गुजरात कैबिनेट विस्तार: मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की टीम में ये मंत्री होंगे शामिल, आज होगा शपथ ग्रहण

गुजरात कैबिनेट विस्तार: मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की टीम में ये मंत्री होंगे शामिल, आज होगा शपथ ग्रहण

गांधीनगर गुजरात मंत्रिमंडल का विस्तार गुरुवार दोपहर को होगा समाचार है कि इस दौरान 27 मंत्री शपथ ले सकते हैं प्रदेश के नए सीएम भूपेंद्र पटेल की टीम में हर्ष संघवी, राघवजी पटेल को स्थान मिली है सूत्रों ने जानकारी दी थी कि गुजरात मंत्रिमंडल का गठन ‘नो रिपीट थ्योरी’ पर किया जाएगा यानि पुराने मंत्रियों को मौका नहीं मिलेगा गुरुवार दोपहर 1:30 बजे नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण कार्यक्रम होना है इससे पहले प्रोग्राम बुधवार को किया जाना था, लेकिन बाद में इसे टाल दिया गया था  सीएम पटेल के कैबिनेट में 8 पटेल, 2 क्षत्रिय, 6 ओबीसी, 2 अनुसूचित जाति, 3 एसटी, 1 जैन, 2 ब्राह्मण और दो स्त्रियों को स्थान मिली है

ये मंत्री होंगे शामिल
हर्ष संघवी (मजूरा), जूती वाघआनी (भावनगर), नरेश पटेल (गणदेवी), प्रदीप परमार (असारवा), गजेंद्र परमार (प्रांतिज), निमिषा सुथार (मोरवा हड़फ), देवा मालम कोड़ी (केशोद), राघवजी पटेल (जामनगर ग्राम्य), अरविंद रैयानी, आर सी मकवाना (महुवा) आज दोपहर राजधानी गांधीनगर स्थित राजभवन में मंत्री पद की शपथ लेंगे

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कुछ नेताओं ने मंत्रिमंडल में स्थान न मिलने की संभावनाओं पर विरोध जताया है मुख्यमंत्री पटेल ने सोमवार को गुजरात के 17वें सीएम के तौर पर शपथ ली थी इससे पहले प्रदेश की कमान विजय रूपाणी के हाथों में थी बीजेपी के इस कदम को 2022 के अंत में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव की तैयारियों के रूप में भी देखा जा रहा है 2017 विधानसभा चुनाव में पार्टी ने 182 में से 99 सीटों पर जीत हासिल कर सत्ता बनाई थी

यह समाचार लगातार सामने आ रही है कि गुजरात सरकार के नए मंत्रिमंडल में पुराने किसी भी मंत्री को स्थान नहीं मिलेगी, लेकिन प्रदीपसिंह जडेजा, सौरभ पटेल, जयेश रडाडिया, गनपत वसावा, दिलीप ठाकोर के मंत्री बनने की थोड़ी-बहुत संभावनाएं हैं फिलहाल, कई मंत्रियों के पास नयी जिम्मेदारी के विषय में कॉल पहुंचना प्रारम्भ हो गए हैं

बीजेपी विधायक नरेश पटेल ने कहा, ‘मुझे कुछ मिनट पहले ही पार्टी के प्रदेश प्रमुख सीआर पाटिल की तरफ से कॉल आया है मुझ जैसे आदमी को प्रदेश कैबिनेट में शामिल करने के लिए मैं पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा का आभारी हूं 

भारत रक्षा निर्यात में वैश्विक लीडर बने इसके लिए रक्षा मंत्रालय प्रयासरत: राजनाथ सिंह

भारत रक्षा निर्यात में वैश्विक लीडर बने इसके लिए रक्षा मंत्रालय प्रयासरत: राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि रक्षा उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा दिया जा रहा है। रक्षा मंत्री ने बेंगलुरु में कहा कहा कि रक्षा उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने और भारत को वैश्विक रक्षा आपूर्ति चेन का हिस्सा बनाने के उद्देश्य से हमने 2024-25 तक एयरोस्पेस, रक्षा सामान और सेवाओं में 35,000 करोड़ रुपये के निर्यात का लक्ष्य निर्धारित किया है।

उन्होंने आगे एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि भारत पहली बार दुनिया के शीर्ष 25 रक्षा निर्यातक देश की सूची में शामिल हुआ है। रक्षा मंत्री ने कहा, 'स्टाकहोम अंतर्राष्ट्रीय शांति अनुसंधान संस्थान की 2020 की रिपोर्ट के अनुसार, भारत पहली बार दुनिया के शीर्ष 25 रक्षा निर्यातक देश की सूची में शामिल हुआ है। भारत रक्षा निर्यात में वैश्विक लीडर बने इसके लिए रक्षा मंत्रालय लगातार प्रयास कर रहा है।'


हाल ही में राजनाथ सिंह ने नौसेना कमांडर सम्मेलन के तीन दिवसीय दूसरे संस्करण को संबोधित करते हुए कहा था कि भारत हिंद महासागर क्षेत्र को नौवहन की नियम आधारित स्वतंत्रता और मुक्त व्यापार जैसे सार्वभौमिक मूल्यों के साथ देखता है जिसमें सभी प्रतिभागी देशों के हितों की रक्षा हो। राजनाथ सिंह ने कहा कि व्यापार और अन्य आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने के लिए भारतीय समुद्र क्षेत्र में शांति एवं स्थिरता कायम रखने की बेहद जरूरत है।