पत्नी या गर्लफ्रेंड को खुश रखने के लिए करें ये उपाय

पत्नी या गर्लफ्रेंड को खुश रखने के लिए करें ये उपाय

अगर आप पुरुषों से बात करें तो ज्यादातर पुरुषों का यही जवाब होगा कि पत्नी या गर्लफ्रेंड को खुश करना नामुमकिन है व इसका कोई श्योर शॉट उपाय हो ही नहीं सकता. लेकिन अगर साइंस की मानें तो उनके पास इस सवाल का जवाब है. हाल ही में हुई एक स्टडी इस बात की ओर संकेत करती है कि अपनी प्रेमिका या पत्नी को खुश रखने का सबसे बेस्ट उपाय है empathise करना या हमदर्दी दिखाना.

3 वर्ष से ज्यादा समय से रिलेशनशिप में थे प्रतिभागी
अमेरिकन साइकोलॉजिकल असोसिएशन की तरफ से करवाई गई इस स्टडी में अनुसंधानकर्ताओं ने 156 हेट्रोसेक्शुअल कपल्स की स्टडी की जो भिन्न-भिन्न इकोनॉमिक व एथनिक बैकग्राउंड से संबंध रखते थे. ये सभी कपल्स कमिटेड रिलेशनशिप में थे व पिछले 3 वर्ष से भी ज्यादा समय से एक दूसरे के साथ थे. इस स्टडी का मकसद यह जानना था कि महिला व पुरुष दोनों प्रतिभागी हमदर्दी को कितनी सम्मान देते हैं. सभी प्रतिभागियों को कुछ विडियोज दिखाए गए व उनसे सवाल पूछा गया कि उन्हें कैसा फील हुआ, उनका पार्टनर कैसा फील कर रहा था व उन्हें समझने के लिए उनके पार्टनर्स कितनी मेहनत करते हैं.

  • सेक्स सिर्फ सुकून, रोमांच व आनंद ही नहीं देता बल्कि अपने साथ कुछ भय भी रखता है. कई पुरुष व स्त्रियों के अंदर संभोग को लेकर तरह-तरह के भय होते हैं. खासकर स्त्रियों के अंदर तो संभोग को लेकर कुछ ज्यादा ही भय होता है. यही वजह है कि यौन संबंधों के दौरान भी उनके दिमाग में कई तरह के सवाल व बातें चलती रहती हैं. आइए जानते हैं कि संभोग को लेकर स्त्रियों के अंदर क्या भय होता है.

  • कई महिलाएं नेकेड होकर यौन संबंध बनाने से कतराती हैं. पार्टनर द्वारा नेकेड संभोग की ख़्वाहिश जाहिर करने के बाद भी वे हिचकती हैं. उनके मन में भय होता है कि अगर उनके पार्टनर को उनकी बॉडी अट्रैक्टिव नहीं लगी तो क्या होगा? क्या उनका पार्टनर उनसे पहले जितना ही प्यार करेगा या दूर हो जाएगा? लेकिन आपको यह समझने की आवश्यकता है कि हर किसी के अंदर कोई न कोई कमी होती है. प्यार सिर्फ शारीरिक ही नहीं होता. पार्टनर आपसे सच्चा प्यार करता है तो उसे इस बात से कुछ फर्क नहीं पड़ेगा कि आप अट्रैक्टिव नहीं हैं.

  • कुछ महिलाएं एक सीमित वक्त तक प्रेग्नेंसी नहीं चाहतीं. लेकिन कहीं हकीकत में प्रेग्नेंसी न हो जाए इसलिए वे संभोग से कतराती हैं. व जब मन में प्रेग्नेंट होने का भय बैठ जाएगा तो फिर वे संभोग को इंजॉय नहीं कर पाएंगी. लेकिन कॉन्डम से आप इस भय को दूर भगा सकती हैं.अगर ठीक ढंग से कॉन्डम का प्रयोग किया जाए तो प्रेग्नेंसी का चांस बेहद कम हो जाता है.

  • मेल पार्टनर को संभोग के दौरान एक्सपेरिमेंट व रोमांच पसंद हो तो फीमेल पार्टनर यही सोचकर घबरा जाता है कि कहीं उसके पार्टनर ने कुछ नया ट्राई किया व उसे वह पसंद नहीं आया या दर्द हुआ तो क्या होगा? कहीं इन्कार कर दिया तो वह नाराज तो नहीं हो जाएगा? ज्यादातर पुरुष संभोग के दौरान अपनी ही मनमानी करते हैं व अपने पार्टनर की इच्छाओं से कोई वास्ता नहीं रखते. इसी वजह से महिला पार्टनर के अंदर भय व असुरक्षा की भावना पैदा हो जाती है.

  • कई महिलाएं इस बात को लेकर भय जाती हैं कि संभोग के दौरान उनके पार्टनर ने अगर कॉन्डम नहीं पहना तो क्या होगा. व वह उसे कैसे कह पाएंगी? कहीं इस वजह से उन्हें किसी तरह का इंफेक्शन या बीमारी तो नहीं हो जाएगी.

