कंपनी ने किया कंफर्म, POCO TWS ईयरबड्स हिंदुस्तान में जल्द होगा लॉन्च       Geekbench पर हुआ लिस्ट, Honor 30 Pro Smart Phone Kirin 990 5G चिपसेट से होगा लैस       पांच नहीं अब सिर्फ एक चैट में कर पाएंगे मैसेज Forward, Whatsapp का बड़ा फैसला!       48MP रियर कैमरे के साथ Infinix Note 7 व Note 7 Lite लॉन्च       नए जीएसटी रेट से बढ़ गए सभी मोबाइल के दाम, लेकिन...       JIO ने 102GB Data वाला प्लान किया लॉन्च, जानें       30 जून तक बढ़ाई इस सस्ते प्लान की वैलिडिटी, लॉकडाउन के बीच BSNL का धांसू ऑफर!       48MP रियर कैमरे के साथ Infinix Note 7 व Note 7 Lite लॉन्च       भारतीय सर्टिफिकेशन साइट पर हुआ लिस्ट, Realme TV 43 इंच की स्क्रीन के साथ होगा लॉन्च       Huawei Nova 7 सीरीज 23 अप्रैल हो सकती है लॉन्च, जानें संभावित मूल्य       32+8MP डुअल सेल्फी कैमरे के साथ Vivo V19 लॉन्च       लॉकडाउन की वजह से टीवी देखने के समय में हुई 37 प्रतिशत की बढ़ोतरी, लेकिन...       चार रियर कैमरे व 5000 mAh बैटरी वाला Vivo Y50 लॉन्च       5000mah बैटरी के साथ Vivo Y50 लॉन्च, जानें मूल्य       बहुत कार्य का है गूगल से जुड़ा है WhatsApp का ये नया फीचर       कम मूल्य में लॉन्च हुआ Vivo का नया फोन, 5 कैमरे, 5000mAh की दमदार बैटरी       लॉकडाउन के बीच बढ़ी TikTok की दीवानगी       जल्द होने कि सम्भावना है लॉन्च, Samsung Galaxy A51 5G Wi-Fi सर्टिफिकेशन साइट पर हुआ लिस्ट       Apple बना रही फेस शील्ड, अमेरिका व चाइना में चल रहा है काम       Apple iPhone 9 लॉन्च से पहले वेबसाइट पर हुआ लिस्ट      

पीएम मोदी कोरोना के विरूद्ध युद्ध को वैश्विक लड़ाई में बदलने का करेंगे आह्वान

पीएम मोदी कोरोना के विरूद्ध युद्ध को वैश्विक लड़ाई में बदलने का करेंगे आह्वान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 मार्च को होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में कोरोना वायरस के विरूद्ध चल रही लड़ाई को वैश्विक लड़ाई में बदलना चाहते है, जहां प्रतिभागी देश अपने चिकित्सा ज्ञान व संसाधनों में तालमेल की मदद से वायरस के प्रसार को रोकने में मदद कर सकें. इस मीटिंग के जुड़े लोगों ने इस बात की जानकारी दी है. 

संयुक्त देश सुरक्षा परिषद में वर्तमान में चाइना की अध्यक्षता में 15 सदस्यीय समिति तक सीमित होने के बजाय, जी-20 में 46 राष्ट्रों (यदि यूरोपीय संघ को भिन्न-भिन्न संस्थाओं में विभाजित किया गया है) वाला एक प्रतिनिधि निकाय है, इसमें शामिल लगभग सभी राष्ट्रों में इस वायरस ने कहर बरपाया हुआ है. 



जी-20 मीटिंग का उद्देश्य मेम्बर राष्ट्रों के लिए सबसे बेकार स्थिति में अपनी चिकित्सा क्षमता को बढ़ाने के लिए होगा व वायरस के प्रसार को रोकने एवं उसके उपचार के लिए वैज्ञानिक कोशिश करना होगा. 

