'हम भारत के किरायेदार नहीं हैं, हिस्सेदार हैं व रहेंगे' : असदुद्दीन ओवैसी

 'हम भारत के किरायेदार नहीं हैं, हिस्सेदार हैं व रहेंगे' : असदुद्दीन ओवैसी

नई दिल्ली : लोकसभा चुनावों में भाजपा को मिली प्रचंड़ बहुमत मिलने के बाद लगातार नरेंद्र मोदी पर हमला बोल रहे हैं। ओवैसी ने कहा, भारत को आबाद रखना है, हम भारत को आबाद रखेंगे, हम यहां पर बराबर के शेहरी है, किरायेदार नहीं है, हिस्सेदार रहेंगे।

मजलूमों के न्याय के लिए है लड़ाई
न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, ओवैसी ने कहा, अगर कोई ये समझ रहा है कि भारत के वजीर-ए-आजम 300 सीट जीतकर भारत पर मनमानी करेंगे तो यह नहीं हो सकेगा। उन्होंने कहा, वजीर-ए-आजम से हम बोलना चाहते हैं, संविधान का हवाला देकर ओवैसी ने बोला कि मैं आपसे लडूंगा, मजलूमों के न्याय के लिए।

ट्विटर पर जीडीपी को लेकर साधा था निशाना
इससे पहले ओवैसी ने अपने ट्विटर जीडीपी को लेकर तंज कसा था। उन्होंने ट्वीट कर बोला कि मोदी अपने खुद के औसत रिकॉर्ड को भी बेहतर नहीं कर सकते। जहां बेरोजगारी रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गई हो व जीडीपी सबसे कम स्तर पर हो।

ट्विटर पर आगे लिखते हुए उन्होंने कहा, मोदी है तो मुमकिन है। उन्होंने आगे बोला कि मोदी के मतदाताओं ने इसके लिए कभी शिकायत नहीं की। वह केवल तभी जागता है जब गौ मर्डर में 5 प्रतिशत से कमी आ जाती है या जब युवा दलित अपनी विवाह पर घोड़े की सवारी करता है।

सच में भय के माहौल में जी रहे हैं तो उन्‍हें यह भी जानना चाहिए कि जिन लोगों ने अखलाख की हत्‍या की थी वे उनकी जनसभाओं में आगे की सीट में बैठते हैं। उन्‍होंने आरोप लगाया कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी बोलते कुछ हैं व करते कुछ हैं।