जापान में भूकंप के तगड़े झटके, बुलट ट्रेन की सेवाएं रोकी गईं

जापान में भूकंप के तगड़े झटके, बुलट ट्रेन की सेवाएं रोकी गईं

नई दिल्ली/ टोक्यो: जापान के उत्तर पश्चिमी हिस्से में मंगलवार को 6.7 तीव्रता वाले ताकतवर भूकंप के बाद अधिकारियों ने सुनामी की चेतावनी जारी की लेकिन ढाई घंटे के बाद उसे वापस ले लिया गया।

भूकंप के कारण हजारों घरों में बिजली चली गई व बुलेट ट्रेन की सेवाएं रोक दी गई। हालांकि भूकंप से लोगों के गंभीर रूप से घायल होने या क्षति की कोई समाचार नहीं है। जापान की मौसम एजेंसी ने बताया कि भूकंप यामगता से लगभग 50 किलोमीटर दूर सकाता शहर के दक्षिण पश्चिम में आया।

एजेंसी ने यामगता के तट पर एक मीटर तक ऊंची लहरें उठने की संभावना जाहिर की। भूकंप में घायलों व नुकसान का आकलन करने के लिए पीएम ऑफिस में एक आपात रिएक्शन टीम का गठन किया गया है।

चीन में भूकंप से 13 लोगों की मृत्यु
चाइना के सिचुआन प्रांत में सोमवार रात व मंगलवार प्रातः काल आए भूकंप के दो ताकतवर झटकों में कम से कम 13 लोगों की मृत्यु हो गई है व करीब 200 लोग जख्मी हो गए। सरकार ने मलबे में से जीवित लोगों को निकालने के कोशिश तेज कर दिए हैं।

चीनी भूकम्प केंद्र (सीईएनसी) के अनुसार रिक्टर पैमाने पर 6.0 तीव्रता का पहला झटका लोकलसमयानुसार सोमवार रात 10 बजकर 55 मिनट पर यीपिन शहर के छांगनिंग इलाके में आया।मंगलवार प्रातः काल महसूस हुए दूसरे झटके की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.3 मापी गई। इसके बाद भूकंप के बाद के कई झटके महसूस किए गए।

आपातकालीन प्रबंधन मंत्रालय ने बताया कि 13 लोगों की मृत्यु हुई है व 199 जख्मी हैं। बचाव अभियान चल रहा है। राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने राहत कार्यों व घायलों को बचाने के लिए सभी कोशिशकरने के आदेश दिए हैं। शी ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि वे घायलों को बचाने में अहमियतदें तथा हताहतों की संख्या न्यूनतम करें।