कुछ सीन को काटकर रिलीज होगी जॉन इस एक्टर की फिल्म

कुछ सीन को काटकर रिलीज होगी जॉन इस एक्टर की फिल्म

बॉलीवुड की चर्चित फिल्म बाटला हाउस 15 अगस्त को रिलीज होगी. हाई कोर्ट ने मंगलवार को इस फिल्म को रिलीज करने की अनुमति दे दी है. हालांकि फिल्म के कुछ दृश्यों को देखने से दर्शक वंचित रह जाएंगे. फिल्म के निर्माता ने फिल्म से उन दो दृश्यों को हटा दिया है जिस पर दिल्ली सिरीयल ब्लास्ट 2008 के आरोपियों ने असहमति जताई थी.Image result for कुछ सीन को काटकर रिलीज होगी जॉन अब्राहम की फिल्म 'बाटला हाउस'

न्यायमूर्ति विभू बाखरू ने मंगलवार को दो दृश्यों को हटाने जाने के बाद फिल्म को देखा. इसके बाद फिल्म को रिलीज करने की अनुमति दे दी. इसके साथ ही निर्माता/निर्देशक को इस बात का हिंदी और अंग्रेजी में डिस्क्लेमर दिखाना होगा कि यह फिल्म दिल्ली पुलिस के फाइलों पर आधारित है वयह डॉक्यूमेंट्री नहीं है. साथ ही यह बताना होगा कि फिल्म काल्पनिक है व पूरी तरह से सत्य घटना पर आधारित नहीं है. इससे पहले, मंगलवार को न्यायाधीश के चैम्बर में फिल्म को दिखाया गया. इससे पहले 8 अगस्त को बोला था कि ‘यदि यह पाया जाता है कि दिल्ली के 2008 के सिरीयल ब्लास्ट वएनकाउंटर मामलों की सुनवाई प्रभावित होगी तो बॉलीवुड फिल्म ‘बाटला हाउस’ की रिलीज को रोक दिया जाएगा. जामिया इलाके में स्थित में सितंबर, 2008 में पुलिस व आतंकियों की बीच हुई एनकाउंटर पर ही बॉलीवुड फिल्म बटला हाउस बनी है. बटला हाउस एनकाउंटर मुद्दे में आरोपी अरीज खान ने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर इस फिल्म के रिलीज पर रोक लगाने की मांग की थी.याचिका में बोला गया था कि फिल्म के रिलीज होने से निचली न्यायालय में उसके विरूद्ध चल रहे मुद्देकी सुनवाई प्रभावित होगी. इसके अतिरिक्त मुद्दे के एक अन्य आरोपी शहजाद अहमद ने भी याचिका दाखिल कर फिल्म के रिलीज पर रोक लगाने की मांग की थी. शाहजाद को इस मुद्दे में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है व हाई कोर्ट में उसका अपील विचाराधीन है.

फिल्म में नहीं होंगे ये दो दृश्य

उच्च कोर्ट को बताया कि कि फिल्म के उस दृश्य को हटा दिया गया है कि जिसमें सिरीयल ब्लास्ट के आरोपी को अपना अपराध कबूल करते हुए दिखाया गया था. इस दृश्य को हटा दिया गया है. इसके अतिरिक्त उस दृश्य को भी हटा दिया गया है कि जिसमें ब्लास्ट को अंजाम देने से पहले आरोपियों को बम बनाते हुए दिखाया गया था. आरोपी खान ने इन दृश्यों पर असहमति जताया था. इसके बटला हाउस एनकाउंटर में शहीद हुए दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा की तस्वीर दिखाने पर रोक लगा दी गई है. फिल्म में प्रयोग किए गए मुजाहिद शब्द को म्यूट करके दिखाना होगा. फिल्म के निर्माता ने याचिकाकर्ताओं के असहमति के मद्देनजर इन दृश्यों में खुद से परिवर्तन कर लिया है.