कदम दर कदम आगे बढ़ती हिंदी, दुनियाभर में हिंदी तीसरी सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा

कदम दर कदम आगे बढ़ती हिंदी, दुनियाभर में हिंदी तीसरी सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा

14 सितंबर, 1949 को हिंदी को संवैधानिक रूप से राजभाषा का दर्जा दिया गया था। संविधान के अनुच्छेद 343 में उल्लेख किया गया है कि देवनागरी लिपि के साथ हिंदी भारत की राजभाषा होगी। इसके बाद हर क्षेत्र में हिंदी को प्रसारित करने के लिए राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा के अनुरोध पर 1953 से हर 14 सितंबर को देश में हिंदी दिवस मनाया जाने लगा।

कई राज्यों की मुख्य भाषा: उत्तर प्रदेश, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली जैसे राज्यों में हिंदी बोलचाल की मुख्य भाषा है। झारखंड, बिहार, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत कुछ अन्य राज्यों में भी हिंदी प्रमुखता से बोली जाती है।

53 करोड़ है भारत में हिंदी बोलने वालों की संख्या

अहम बातें

फिजी, मारीशस, गुयाना, सूरीनाम में हिंदी को अल्पसंख्यक भाषा का दर्जा मिला है
अमेरिका में 30 से ज्यादा विश्वविद्यालयों व शिक्षण संस्थानों में हिंदी पढ़ाई जाती है
जर्मनी के 15 शिक्षण संस्थानों ने हिंदी भाषा और साहित्य के अध्ययन को अपनाया है
ब्रिटेन की लंदन यूनिवर्सिटी, कैंब्रिज यूनिवर्सिटी और यार्क यूनिवर्सिटी में भी हिंदी पढ़ाई जाती है
भारत को बेहतर तरीके से जानने के लिए दुनियाभर में करीब सवा सौ शिक्षण संस्थानों में हिंदी का अध्ययन-अध्यापन होता है
तीसरी सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा: दुनियाभर में हिंदी तीसरी सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा है। इसके 70 करोड़ लोग बोलते हैं। 1.12 अरब बोलने वालों के साथ अंग्रेजी पहले और 1.10 अरब के साथ चीन की मंदारिन भाषा दूसरे स्थान पर है। 51.29 करोड़ और 42.2 करोड़ के साथ स्पैनिश व अरब का क्रमश: चौथा और पांचवां स्थान है। दुनियाभर की भाषाओं की जानकारी पर प्रकाशित होने वाले एथनोलाग के कुछ साल पहले आए संस्करण के मुताबिक, 28 ऐसी भाषाएं हैं, जिनके बोलने वालों की संख्या पांच करोड़ से ज्यादा है।

बढ़ रही मौजूदगी: विदेश में दो दर्जन से ज्यादा पत्र-पत्रिकाओं का नियमित तौर पर हिंदी में प्रकाशन हो रहा है। कई देशों में हिंदी में रेडियो व टीवी प्रोग्राम भी आते हैं। एक दर्जन से ज्यादा देशों में इस समय हिंदी भाषी लोग ठीक-ठाक संख्या में रह रहे हैं।

तकनीक की दुनिया में बढ़ा दखल: इंटरनेट के बढ़ते इस्तेमाल के साथ तकनीक की दुनिया में हिंदी का दखल बढ़ा है। माइक्रोसाफ्ट, गूगल, ओरेकल व आइबीएम जैसी बड़ी कंपनियां हिंदी का इस्तेमाल बढ़ा रही हैं। इंटरनेट की दुनिया में भी हिंदी का दबदबा लगातार बढ़ रहा है।


केरल में फिर बढ़े मामले, पूरे देश में बढ़े केसों ने बढ़ाई चिंता

केरल में फिर बढ़े मामले, पूरे देश में बढ़े केसों ने बढ़ाई चिंता

बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 30,570 नए मामले आने से अब तक संक्रमित होने वालों की संख्या बढ़कर 3,33,47,325 हो गई। इन नए मामलों में 22,182 मामले अकेले केरल में दर्ज किए गए। इस दौरान देश में कोरोना से 431 लोगों की मौत भी हुई जिसमें से 182 मौतें केरल में दर्ज की गईं। गुरुवार को शाम सात बजे तक 58.26 लाख टीके लगाए गए।

देश में कोरोना के मामले 4 दिन बाद फिर बढ़ गए हैं। लगातार चौथे दिन तक कोरोना के केस में कमी देखी जा रही थी। रोजाना 30 हजार से कम मामले दर्ज किए जा रहे थे, लेकिन गुरुवार सुबह नए कोविड केस फिस 30 हजार से ज्यादा दर्ज किए गए। 

केरल में फिर बढ़े मामले

वहीं देश में अभी 50 फीसदी से ज्यादा मामले केरल से आ रहे हैं। गुरुवार सुबह कोरोना के 17,681 नए मामले केरल से सामने आए। महामारी से 208 और मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ ही कुल मामले बढ़कर 44 लाख 24 हजार 46 हो गए और मृतकों की संख्या 22,987 पर पहुंच गई। यहां संक्रमण दर 18 फीसद से ज्यादा है। वहीं गुरुवार शाम को केरल में गुरुवार शाम को 22,182 नए मामले सामने आए हैं। 26,563 लोग ठीक हो रहे हैं और 178 लोगों की मौत हुई है।

तेजी से हो रहा वैक्सीनेशन

देश में वीकली पाजिटिविटी रेट की बात करें तो यह 1.93फीसद है। पिछले 83 दिनों से ये 3 प्रतिशत से नीचे है। डेली पाजिटिविटी रेट 1.94 प्रतिशत है जो कि पिछले 17 दिनों से 3 प्रतिशत से नीचे है। पिछले 24 घंटे में 58.26 लाख लोगों का वैक्सीनेशन हुआ। अब तक कुल 77.10 करोड़ वैक्सीनेशन हो चुका है।

स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी

देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई और तेज हो गई है। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने रूस की स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी दे दी है। बता दें कि यह सिंगल डोज वैक्सीन है जिसके बाद दूसरे डोज की जरूरत नहीं होगी। भारत में अभी जितनी भी वैक्‍सीन लगाई जा रही हैं उनकी दो डोज लगवानी पड़ती है।

देश में कोरोना की स्थिति

कोरोना/वैक्सीन मीटर (आंकड़े टैली फारमेट के लिए) ------- भारत, उत्तर प्रदेश, लखनऊ

24 घंटे में नए मामले- 30,570

कुल सक्रिय मामले- 3,42,923

24 घंटे में टीकाकरण- 58.26 लाख

कुल टीकाकरण- 77.10 करोड़

गुरुवार सुबह 08:00 बजे तक कोरोना की स्थिति

नए मामले- 30,570

कुल मामले- 3,33,47,325

सक्रिय मामले- 3,42,923

मौतें (24 घंटे में)- 431

कुल मौतें- 4,43,928

ठीक होने की दर- 97.64 फीसद

मृत्यु दर- 1.33 फीसद

पाजिटिविटी दर- 1.94 फीसद

सा.पाजिटिविटी दर- 1.93 फीसद

जांचें (बुधवार)- 15,79,761

कुल जांचें- 54,77,01,729