छत्तीसगढ़ बोर्ड परीक्षा के परिणाम जारी

छत्तीसगढ़ बोर्ड परीक्षा के परिणाम जारी

CGBSE Result 2022:छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CGBSE) ने दसवीं और बारहवीं कक्षा के रिज़ल्ट को शनिवार, 14 मई, 2022 को जारी कर दिया है. जिन विद्यार्थियों ने परीक्षा में भाग लिया था, वह अपना रिज़ल्ट CGBSE की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर चेक और डाउनलोड कर सकते हैं. हम इस समाचार में आपको छत्तीसगढ़ बोर्ड परीक्षा परिणाम, टॉपर और कामयाबी फीसदी समेत अन्य सभी महत्वपूर्ण जानकारी से अवगत कराएंगे. 

CG Board Result 2022: ये रही दसवीं के टॉपरों की सूची सुमन पटेल- रैंक 1 सोनाली बाला - रैंक 1 आशिफा शाह - रैंक 2 दामिनी वर्मा - रैंक 2 जय प्रकाश कश्यप - रैंक 2 मुस्कान अग्रवाल - रैंक 2  काहेफ अंजुम- रैंक 2 कमलेश सरकार- रैंक 2 मीनाक्षी प्रधान- रैंक 3 कृष्ण कुमार - रैंक 3 ग्रीतु चंद्रा - रैंक 3 हर्षिका चौरडिया- रैंक 3 CG Board Result 2022: ये रहें बारहवीं के टॉपर रायगढ़ की कुंती साव- रैंक 1 (491 अंक) बिलासपुर की खुशबू वाधवानी- रैंक 2 (482 अंक) बालोद के रितेश कुमार साहू- रैंक-3  (478 अंक)   CG Board Result 2022: CGBSE Result 2022: लड़कियों ने लड़कों को पीछे छोड़ा
छत्तीसगढ़ बोर्ड द्वारा जारी किए गए 12वीं के रिजल्ट में 79.30 फीसदी विद्यार्थी पास हुए हैं. इसमें 81.15 बालिकाएं हैं जबकि 77.03 बालक हैं. यदि दसवीं कक्षा के रिज़ल्ट की बात करें तो इसमें 74.23 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए हैं. इसमें लड़कियों का पास फीसदी 78.84 जबकि लड़कों का पास फीसदी 69.07 रहा. दोनों ही कक्षाओं के रिज़ल्ट में लड़कियों का प्रदर्शन लड़कों से बेहतर रहा है. एक बार फिर से लड़कियों ने लड़कों को पीछे छोड़ दिया है. जानकारी के अनुसार गांव के बच्चों का प्रदर्शन शहरों के बच्चों से अच्छा रहा.

इस समाचार को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 CG Board Result 2022: ये बनें टॉपर
छत्तीसगढ़ बोर्ड की 10वीं कक्षा की परीक्षा के रिज़ल्ट में रायगढ़ की सुमन पटेल और कांकेर की सानिया बाला ने टॉप किया. दोनों को हीं  592 अंक प्राप्त हुए हैं.  इसके साथ ही 12वीं की परीक्षा में यगढ़ की कुंती साव ने टॉप किया है.  CG Board Result 2022: ये रही दसवीं के टॉपरों की सूची सुमन पटेल- रैंक 1 सोनाली बाला - रैंक 1 आशिफा शाह - रैंक 2 दामिनी वर्मा - रैंक 2 जय प्रकाश कश्यप - रैंक 2 मुस्कान अग्रवाल - रैंक 2  काहेफ अंजुम- रैंक 2 कमलेश सरकार- रैंक 2 मीनाक्षी प्रधान- रैंक 3 कृष्ण कुमार - रैंक 3 ग्रीतु चंद्रा - रैंक 3 हर्षिका चौरडिया- रैंक 3 CG Board Result 2022: ये रहें बारहवीं के टॉपर रायगढ़ की कुंती साव- रैंक 1 (491 अंक) बिलासपुर की खुशबू वाधवानी- रैंक 2 (482 अंक) बालोद के रितेश कुमार साहू- रैंक-3  (478 अंक)   CG Board Result 2022: CGBSE Result 2022: लड़कियों ने लड़कों को पीछे छोड़ा
छत्तीसगढ़ बोर्ड द्वारा जारी किए गए 12वीं के रिजल्ट में 79.30 फीसदी विद्यार्थी पास हुए हैं. इसमें 81.15 बालिकाएं हैं जबकि 77.03 बालक हैं. यदि दसवीं कक्षा के रिज़ल्ट की बात करें तो इसमें 74.23 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए हैं. इसमें लड़कियों का पास फीसदी 78.84 जबकि लड़कों का पास फीसदी 69.07 रहा. दोनों ही कक्षाओं के रिज़ल्ट में लड़कियों का प्रदर्शन लड़कों से बेहतर रहा है. एक बार फिर से लड़कियों ने लड़कों को पीछे छोड़ दिया है. जानकारी के अनुसार गांव के बच्चों का प्रदर्शन शहरों के बच्चों से अच्छा रहा.


