संकट में मदद देने के लिए US के बाद इजरायल ने हिंदुस्तान को कहा- शुक्रिया       कोरोना से नहीं हारे जॉनसन: आईसीयू से बाहर आए, डोनाल्ड ट्रंप ने कहा...       अमेरिका ने चाइना को दी Telecom बैन करने की धमकी, कोरोना को लेकर गहराया विवाद       कोरोना: 10 लाख लोगों के लिए सिर्फ 5 बेड, सुविधाओं की कमी से जूझ रहे अफ्रीकी देश       लंदन उच्च न्यायालय ने टाली सुनवाई, दिवालिया घोषित नहीं होगा विजय माल्या       घर आंगन में फिर फुदकने लगी है नन्ही गौरेया       कोरोना: न्यूजीलैंड ने हिंदुस्तान के साथ प्रारम्भ किया था लॉकडाउन       तस्वीरें: लॉकडाउन से पर्यावरण में पड़ी जान, गंगा-यमुना का पानी हुआ साफ       Honor Play 4T व Play 4T Pro हुए लॉन्च, दोनों में मिलेगी 4,000mAh की बैटरी       महाराष्ट्र: उद्धव ठाकरे की कुर्सी पर मंडराया कोरोना का खतरा       वर्ल्ड हैपिनेस रिपोर्ट के बहाने उदित राज ने साधा निशाना, बोले...       पीएम मोदी ने कहा कि भारत कोरोना से निपटने में अपने मित्रों की हरसंभव मदद करने के लिए तैयार       संकट में मदद देने के लिए US के बाद इजरायल ने हिंदुस्तान को कहा...       जानें कैसे करती है कोरोना से बचाव, 350 रुपये में तैयार की पीपीई किट       जेईई मेन के आवेदनकर्ता को मिला सुनहरा मौका       जम्मू और कश्मीर पर टिप्पणी करने पर हिंदुस्तान ने चाइना को घेरा, कहा...       कोरोना के विरूद्ध दिल्ली सरकार की तैयारी, जानें क्या है 'ऑपरेशन शील्ड'       PM मोदी ने वाराणसी बीजेपी जिलाध्यक्ष को किया फोन, कहा...       कोरोना वायरस के मद्देनजर नेवी में भर्ती पर रोक, एडमिरल करमबीर सिंह बोले...       कोरोना से जंग में लगे पुलिसवालों को मिलेगा 30 लाख का कवर, हरियाणा सरकार बड़ा फैसला!      

उन्नीस हजार से अधिक पद रिक्त, यहां जानेें पूरा विवरण

उन्नीस हजार से अधिक पद रिक्त, यहां जानेें पूरा विवरण

नगरीय निकाय आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं. आय के श्रोत कम होने से अधिकारियों-कर्मचारियों का वेतन सरकार के अनुदान पर निर्भर है. ऐसे में स्वीकृत पदों पर भर्तियां भी नहीं की जा रही हैं. प्रदेश के 33 निकायों में 19220 पद रिक्त हैं. सरकार ने 973 पदों पर भर्ती की स्वीकृति दे दी मगर निकाय की आर्थिक स्थिति देखी जा रही है.

अनुदान से मिल रही राहत
चुंगी समाप्त हुई तब से निकाय प्रदेश और केंद्र के अनुदान पर आश्रित हो गए हैं. हालांकि निकायों की आय बढ़ाने के कोशिश किए गए. इनमें मूल गृहकर जमा करना भी शामिल है. गृहकर पर पचास प्रतिशत व जुर्माने पर पूरी छूट की घोषणा भी की गई लेकिन वसूली नहीं हो पाई. नगरीय विकास कर पर भी छूट की योजना प्रारम्भ की गई लेकिन इसका भी निकायों को ज्यादा लाभ नहीं हुआ. गौरतलब है?कि निकायों को चुंगी पुनर्भरण, प्रदेश वित्त आयोग, केन्द्रीय वित्त आयोग, स्वच्छ हिंदुस्तान मिशन, स्मार्ट सिटी व अमृत योजना के तहत अनुदान दिय जाता है. पांच साल में प्रदेश के निकायों को इन योजनाओं में 109710.7 करोड़ रुपए अनुदान दिया गया.


इन पदों की चल रही भर्ती प्रकिया
प्रदेश के निकायों में अधिशासी ऑफिसर के 46, राजस्व ऑफिसर के 14, सहायक अभियंता के 236, अग्निशमन ऑफिसर के 29 एवं फायरमैन के 607 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है. अन्य पदों पर भर्ती की स्वीकृति संबंधित निकायों कीआर्थिक स्थिति को देखकर ही जारी की जाएगी.


