बजाज ने बताई ऑटो सेक्टर में मंदी की वजह, कहा...

बजाज ने बताई ऑटो सेक्टर में मंदी की वजह, कहा...

मुंबई: पिछले कई महीनों से ऑटो सेक्टर भारी मंदी से गुजर रहा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गाड़ियों की बिक्री गिरने के लिए Ola, Uber व BS6 के असर को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने बोलाकि ऑटो इंडस्ट्री पर BS6 व मिलेनियल्स माइंडसेट की वजह से चोट पड़ी है। नए जमाने के लोग गाड़ियां खरीदने के बजाय ओला-उबर का प्रयोग कर रहे हैं। लेकिन इस बीच बजाज के मैनेजिंग डायरेक्टर राजीव बजाज का बोलना है कि मंदी के लिए ओवर प्रोडक्शन जिम्मेदार है।

ओवर प्रोडक्शन है जिम्मेदार
इक्नॉमिक टाइम्स की समाचार के मुताबिक, राजीव बजाज ने बोला है कि ऑटो सेक्टर में सुस्ती के लिए आर्थिक मंदी से ज्यादा ओवर प्रॉडक्शन जिम्मेदार है व GST की दर में कटौती की कोई आवश्यकता नहीं है। उनका ये बयान 20 सितंबर को होने वाली GST काउंसिल की मीटिंग पहले आया है। बता दें कि ऑटो इंडस्ट्री ने जीएसटी दरों में कटौती की मांग उठाई है। वहीं इस पर बजाज का बोलना है कि ऐसी कोई भी इंडस्ट्री नहीं है जो बिना किसी करेक्शन के हमेशा बढ़ती रहे। ऐसे में मिराज का पीछा करने का कोई लाभ नहीं है। हर एक इंडस्ट्री के अपने उतार-चढ़ाव होते हैं। इसमें दशा अच्छा होने में एक या दो वर्ष भी लग सकते हैं। किसी को नहीं पता इसमें कितना समय लगेगा।लेकिन इसके लिए GST की दर कम करने की आवश्यकता नहीं है।

फंस जाएगा डीलर्स का पैसा

उन्होंने बोला कि BS-6 मॉडल के अनुसार इंडस्ट्री खुद को ढाल रही है व ये समस्या नवंबर तक समाप्त हो जाएगी। राजीव बजाज का मानना है कि अगर GST 28 फीसद से घटाकर 18 प्रतिशतकर दिया जाएगा, तो इससे डीलर्स का पैसा फंस जाएगा। डीलर्स के पास अभी जो इन्वेंट्री उपस्थित है, उसके लिए उन्होंने ज्यादा GST दिया हुआ है। जब कि ग्राहक सस्ती गाड़ियां खरीदना चाहते हैं। अगर ऐसा होता है तो इससे डीलरों को नुकसान उठाना पड़ेगा। ऐसी किसी स्थिति का सामना न करना पड़े इसके लिए GST कट सिर्फ BS6 कम्पलाइंट वाली गाड़ियों पर ही लागू किया जाना चाहिए। इससे नए नियमों के हिसाब से बनने वाली गाड़ियों की मूल्य में भी कुछ कमी आएगी।