विदेश में मिलना चाहिए प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी को सम्मान : शशि थरूर

विदेश में मिलना चाहिए प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी को सम्मान : शशि थरूर

तिरुवनंतपुरम: कांग्रेस पार्टी के महान नेता व तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट से सांसद शशि थरूर, पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के मुखर आलोचक माने जाते हैं. उन्होंने रविवार को पुणे में एक प्रोग्राम के दौरान बोला कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जब हिंदुस्तान के प्रतिनिधि के तौर पर विदेश जाते हैं तो उन्हें पूरा सम्मान मिलना चाहिए, किन्तु जब पीएम देश में होते हैं तो जनता के पास उनसे सवाल करने का पूरा अधिकार होता है.

ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस पार्टी के प्रोग्राम में थरूर ने देश की एक आम भाषा को लेकर चल रहे टकराव पर रिएक्शन देते हुए बोला कि वह त्री भाषा फॉर्मूला के पक्ष में हैं. थरूर ने बोला कि बीजेपीकी सोच हिंदी, हिंदुत्व व भारत को बढ़ावा देने की है, जो देश के लिए खतरनाक है. हमें त्री भाषा फॉर्मूले को आगे बढ़ाने की जरूरत है. बताते चलें कि हिंदी दिवस के मौका पर गृह मंत्री अमित शाह द्वारा हिंदी को लेकर दिए गए बयान पर कई राज्यों ने असहमति जताई थी. जिसके बाद उन्होंने बुधवार को इस पर सफाई पेश की थी.

अमित शाह ने बोला था कि उन्होंने देश में हर स्थान हिंदी थोपने की बात कभी नहीं की, बल्कि उन्होंने हिंदी को दूसरी भाषा के तौर पर प्रयोग करने की वकालत की है. अमित शाह ने बोला कि वह निरंतर क्षेत्रीय भाषाओं को मजबूत करने की वकालत कर रहे हैं. कांग्रेस पार्टी सांसद थरूर ने देश में बढ़ती मॉब लिंचिंग को लेकर बीजेपी की आलोचना करते हुए बोला कि यह हिंदुत्व व भगवान राम का अपमान है.