दूल्हा बुलडोजर पर सवार होकर पहुंचा विवाह रचाने , पूरे इलाके में हो रही चर्चा

दूल्हा बुलडोजर पर सवार होकर पहुंचा विवाह रचाने , पूरे इलाके में हो रही चर्चा

मप्र में दूल्हा बुलडोजर पर सवार होकर विवाह रचाने पहुंचा.प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, यह घटना मध्य प्रदेश के आदिवासी बहुल बैतूल जिले के भैंसदेही विकासखंड के भीतर आने वाले झल्लार गांव में मंगलवार को हुई और दूल्हे के साथ उसके परिवार की दो महिलाएं भी बुलडोजर में सवार थीं.

बैतूल (मप्र).उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश सहित राष्ट्र के कुछ राज्यों में गैर कानूनी मकानों एवं प्रतिष्ठानों पर बुलडोजर चलाए जाने के बीच मध्य प्रदेश के बैतूल जिले का एक सिविल इंजीनियर अपनी विवाह को यादगार बनाने के लिए बारात में परंपारिक घोड़ी, बग्गी या कार के बजाय बुलडोजर में बैठकर दुल्हन को लेने मंडप पहुंचा.
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, यह घटना मध्य प्रदेश के आदिवासी बहुल बैतूल जिले के भैंसदेही विकासखंड के भीतर आने वाले झल्लार गांव में मंगलवार को हुई और दूल्हे के साथ उसके परिवार की दो महिलाएं भी बुलडोजर में सवार थीं.

उन्होंने बताया कि बारात में फूलों से सजे बुलडोजर में बैठकर विवाह रचाने के लिए मंडप पहुंचने वाले रोक जायसवाल नाम के इस दूल्हे की विवाह पूरे क्षेत्र में चर्चा का सबब बनी हुई है. इस दौरान बैंड-बाजे एवं डीजे की धुन पर उसके परिजन एवं सम्बन्धी थिरकते नजर भी आए.
व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर बड़ी संख्या में उपयोगकर्ता रोक की बारात से जुड़ी फोटोज़ और वीडियो साझा कर रहे हैं.
झल्लार गांव के रहने वाले दूल्हे ने कहा, ‘‘मैं पेशे से सिविल इंजीनियर हूं और बुलडोजर सहित निर्माण कार्यों से जुड़ी अन्य मशीनों के साथ दिनभर काम करता रहता हूं. इसलिए मेरे मन में विचार आया कि मैं अपने पेशे से जुड़े बुलडोजर पर ही बारात निकालूं.’’
अंकुश ने बताया कि झल्लार गांव से बारात निकलने के बाद उन्होंने केरपानी गांव स्थित मशहूर श्री हनुमान मंदिर में रात्रि आराम किया और फिर बुधवार को उनका शादी केसर बाग में धूमधाम से समापन हुआ.


दिल्ली-मुंबई में कोरोना ने फिर बढ़ाई टेंशन

दिल्ली-मुंबई में कोरोना ने फिर बढ़ाई टेंशन

दिल्ली और महाराष्ट्र में कोविड-19 के बढ़ते ग्राफ ने एक बार फिर चिंता बढ़ा दी है दिल्ली में रविवार को कोरोनावायरस के 648 नए मुद्दे सामने आए और पांच मौतें हुईं स्वास्थ्य विभाग द्वारा मौजूद कराए गए आंकड़ों के मुतबिक राष्ट्रीय राजधानी में एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 3,268 हो गई है वहीं, महाराष्ट्र ने रविवार को 2,962 कोविड​​​​-19 के मुद्दे दर्ज किए हैं स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में 6 कोविड-19 संक्रमित रोगियों ने अपनी जान गंवाई है 

दिल्ली में पॉजिटिविटी दर 4.29%

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में मौजूदा कोविड-19 पॉजिटिविटी दर 4.29 फीसदी है दिल्ली में 1,000 से कम मुद्दे सामने आने का यह लगातार चौथा दिन है शनिवार को, दिल्ली में कोविड -19 के 678 मुद्दे सामने आए थे और संक्रमण से दो मौतें हुई थीं शुक्रवार को दिल्ली ने 5.30 फीसदी पॉजिटिविटी दर दर्ज की थी और 813 कोविड​​​​-19 मुद्दे दर्ज किए थे

दिल्ली में ओमिक्रॉन के दोनों वैरिएंट

दिल्ली में ओमिक्रॉन के बीए.4 और बीए.5 वेरिएंट के कुछ मामलों की पुष्टि हुई है कोविड-19 के ये दोनों ही वैरिएंट तेजी से संक्रमण फैलाते हैं लेकिन जानकारों ने बोला है कि घबराने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि वे गंभीर संक्रमण का कारण नहीं बनते दिल्ली में दैनिक COVID-19 मामलों की संख्या ने महामारी की तीसरी लहर के दौरान 13 जनवरी को रिकॉर्ड 28,867 के उच्च स्तर को छू लिया था दिल्ली ने 14 जनवरी को पॉजिटिविटी दर 30.6 फीसदी दर्ज की थी जो महामारी की तीसरी लहर के दौरान सबसे अधिक थी

महाराष्ट्र में सामने 2 हजार से अधिक मामले

स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन में बोला कि महाराष्ट्र ने रविवार को 2,962 कोविड​​​​-19 मुद्दे दर्ज किए जिनमें सिर्फ मुंबई में ही 761 नए मुद्दे सामने आए हैं ओमिक्रॉन के बीए.4 वैरिएंट का भी एक रोगी सामने आया है इस दौरान महाराष्ट्र में कोविड-19 से 6 संक्रमितों ने जान भी गंवाई है एक दिन पहले शनिवार को राज्य में 2,971 मुद्दे और पांच मौतें हुई थीं राज्य में कोविड-19 के 22,485 एक्टिव मामलें हैं

ओमिक्रॉन के सब वेरिएंट का बढ़ता डर

राज्य में BA.4 और BA.5 कोविड-19 रोगियों की संख्या बढ़कर 64 हो गई है पुणे में 15, मुंबई में 34, नागपुर, ठाणे और पालघर में चार-चार और रायगढ़ में तीन मुद्दे सामने आए हैं मुंबई में 761 कोविड-19 मामलों के साथ तीन मौतें सामने आई हैं महाराष्ट्र में कोविड-19 मौत रेट अब 1.85 फीसदी है