाती है। और हम सब एक दूसरें  के विश करते है। इस बार कोरोना के चलते गणतंत्र दिवस के मौके पर स्कूलों में ज्यादा एक्टिविटीज नहीं होंगी क्योंकि कोरोना का भय अभी गया नहीं है।

ज्यादातर बच्चे घर में रहकर ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं इसलिए बच्चों को इस दिन का महत्व बताने के लिए घर पर ही कुछ क्रिएटिव काम करवा सकते हैं। इस बार रिपब्लिक डे पर बच्चों को घर में क्राफ्ट एक्टिविटीज सिखाएं। इस बार गणतंत्र दिवस पर बच्चों को ग्रीटिंग कार्ड बनाना सिखाएं।और इसे देकर ही विश करने को बोले।

ऐसे बनाए कार्ड
सबसे पहले व्हाइट या ट्राई कलर में से किसी एक रंग की मीडियम आकार की शीट लें और उसे बीच में बराबर फोल्ड कर लें। बाहर हल्की पेटिंग करें और हाथ से गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं लिखें। कलरफुल शीट लें। इसे भी बीच में से फोल्ड करके बराबर आकार दें। अब ट्राई कलर की शीट को लेकर इसे बैलून शेप में काट लें।

पहली फोल्ड की शीट के अंदर देश भक्ति से जुड़ी कुछ पंक्तियां लिखें। अब धागा लेकर कटिंग किए बैलून जोड़ते जाएं। एक साइड पर ऑरेंज या अन्य मैचिंग कलर में एक पैच कटिंग करें जिस पर आप हैप्पी रिपब्लिक डे लिख दें। 

उसके बाद ग्लू की मदद से एक-एक बैलून शीट के बाहरी तरफ ऊपरी तरफ से जोड़ते जाएं और धागा नीचे छोड़ते जाएं। कटिंग किए पैच पर सारे धागे अटैच करें और पेंट को शीट के निचले हिस्से पर सैट करें जैसा तस्वीर में दिखाया गया है। ग्रीटिंग कार्ड तैयार है। इसे आप जानकारों को भेज सकते हैं।

अशोक चक्र बनाकर डेकोरेट करें
रिश्तेदार व दोस्तों को गणतंत्र दिवस के मौके पर घर के बने कार्ड भी भेज सकते हैं। इसके लिए एक व्हाइट सख्त पेपर को बीच में से फोल्ड करें। अब आगे ऊपर और नीचे वाले हिस्से को बराबर से संतरी और हरा कलर से पेंट करें। आप इसके ऊपर डिजाइनिंग पेपर काटकर भी लगा सकते हैं। सेंटर में अशोक च्रक बनाएं। अब इसे अपनी पसंद से डैकोरेट करें।

महत्व को समझाएं

इसके अलावा बच्चों को इतिहास के बारे में भी जानकारी दें। उन्हें बताएं कि 1950 में हमारे देश में सबसे पहला गणतंत्र दिवस मनाया गया था और डॉ. राजेन्द्र प्रसाद पहले राष्ट्रपति के तौर पर चुने गए थे। ऐतिहासित इमारतों के बारे में बताएं और उन्हें म्यूजियम के बारे में भी जानकारी दें।


BJP पर राहुल गांधी का बड़ा हमला - नागपुर का 'निकरवाला' कभी नहीं तय कर सकता किसी राज्य का भविष्य       Cold Wave India : उत्तर और मध्य भारत में अगले तीन से चार दिनों में पड़ेगी कड़ाके की सर्दी       पाकिस्तान के लिए एडा क्लास के 4 युद्धपोत बना रहा तुर्की, जानें भारत के लिए कितना खतरनाक       फ्री में मिलेगा BSNL 4G सिम कार्ड, जानें पाने का तरीका       Kisan Andolan: कांग्रेस की चेतावनी, किसानों की मांग पूरी नहीं हुई तो संसद सत्र होगा हंगामेदार       Honda Grazia का Sports Edition भारत में हुआ लॉन्च, जानें आपके बजट में कितनी है फिट       रात में बच्चे को सोने नहीं देती खांसी तो इन घरेलू उपायों से दिलाएं आराम       UP पुलिस का गब्बर स्टाइल में एक और ट्वीट, पूछा- कितने आदमियों ने ये ट्वीट देखा?       सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं नोनी के पत्‍तों का रस, इन 7 रोगों से दिलाए निजात       बिल्ली और केकड़े का ये वीडियो देख आप हमेशा अपने काम से काम रखोगे!       शशि थरूर कांग्रेस को बता रहे थे मजबूत विपक्ष, बिशन सिंह बेदी की 'गुगली' ने बंद की बोलती!       पॉर्न देखने वालों की मुश्किलें बढ़ीं, पॉप्युलर वेबसाइट का डेटा लीक       Corona Vaccine Update: भारत में 16 लाख से ज्यादा लोगों को कोरोना का टीका, दुनिया के बाकी देश कहां       India China Faceoff: 11 घंटे तक चली 9वें दौर की बातचीत, भारत ने फिर कहा- पीछे तो पूरी तरह ही हटना पड़ेगा       शराब पीने वालों के लिए बुरी खबर, 31 मार्च तक 5 दिन बंद रहेंगी वाइन की दुकानें       आपके मोबाइल में मौजूद है फर्जी ऐप, तो ऐसे करें असली-नकली की पहचान       नेपाल में प्रचंड धड़े ने पीएम केपी शर्मा ओली को पार्टी से निकाला, स्पष्टीकरण नहीं देने पर कार्रवाई       विवादित ढांचे को लेकर प्रकाश जावडेकर बोले, 6 दिसंबर 1992 को ऐतिहासिक गलती को किया गया ठीक       लालू प्रसाद यादव की हालत स्थिर, दिल और किडनी की है गंभीर समस्या       गणतंत्र दिवस परेड खत्म होने के बाद ही ट्रैक्टर पर निकल सकेंगे किसान, चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेगी पुलिस