किस निकाय में कितने पद स्वीकृत व कितने रिक्त
निकाय। मंजूर पद रिक्त
सीकर। 1663.। 524
झुंझुनूं 1078 .320
चूरू 1746 420
भरतपुर । .1668. 376
धौलपुर 590.। 183
करौली 628.। 293
स। माधोपुर। .959 458
श्रीगंगानगर .2525.। 667
हनुमानगढ़। .1994.। 442
बीकानेर । .2673.। 564
उदयपुर। .3405 698
बांसवाड़ा। .828.। 272
डूंगरपुर.421 85
चित्तौडगढ़़। .1629 532
प्रतापगढ़। .361 152
राजसमंद । .875. 216
अजमेर 4672 1629
भीलवाड़ा.875. 216
नागौर.1980 475
टोंक .1267. 359
कोटा .4901. 1171
बारां817.। 158
बूंदी1116. 317
झालावाड़। .956 201
जोधपुर5827.। 1010
जैसलमेर। .367. 157
बाड़मेर । .1067.। 330
जालौर .959. 272
सिरोही । .953. 299
पाली 2668. 1128
अलवर 2063 821
दौसा । .680.। 249
जयपुर .14520. 3940


लॉकडाउन में औनलाइन सुनें संकटमोचन संगीत समारोह

लॉकडाउन में औनलाइन सुनें संकटमोचन संगीत समारोह

हनुमान जन्मोत्सव २०२० (Hanuman Janmotsav 2020): आज हनुमान जयंती है लेकिन कोरोना वाराणसी वायरस के वजह से लगे लॉकडाउन के चलते सारे धार्मिक प्रोग्राम व आयोजन रद्द कर दिए आगये हैं। हनुमान जयंती पर हर वर्ष वाराणसी का मशहूर संकटमोचन संगीत समारोह आयोजित होता है। लेकिन इस वर्ष लॉकडाउन के कारण आप घर बैठे ही औनलाइन माध्यम के जरिये संकटमोचन संगीत समारोह का आनंद ले सकेंगे। मशहूर संगीतकार वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये हनुमान जी के भजन पेश करेंगे।

कार्यक्रम में ये कलाकार देंगे औनलाइन प्रस्तुति:
पंडित जसराज अमेरिका से ही संगीत समारोह में शामिल होंगे, इसके अतिरिक्त गायन में प। राजन-साजन मिश्र, पं। अजय पोहनकर, पं। अजय चक्रवर्ती, उस्ताद राशिद खां, अरमान खां, सुश्री कौशिकी चक्रवर्ती, पं। उल्लास कसालकर , वादन में श्री यूं राजेश-शिवमणि, पं। विश्वजीत राय चौधरी, पं। निलाद्री कुमार, श्री शाकिर खां, उस्ताद मोईनुद्दीन खा-मोमिन खां, पं। भजन सोपोरी-अभय सोपोरी अपनी प्रस्तुति देंगे। नृत्य में पं। राममोहन महराज, पं। कृष्णमोहन महराज के अतिरिक्त तबला पर पं। कुमार बोस, पं। सुरेश तलवलकर, पं। अनिंदों चटर्जी-अनुब्रत चटर्जी, पं। समर साहा, पं। संजू सहाय व उस्ताद अकरम खां-जरगाम खां भी अपनी प्रस्तुति पेश करेंगे।

संकटमोचन मंदिर कॉन्फ्रेंसिंग के अन्य डिजिटल प्लेटफार्म पर प्रसारित करेगा, ताकि हनुमान जी के भक्त व संगीतप्रेमी लाखों लोगों तक यह पहुंच सके। इस बार का आयोजन 12 से 17 अप्रैल तक छह दिवसीय होगा।

सुबह 6 बजे से हनुमान जी का पूजन-अर्चन व बैठकी की झांकी होगी। प्रातः काल 7 बजे से रामायण का पूजन-अर्चन व मानस का एकाह पाठ, रामार्चा पूजन आदि धार्मिक अनुष्ठान पहले की होगी। 9 से 11 अप्रैल तक प्रतिदिन पारंपरिक रूप से रामायण सम्मेलन होगा। मंदिर में ही व्यास जी रामचरित मानस का कथा हनुमान जी को सुनाएंगे। लॉकडाउन चलते यह प्रक्रिया मंदिर के अंदर मंदिर के पुजारी ही करेंगे।

महंत जी ने लोगों से बोला है कि लॉकडाउन का पालन करें व घर पर ही हनुमान जयंती मनाएं व अपनी श्रद्धा और भक्ति घर से ही अर्पित करें। हनुमान जी से कामना करें कि दुनिया इस संकट से जल्द उबरे। उन्होंने बोला कि गोस्वामी तुलसीदास महाराज ने हनुमान जी का नाम संकटमोचन रखा व वह उन्हें सीता माता का वरदान भी प्राप्त है। बजरंगबली इस संकट को काटने में सक्षम हैं। बस उनको बार-बार इस बात की याद दिलानी होती है।