हालांकि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार शाम को 21 दिनों के ऐतिहासिक राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की, लेकिन उन्होंने 18 मार्च को उत्तर-दक्षिण गलियारे पर लंबी दूरी की ट्रेनों को रोककर इसके लिए पहला निर्णायक कदम उठाया.

जी-20 के शीर्ष नेताओं के वीडियो कांफ्रेन्सिंग पीएम मोदी होंगे शामिल

गौरतलब हो कि सऊदी अरब के सुलतान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल साऊद जी-20 राष्ट्रों के इमरजेंसी शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे. यह सम्मेलन गुरुवार को वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिए होगा. पीएम नरेंद्र मोदी समेत संसार के अन्य शीर्ष नेता इसमें शामिल होंगे.

वैसे जी-20 की अध्यक्षता कर रहे सऊदी अरब ने पिछले हफ्ते वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिए जी-20 शिखर सम्मेलन आयोजित करने का आह्वान किया. उसने यह आह्वान ऐसे समय किया है इस वैश्विक संकट से निपटने को लेकर समूह की बड़ी अर्थव्यवस्था वाले राष्ट्रों तेजी से कदम नहीं उठाए जाने को लेकर आलोचना हो रही है.

बुधवार को जारी आधिकारिक बयान के अनुसार कि जी-20 के अध्यक्ष सऊदी अरब ने 26 मार्च गुरुवार को समूह की वीडियो कांफ्रन्सिंग के जरिए असाधारण मीटिंग बुलाई है. सुलतान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल साऊद मीटिंग की अध्यक्षता करेंगे. यह मीटिंग कोरोना वायरस महामारी व उसके मानवीय व आर्थिक असर से निपेटने को लेकर समन्वित तरीकों पर विचार करेगा. 

इटली, स्पेन, जार्डन, सिंगापुर व स्विट्जरलैंड जैसे जी-20 में शामिल कोरोना वायरस से प्रभावित राष्ट्रों के प्रतिनिधि इसमें शामिल होंगे. संयुक्त राष्ट्र, विश्वबैंक, दुनिया स्वास्थ्य संगठन, दुनिया वपार संगठन, अंतर्राष्ट्रीय मुद्राकोष व आर्थिक योगदान एवं विकास संगठन जैसे शीर्ष अंतर्राष्ट्रीय संगठन भी इसमें शामिल होंगे.

मीटिंग में आसियान (दक्षिण पूर्व एशियाई राष्ट्रों के संगठन), अफ्रीकी संघ, खाड़ी योगदान परिषद व अफ्रीका के विकास के लिए नयी सहभागिता (एनईपीएडी) जैसे क्षेत्रीय संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे.

जी-20 में हिंदुस्तान के अलावा, अर्जेन्टीना, आस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, जर्मनी, फ्रांस, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ब्रिटेन व अमेरिका शामिल हैं. रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन भी इसमें शामिल होंगे.


देश में कोरोना के मरीजों की संख्या 4 हजार के हुई पार

देश में कोरोना के मरीजों की संख्या 4 हजार के हुई पार

चीन के वुहान से प्रारम्भ हुए कोरोना वायरस से दुनियाभर के कई देश बुरी तरह से प्रभावित हैं. हिंदुस्तान में भी संक्रमित मरीजों का आंकड़ा चार हजार के पार पहुंच चुका है. मरने वालों की संख्या में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है. वहीं, देश में कोरोना से होने वाली मौतों को लेकर पहली बार केन्द्र सरकार ने आंकड़े जारी किए हैं. 

63 प्रतिशत मौतें साठ से अधिक आयु के लोगों की हुई हैं, जबिक कोरोना संक्रमित लोगों में इस आयु के लोगों का फीसदी महज 19 प्रतिशत है. अमेरिका में साढ़े तीन लाख से भी ज्यादा कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या हो चुकी है. इसके अतिरिक्त दस हजार से भी ज्यादा की मृत्यु हुई है.