घूस लेकर चीनी नागरिकों को दिलवाया वीजा

घूस लेकर चीनी नागरिकों को दिलवाया वीजा

सीबीआई ने पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम के बेटे और कांग्रेस पार्टी सांसद कार्ति चिदंबरम के विरूद्ध एक और मामला दर्ज कर उनके करीब 10 ठिकानों पर छापेमारी की ये छापेमारी दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कर्नाटक, पंजाब और ओडिशा में की गई है सीबीआई ने कार्ति चिंदबरम और दूसरे आरोपियों के विरूद्ध जो मामला दर्ज किया है उसमें आरोप है कि कार्ति ने 50 लाख रुपये घूस लेकर गृह मंत्रालय से चीनी नागरिकों को वीजा दिलवाया हैय

चीनी नागरिकों को दिलवाया वीजा

सीबीआई में दर्ज मुद्दे के अनुसार पंजाब के मानसा में तलवंडी साबो पावर प्लांट लग रहा था इस थर्मल पावर प्लांट की क्षमता 1980 मेगा वॉट थी जिसे लगाने का जिम्मा चीन की Shandong Electric Power Construction Corp (SEPCO) को दिया गया था

यही वजह थी कि इस प्लांट को लगाने के लिये चीन के इंजीनियरों को प्रोजेक्ट वीजा दिया गया था लेकिन काम में देरी के चलते कंपनी को अधिक चीनी इंजीनियरों की आवश्यकता थी जिसके लिये वे वीजा स्वीकृति चाहिये थे क्योंकि इससे पहले जो प्रोजेक्ट वीजा दिये गये थे वो तय समय से अधिक हो चुके थे और फिर से वीजा के लिये गृह मंत्रालय से स्वीकृति महत्वपूर्ण थी

एक कपंनी के जरिए 50 लाख की घूस

इसके लिये पावर प्लांट ने कार्ति चिंदबरम को संपर्क किया और फिर 50 लाख रुपयों के बदले कार्ति चिदंबरम ने गृह मंत्रालय से 263 Re-use प्रोजेक्ट वीजा की स्वीकृति दिलवाई ध्यान देने वाली बात ये है कि वर्ष 2011 में जब ये स्वीकृति दिलवाई गई उस दौरान कार्ति के पिता पी चिदंबरम राष्ट्र के गृहमंत्री थे  

एजेंसी के अनुसार चीनी इंजीनियरों को वीजा दिलाने के बदले जो 50 लाख की घूस दी गई थी वो मुंबई की एक कंपनी M/s Bell Tools Ltd के जरिये दी गई थी कार्ति की कंपनी ने कंस्लटेंसी के नाम पर फर्जी बिल इस कंपनी के नाम बनाया जिसके बदले ये रिशवत दी गई