  • कई बार ऐसा होता है कि फीमेल पार्टनर की यौन संबंध बनाने की बिल्कुल भी ख़्वाहिश नहीं होती, लेकिन वह यह सोचकर भय जाती है कि अगर उसने अपने पार्टनर को इन्कार कर दिया तो कहीं वह बुरा तो नहीं मान जाएगा. (सभी फोटो साभार: getty)

पार्टनर उन्हें समझने में लगाए एक्सट्रा एफर्ट तो अच्छा लगता है
इस स्टडी में महिला व पुरुष दोनों का यही बोलना था कि जब उनके पार्टनर उन्हें समझने के लिए एक्सट्रा एफर्ट लगाते हैं तो उन्हें अच्छा फील होता है. हालांकि इस खूबी को स्त्रियों ने ज्यादा अहमित दी. स्टडी में शामिल महिला प्रतिभागियों ने रिलेशनशिप में ज्यादा सैटिस्फैक्शन दिखाया जब उनके प्रेमी या जीवनसाथी ने उन्हें बेहतर ढंग से समझने के लिए ज्यादा मेहनत की. अनुसंधानकर्ताओं की मानें तो महिलाएं अपने पार्टनर की हमदर्दी दिखाने की मेहनत को ज्यादा तरजीह देती हैं क्योंकि यह इस बात का इशारा है कि आपका पार्टनर रिलेशनशिप को लेकर सतर्क है व इमोशनली जुड़ाव महसूस करता है.

रिश्ते को हैपी व हेल्दी बनाए रखने के लिए हमदर्दी है जरूरी
किसी भी रिलेशनशिप को हैपी व हेल्दी बनाए रखने के लिए वैसे तो कई फैक्टर्स होते हैं लेकिन उसमें से एम्पथी यानी हमदर्दी भी एक है यह बात साबित हो चुकी है. बिना अपने पार्टनर की बात को सुने या समझे हुए रिऐक्ट करना व किसी फैसला पर पहुंचने की वजह से लड़ाई-झगड़े हो सकते हैं. ऐसे में पार्टनर को बेहतर ढंग से समझना व उनके साथ हमदर्दी दिखाना भी महत्वपूर्ण होता है.

सेक्स एक 'गिव ऐंड टेक' रिलेशनशिप होता है. बेहतर सेक्शुअल रिलेशनशिप के लिए महत्वपूर्ण है कि ऐक्ट में शामिल दोनों ही पार्टनरों को ऑर्गेजम मिले. संभोग को लेकर स्त्रियोंव पुरुषों ने अकसर अपनी इच्छाएं व किस्से शेयर किए हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यौन संबंधों को लेकर पुरुषों की स्त्रियों से क्या अपेक्षाएं हैं? वे स्त्रियों से क्या चाहते हैं?

  • सेक्स थेरपिस्ट व चिकित्सक लॉरा बर्मन के अनुसार, हर पुरुष की ख्वाहिश होती है कि उसकी पार्टनर न सिर्फ खुद ऑर्गेज्म पाए बल्कि उसकी भी इच्छाओं का ख्याल रखे. पुरुष चाहते हैं कि फीमेल पार्टनर ऐसी चीजें ट्राई करें जिससे दोनों को चरमसुख प्राप्त हो. इसलिए लिए महिलाएं कोई नयी संभोग पोजिशन ट्राई कर सकती हैं, रोमांटिक स्थान या फिर लॉन्जरी के जरिए भी पार्टनर को सिड्यूस कर सकती हैं.

  • आप मानो या ना मानो लेकिन संभोग एक्सपर्ट मानते हैं कि संभोग टॉयज एक कपल के बीच यौन संबंधों को अत्यधिक रोमांचक व उत्तेजित बना सकते हैं.

  • पोर्न देखने की शौकीन रही हैं तो कभी भी अपने पार्टनर से इसे छिपाएं नहीं. संभोग रिसर्चर वरिलेशनशिप एक्सपर्ट सारा हंटर मूरे के मुताबिक, कुछ लोग पोर्न को लेकर बेहद असहज होते हैं, लेकिन अगर आप थोड़े खुले विचारों की हैं व संभोग को कुछ दिलचस्प बनाना चाहती हैं तो फिर पोर्न को अपनी संभोग जीवन का भाग बना सकती हैं. होने कि सम्भावना है कि इससे आपका पार्टनर भी सरप्राइज रह जाए.

  • सेक्स के दौरान महिलाएं सिर्फ अपने पुरुष पार्टनर से ही इस बात की उम्मीद न रखें कि वे उन्हें उत्तेजित करेंगे या फिर इरॉटिक हिस्सों पर किस करेंगे. एक्सपर्ट्स के अनुसार, पुरुष भी उम्मीद करते हैं कि उनकी पार्टनर उनके इरॉटिक जोन्स को टच करें व उत्तेजना बढ़ाएं.