पति से मिलने UAE गई भारतीय महिला को हुई दुर्लभ बीमारी

पति से मिलने UAE गई भारतीय महिला को हुई दुर्लभ बीमारी

नई दिल्ली/अबू धाबी: भारतीय मूल की एक 20 वर्षीय महिला संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में मृत्यु से जूझ रही है. बीते 6 महीने से वह ज़िंदगी रक्षक प्रणाली पर है.

दरअसल, नीतू शाही पनिक्कर (Neethu Shaji Panikker) नाम की महिला इस वर्ष जनवरी में अपने पति से मिलने के लिए शारजाह पहुंची थी, इसी बीच उसे पता चला कि वह ऑटोइम्यून इंसेफलाइटिस (Autoimmune Encephalitis) से पीड़ित है.

नीतू की तबीयत तेजी के साथ बिगड़ने लगा, जिसके बाद उसे फौरन अबूधाबी के शेख खलीफा अस्पताल में भर्ती कराया गया. नीतू 27 मार्च से ज़िंदगी रक्षक प्रणाली पर है.

बता दें कि यह एक ऐसी बीमारी है जिसके कारण शरीर का प्रतिरोधी तंत्र मस्तिष्क की स्वस्थ कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाती है, जिससे दिमाग में सूजन आ जाती है.

बीते वर्ष दिसंबर में हुई थी शादी

गंभीर बीमारी से जूझ रही नीतू की मां बिन्दु ललिता ने बताया कि पिछले वर्ष दिसंबर में ही नीतू की विवाह जितिन से हुई थी, जो शारजाह में रहता है. नीतू जनवरी के आखिर में यूएई आई थी व फिर 17 मार्च को बीमार पड़ गई.

नीतू की मां कपड़े सिलने का कार्य करती है. उन्होंने बताया कि उसके पति की मृत्यु के बाद उसने बहुत ज्यादा मुश्किलों से अपने दो बच्चों की परवरिश की है.

ललिता ने बोला कि अस्पताल में डॉक्टरों ने उनकी बेटी के लिए बहुत कुछ किया है. इसके लिए वह उनका शुक्रिया अदा करते नहीं थकती है. उसने बोला कि मैं जितना भी शुक्रिया अदा करूं, वो कम ही होगा.

बता दें कि ऑटोइम्यून इंसेफलाइटिस जैसे बीमारी का उपचार प्रतिरक्षा रिएक्शन को कम करने वाले तरीकों व जरूरत पड़ने पर ट्यूमर को हटाकर किया जा सकता है.