छत्तीसगढ़ः 2.67 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा कोरोना का टीका

छत्तीसगढ़ः 2.67 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा कोरोना का टीका

रायपुर: देशभर में कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीनेशन की तैयारियां जोरों पर हैं। इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ सरकार ने भी कोविड-19 के टीकाकरण की तैयारी शुरू कर दी है। राज्य में पहले चरण में 2.67 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। इसके लिए 99 टीकाकरण केंद्र चिन्हित किए गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने दी ये जानकारी
छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बीते सोमवार को संवाददाताओं से बातचीत के दौरान बताया कि राज्य में कोविड-19 के टीकाकरण के लिए तैयारी की जा रही है। सिंहदेव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई बैठक की जानकारी दी। वह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ बैठक में शामिल हुए। बैठक में कोविड-19 के टीकाकरण को लेकर विचार विमर्श किया गया।

टीके की खेप जल्द पहुंचने की उम्मीद
स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने संवाददाताओं से बातचीत को बताया कि इस महीने की 16 तारीख से पूरे देश समेत राज्य में भी वैक्सीनेशन अभियान शुरू होगा। साथ ही उन्होंने ये भी कहा था कि उम्मीद है कि 13 तारीख से पहले टीका छत्तीसगढ़ पहुंच जाएगा। जिससे उसे राज्य के अलग अलग जगहों पर टीकाकरण केंद्रों में पहुंचाने में आसानी होगी।

2.67 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका
साथ ही उन्होंने बताया कि पहले चरण में राज्य में 2,67,399 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। इसके लिए 99 टीकाकरण केंद्रों की पहचान की गई है। हांलाकि राज्य में कुल 1349 टीकाकरण केंद्र हैं जिनका टीके की उपलब्धता के अनुसार इस्तेमाल किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने बताया कि उम्मीद है कि एक दिन में एक केंद्र में एक सौ स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा।


क्या बिना रजिस्ट्रेशन वैक्सीन लगवाई जा सकती है? जानें

क्या बिना रजिस्ट्रेशन वैक्सीन लगवाई जा सकती है? जानें

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 16 जनवरी को कोरोना के टीकाकरण अभियान का शुभारंभ करेंगे। यह दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण कार्यक्रम होगा जो पूरे देश को कवर करेगा।

लॉन्च के दौरान सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के कुल 3006 वैक्सिनेशन केंद्र जुड़ेंगे. उद्घाटन के दिन प्रत्येक सेंटर पर 100 लाभार्थियों को टीका लगाया जाएगा।

इस बीच बहुत से ऐसे लोग हैं जिनके मन में कल से शुरू हो रहे टीकाकरण को लेकर तमाम तरह के सवाल घूम रहे हैं। वे अभी भी कन्फ्यूज हैं कि उन्हें ये टीका लगवाना चाहिए या नहीं।

कौन-कौन ये टीका लगवा सकता है और किन्हें नहीं लगाया जाएगा। क्या बिना रजिस्ट्रेशन के टीका लगवाया जा सकता है? उन्हें कैसे मालूम पड़ेगा कि वे टीका लगवाने योग्य हैं भी अथवा नहीं।

तो आइए आज हम आपको विस्तार से कोरोना वैक्सीन से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें बताने जा रहे हैं।जो वैक्सीनेशन के समय आपके बहुत ही ज्यादा काम आने वाली है।

सवाल- मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं टीका पाने के योग्य हूं?

जवाब- वैक्सीन पाने के योग्य लोगों को सरकार लाभार्थी के रूप में पंजीकृत करेगी। जिन लाभार्थियों को वैक्सीन दी जाएगी उन्हें उनके मोबाइल नंबर पर एसएमएस के जरिए यह सूचना दी जाएगी कि उन्हें कहां और किस समय टीका दिया जाएगा।

सवाल- क्या बिना रजिस्ट्रेशन के वैक्सीन लगवाई जा सकती है?

जवाब- नहीं, वैक्सीनेशन के लिए तय दिन पर सिर्फ उन्हीं को टीका दिया जाएगा जिन्होंने पंजीकरण करवाया है।

सवाल- कैंसर, डायबिटिज, हाइपरटेंशन या किसी भी गंभीर स्वास्थ्य समस्या से जुड़ी दवाओं का सेवन करने वाले वैक्सीन ले सकते हैं?

जवाब- हां, इन लोगों को भी वैक्सीन लेनी चाहिए क्योंकि ये सबसे ज्यादा जोखिम वाले समूह का हिस्सा हैं।

सवाल-क्या गर्भवती महिलाएं और बच्चों को वैक्सीन दी जा सकती है?

