कुख्यात चीनू पंडित के भाई ने अस्पताल में मचाया तांडव

कुख्यात चीनू पंडित के भाई ने अस्पताल में मचाया तांडव

रुड़की कारागार में बंद बदमाश चीनू पंडित के भाई ने परिचित को भर्ती करने से मना करने पर व्यक्तिगत अस्पताल में घुसकर कंपाउंडर से हाथापाई कर दी. उसने गोली चलाने की भी प्रयास की, लेकिन गोली नहीं चली तो कंपाउंडर के सिर पर पिस्टल की बट मारकर लहूलुहान कर दिया. शोर मचाने पर वह अपने परिचित को लेकर फरार हो गया.

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची व घटना की जानकारी ली. पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो पूरी तस्वीर साफ हो गई. केस दर्ज कर पुलिस ने आरोपी की तलाश प्रारम्भ कर दी है.

गंगनहर कोतवाली क्षेत्र स्थित पुराना रेलवे रोड पर डाक्टर अतुल त्यागी का नर्सिंग होम है. रविवार देर रात करीब 12 बजे कंपाउंडर पंकज कुमार अस्पताल में ड्यूटी पर थे. इस बीच बदमाश चीनू पंडित का भाई शगुन पंडित अपने सम्बन्धी को लेकर पहुंचा व भर्ती करने की बात कही, लेकिन मरीज की हालत गंभीर देख कंपाउंडर ने भर्ती करने से मना कर दिया.

आरोप है कि इस पर शगुन ने कंपाउंडर को धमकाया व चिकित्सक का मोबाइल नंबर मांगा. मना करने पर शगुन ने पिस्टल निकालकर कंपाउंडर पर तान दी. उसने गोली चलाने की भी प्रयास की, लेकिन किसी कारणवश गोली नहीं तो उसने पिस्टल की बट कंपाउंडर के सिर पर मारकर खून से लथपथ कर दिया.

घटना से अस्पताल में अफरातफरी मच गई. शोर मचाने पर आरोपी अपने सम्बन्धी को लेकर अस्पताल से फरार हो गया. पूरी घटना अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई.

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची व छानबीन की. साथ ही फुटेज को कब्जे में ले लिया. एसएसआई देवराज शर्मा ने बताया कि शगुन पंडित के विरूद्ध केस दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी के कोशिश किए जा रहे हैं.

कंपाउंडर पर पिस्टल तानने के मुद्दे की पुलिस गंभीरता से जाँच कर रही है. साथ ही यह पता लगाने का कोशिश कर रही है कि आखिर शगुन के पास पिस्टल कहां से आई. पिस्टल के विषय में पुलिस बारीकी से जाँच कर रही है. इसकी भी जाँच कर रही है कि शगुन के सम्पर्क में कौन-कौन लोग हैं.

पुराना आपराधिक इतिहास
कंपाउंडर पर पिस्टल तानने वाले शगुन पंडित का आपराधिक इतिहास पुराना है. उसके विरूद्ध कई मुद्दे दर्ज हैं. वह पूर्व में कई मामलों में कारागार भी जा चुका है. पुलिस अब उसकी अपराध हिस्ट्री खंगालने में जुट गई है. इस विषय में पुलिस अधिकारियों ने भी अधीनस्थों को शगुन की पुरानी कुंडली खंगालने के आदेश दिए हैं.