ट्रंप ने आखिरकार मध्यस्थता का राग छोड़ा, कहा...

ट्रंप ने आखिरकार मध्यस्थता का राग छोड़ा, कहा...

नई दिल्ली/वाशिंगटन. अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आखिरकार कश्मीर मसले पर मध्यस्थता के राग को छोड़ दिया है. अमरीका में भारतीय राजनयिक हर्षवर्धन श्रृंगला ने सोमवार को बोला कि अब ट्रंप ने इस मुद्दे में हस्तक्षेप से मना कर दिया है. उन्होंने स्पष्ट तौर पर बोला है कि वह अब कश्मीर पर मध्यस्थता की पेशकश नहीं करेंगे.Image result for ट्रंप ने आखिरकार मध्यस्थता का राग छोड़ा, कहा

शीर्ष राजनयिक ने बोला कि राष्ट्रपति ट्रंप ने स्पष्ट कर दिया है कि जम्मू व कश्मीर पर मध्यस्थता करने की उनकी पेशकश हिंदुस्तान व पाक दोनों पर निर्भर है. चूंकि हिंदुस्तान ने मध्यस्थता की पेशकश को स्वीकार नहीं किया है, ऐसे में उन्होंने यह स्पष्ट कर दिया है कि यह अब मेज पर नहीं होने कि सम्भावनाहै. श्रृंगला ने बयान एक अमरीकी मीडिया को दिया.

ट्रंप के बयान ने हिंदुस्तान को चौंकाया था

गौरतलब है कि 22 जुलाई को वाइट हाउस में पाक के पीएम इमरान खान के साथ मीटिंग के दौरान, राष्ट्रपति ट्रंप ने यह कहकर हिंदुस्तान को चौंका दिया कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कश्मीर मामले पर मध्यस्थता की मांग की. इस पर हिंदुस्तान ने बोला कि पीएम मोदी द्वारा अमरीकी राष्ट्रपति से ऐसा कोई अनुरोध नहीं किया गया है व सभी मुद्दों को इस्लामाबाद के साथ द्विपक्षीय रूप से हल करना होगा.

इसके बावजूद एक सप्ताह बाद, राष्ट्रपति ट्रंप ने दोबारा बोला कि वह कश्मीर पर हिंदुस्तान व पाक के बीच निश्चित रूप से हस्तक्षेप करेंगे यदि वे उसे चाहते थे. उन्होंने बोला कि अगर दो दक्षिण एशियाई पड़ोसी चाहते थे कि वह इस मामले को हल करने में मदद करेंगे.