जवाब- नहीं, वैक्सीन गर्भवती और स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के लिए नहीं है। फिलहाल वैक्सीन 18 साल से ऊपर के उम्र के लोगों को ही दी जाएगी।

सवाल- रजिस्ट्रेशन के लिए कौन से डॉक्युमेंट्स की जरूरत होगी?
जवाब-12 सरकारी फोटो आईडी में से कोई एक। इन आईडी में आधार कार्ड, वोटर आईड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, केंद्र-राज्य सरकार द्वारा कर्मचारियों को जारी किया गया फोटो सहित आईडी कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, पासपोर्ट, NPR के तहत आरजीआई द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, फोटो के साथ जारी किए पेंशन डॉक्यूमेंट्स, सांसद-विधायकों या एमएलसी को जारी आधिकारिक पहचान पत्र, पोस्ट ऑफिस या बैंक द्वारा जारी किया गया फोटो सहित पासबुक और श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी किया गया हेल्थ इंश्योरेंस स्मार्ट कार्ड।

सवाल- क्या टीकाकरण केंद्र पर फोटो आईडी साथ ले जाने की जरूरत है?

जवाब-हां, जिस पहचान पत्र के जरिए रजिस्ट्रेशन करवाया गया है, उसे टीकाकरण केंद्र पर दिखाना जरूरी है।

सवाल- क्या दोनों वैक्सीन में से किसी एक को चुन सकते हैं?

जवाब- नहीं। यह सरकारी अधिकारियों पर निर्भर करता है कि वे किसे कौन सी वैक्सीन देंगे।

कोरोना वैक्सीनेशन: ऐसे पता करें कौन सी लगी वैक्सीन, इस तरह तुरंत बनेगी UHID

जवाब- टीका लगवाने के बाद करीब 30 मिनट तक आराम करना चाहिए ताकि यह देखा जा सके कि वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट तो नहीं हो रहा। अगर, कुछ भी अलग लगता है तो तुरंत वैक्सीनेशन टीम को सूचित करें।

सवाल- क्या कोविड-19 के सक्रिय मरीजों को वैक्सीन दी जा सकती है?

जवाब-नहीं, कोरोना से संक्रमितों को वैक्सीन लेने से पहले ठीक होने के लिए चार से आठ हफ्तों तक इंतजार करना चाहिए।

सवाल- क्या कोरोना वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट है?

जवाब- वैक्सीन लेने के बाद बुखार, संक्रमण की जगह पर दर्द, सिर और बदन दर्द, बेचैनी, कमजोरी जैसे हल्के लक्षण हो सकते हैं।


टीएमसी सांसद ने कहा कि भाजपा सत्ता में आई तो मुसलमानों की उलटी गिनती शुरू हो जाएगी       अभी अभी : सरकार का बड़ा ऐलान! कर्मचारियों को तोहफा, अब होगी पैसों की बारिश       क्या बिना रजिस्ट्रेशन वैक्सीन लगवाई जा सकती है? जानें       फिर बेनतीजा रही किसान नेताओं और सरकार के बीच वार्ता       सेना ने किया कमाल, पहली बार साथ उड़े 75 ड्रोन्स       Schools in Himachal Pradesh: 15 फरवरी से तैयार रहें, हुआ ये बड़ा ऐलान       मंत्रालय ने दी ये जानकारी, वैक्सीन लगवाने से पहले जान लें साइड इफेक्ट्स       झारखंड: सोशल मीडिया पर कैंपेन चलाने वालों पर होगा एक्शन       सेना के भयानक हथियार, हिले चीन-पाकिस्तान       अब घर तक शराब पहुंचाएगी सरकार       हरसिमरत का राहुल पर निशाना, बोलीं...       भारत में बनी इस वैक्सीन को लेकर अमेरिकी मीडिया ने खड़े किये सवाल       इन 2 राशियों को मिलेगा लाभ, जानें किसका होगा बुरा हाल       शतभिषा नक्षत्र में ये 2 राशियां रहें सावधान!       UPPCL Junior engineer recruitment 2021: यूपीपीसीएल ने जूनियर इंजीनियर के पदों पर निकली भर्तियां, इस तारीख तक करें आवेदन       IFFI 2020: 51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का हुआ आगाज, इस बार ये है खास       रिषभ पंत को इसके कारण शेन वॉर्न और मार्क वॉ ने दी नसीहत, कहा- दायरे में रहकर करें अपना काम       पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा- कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित, मैं खुद चाहता था लगवाना       OHB समूह के लिए लाॅन्च होगा कम्युनिकेशन सैटेलाइट       Republic Day Parade 2021: दिल्ली-NCR में 15 फरवरी तक ड्रोन व ग्लाइडर उड़ाने पर रहेगा प्रतिबंध