तेजी से बढ़ रहे एचआईवी के मामले, वजह है चौंकाने वाली, जानें

तेजी से बढ़ रहे एचआईवी के मामले, वजह है चौंकाने वाली, जानें

नई दिल्ली: इस्लामाबाद, पाकिस्तान में एचआईवी के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं| संयुक्त राष्ट्र की एक ताजा रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है| एचआईवी पीड़ितों में सबसे ज्यादा संख्या किन्नरों (ट्रांसजेंडर) और यौनकर्मियों की है| द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने मंगलवार को बताया कि संयुक्त राष्ट्र ने इस बाबत जो आंकड़े प्रस्तुत किए हैं, उनमें 13 प्रतिशत उछाल देखने को मिला है| जहां 2010 में कुल 67,000 मामले थे, वहीं अब इस साल तक कुल 160,000 मामले सामने आए हैं|

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में कहा गया है कि और अधिक युवा लोग इस वायरस की चपेट में आएंगे, इसकी संभावना प्रबल है| पाकिस्तान में 2015 से 2018 तक 14 वर्ष की उम्र वाले संक्रमित युवाओं की संख्या बढ़कर 1,500 हो गई है|

इसी तरह एचआईवी संक्रमित महिलाओं की संख्या भी बढ़ी है| 15 वर्ष से ऊपर उम्र की संक्रमित युवतियों की संख्या 2015 में जहां 37,000 थी, वहीं अब 2018 में यह बढ़कर 48,000 हो गई है|

मौजूदा साल के दौरान इंजेक्शन ड्रग का उपयोग करने वालों में एचआईवी की दर 21 प्रतिशत बढ़ी है| इसी तरह समलैंगिकों में 3.7 प्रतिशत और यौनकर्मियों में 3.8 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है|

द एक्सप्रेस ट्रिब्यूनल ने पाकिस्तान नेशनल एड्स कंट्रोल प्रोग्राम द्वारा जारी आंकड़ों के हवाले से कहा कि पूरे देश में संक्रमित सुइयों के साझा इस्तेमाल के चलते 5,000 लोगों को एचआईवी पॉजिटिव पाया गया है|