स्त्रियों कर्मचारियों को मिलेंगी ये सुविधाएं : पीएम मोदी

स्त्रियों कर्मचारियों को मिलेंगी ये सुविधाएं : पीएम मोदी

केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने कर्मचारियों के कार्यालय, सुरक्षा, स्वास्थ्य व वर्किंग कंडीशन को लेकर हेल्थ एंड वर्किंग कंडीशन कोड बिल 2019 को मंजूरी दे दी है। इस कानून में कंपनियों को अपने कर्मचारियों का सालाना हेल्थ चेकअप करना होगा। अब सिर्फ अपने ग्रैंड पैरेंट्स के अतिरिक्तडिपेंडेंट ग्रैंड पैरेंट्स को भी शामिल किया जाएगा। ग्रैंड पैरेंट्स को मिलने वाली सुविधाएं अब डिपेंडेंट ग्रैंड पैरेंट्स को भी मिल सकेंगी । कंपनी में बच्चों के लिए क्रेच, कैंटीन जैसी सुविधा महत्वपूर्ण होगी। तय आयु के बाद कर्मचारियों के लिए मुफ्त हेल्थ चेकअप की सुविधा होगीImage result for मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसला

कैबिनेट का बड़ा फैसला-

>> दफ्तर में स्त्रियों के लिए वर्किंग आवर 6 बजे प्रातः काल से 7 बजे शाम के बीच ही रहेगा।
>> 7 बजे शाम के बाद अगर वर्किंग आवर तय किया जाता है तो सुरक्षा की जिम्मेदारी कंपनी की होगी

>> ओवरटाइम लेने से पहले कर्मचारी की सहमति लेनी महत्वपूर्ण होगी।
>> महिने में अधिकतम ओवरटाइम 100 घंटे की बजाय 125 घंटे हो सकेंगे।

>> परिवार की परिभाषा का दायरा बढ़ाया जाएगा
>> अब सिर्फ अपने ग्रैंड पैरेंट्स के अतिरिक्त डिपेंडेंट ग्रैंड पैरेंट्स को भी शामिल किया जाएगा
>> ग्रैंड पैरेंट्स को मिलने वाली सुविधाएं अब डिपेंडेंट ग्रैंड पैरेंट्स को भी मिल सकेंगी
>> कंपनी में बच्चों के लिए क्रेच, कैंटीन जैसी सुविधा महत्वपूर्ण होगी
>> तय आयु के बाद कर्मचारियों के लिए मुफ्त हेल्थ चेकअप की सुविधा होगी।