इस्लामी आतंकवाद के विरूद्ध भारत-अमेरिका एक साथ : डोनाल्ड ट्रम्प

इस्लामी आतंकवाद के विरूद्ध भारत-अमेरिका एक साथ : डोनाल्ड ट्रम्प

नई दिल्ली/वाशिंगटन: पाकिस्तान के पीएम इमरान खान से मुलाकात करने से पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बड़ा बयान दिया है। अमेरिका के ह्यूस्टन में Howdy Modi प्रोग्राम के मंच से राष्ट्रपति ट्रंप ने बोला कि कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद बहुत बड़ा खतरा है व भारत-अमेरिका एकजुट होकर इससे लड़ेंगे। ट्रंप ने यह भी बोला कि दोनों राष्ट्रों के लिए सीमा सुरक्षा बहुत आवश्यक है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस्लामी आतंकवाद का जिक्र करते हुए सीमाओं की सुरक्षा को अमेरिका व हिंदुस्तान दोनों के लिए जरूरी करार दिया। ट्रम्प ने बोला कि, ''हम बेगुनाह नागरिकों की कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद के खतरे से रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। '' इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने खड़े होकर ट्रम्प के इस बयान पर तालियां बजाईं।

ट्रंप ने यह भी बोला कि, ''भारत व अमेरिका मानते हैं कि अपने समुदाय को सुरक्षित रखने के लिए हमें अपनी सीमाओं की रक्षा करनी होगी। सीमा सुरक्षा हिंदुस्तान व अमेरिका दोनों के लिए अहम है, यह हम समझते हैं। '' राष्ट्रपति ट्रंप ने यह बात ऐसे समय में कही है जब पाक के पीएम इमरान खान भी संयुक्त देश महासभा के सम्मेलन में शामिल होने के लिए अमेरिका पहुंचे हैं। इमरान भी राष्ट्रपति ट्रंप से मुलाकात कर सकते हैं।