वित्तमंत्री के Ola-Uber वाले बयान का नितिन गडकरी ने किया बचाव

वित्तमंत्री के Ola-Uber वाले बयान का नितिन गडकरी ने किया बचाव

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) के OLA, UBER व METRO वाले बयान पर बचाव करते हुए अपनी रिएक्शन दी है. गडकरी ने बोला कि वित्तमंत्री के उस बयान का गलत मतलब निकाला गया. इससे पहले बुधवार को BS6 कम्प्लाइंट वाली Honda Activa 125 हिंदुस्तान में लॉन्च हो गई. इस इवेंट पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बोला कि ऑटो सेक्टर में छाई सुस्ती के कई कारण है. उन्होंने आगे बोला कि ई-रिक्शा (e-rickshaw) में स्विच करने से ICE वाले ऑटो रिक्शा की बिक्री में गिरावट आई है. इसके अतिरिक्त पब्लिक ट्रांसपोर्ट में आया सुधार भी एक बड़ा कारण है.

गडकरी ने बोला कि निर्मला सीतारमण के कहने का मतलब था कि ऑटो सेक्टर में स्लोडाउन के कई कारण है, जिनमें Ola व Uber भी एक कारण है. दरअसल वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने ऑटो इंडस्ट्री (Auto Industry) में जारी गिरावट को लेकर एक बड़ा बयान दिया था. निर्मला सीतारमण ने ऑटो सेक्टर (Auto Sector) में गिरावट के लिए लोगों के माइंडसेट में परिवर्तन व BS-6 नॉर्म्स को जिम्मेदार ठहराया था.

दरअसल इस वर्ष की आरंभ से ही ऑटो सेक्टर में लगातार गिरावट देखी जा रही है. इसको लेकर हाल ही में सरकार ने कई बड़े कदम उठाए हैं. ऐसे में वित्तमंत्री की तरफ से इस मुद्दे में एक नया बयान तब सामने आया जब उन्होंने ऑटो इंडस्ट्री में स्लोडाउन के कारण बताए. वित्तमंत्री के मुताबिक BS-6 नॉर्म्स, रजिस्ट्रेशन फीस व लोगों का बदला हुआ माइंडसेट स्लोडाउन का एक बड़ा कारण है. इसके अतिरिक्त उन्होंने Uber व Ola के साथ मेट्रो को भी जिम्मेदार ठहराया था.

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बयान में बोला था कि आजकल लोग गाड़ी खरीदकर EMI भरने से ज्यादा Ola-Uber का प्रयोग या फिर Metro (मेट्रो) में सफर करना पसंद करते हैं. हालांकि, इस दौरान उन्होंने माना की ऑटो सेक्टर में गिरावट एक गंभीर कठिनाई है. दरअसल पीएम Narendra Modi (पीएम नरेंद्र मोदी) की प्रतिनिधित्व वाली Modi 2.0 के 100 पूरा होने के मौके पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पत्रकारों से बात कर रही थीं, जहां उन्होंने यह बयान दिया है.