भारतीय शतरंज महासंघ ने गेलफेंड को कोच किया नियुक्त

भारतीय शतरंज महासंघ ने गेलफेंड को कोच किया नियुक्त

विस्तार पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथ आनंद के साथ कद्दावर शतरंज खिलाडियों में शुमार रहे इस्राइल के बोरिस गेलफेंड भारतीय शतरंज टीम को चेस ओलंपियाड के लिए तैयार करेंगे. भारतीय खिलाडिय़ों का शिविर चेन्नई में सात से 17 मई तक लगेगा, जिसके लिए भारतीय शतरंज महासंघ ने गेलफेंड को कोच नियुक्त किया है.

चेन्नई में कल से लगेगा 11 दिन का शिविर
चेन्नई में 28 जुलाई से होने वाले चेस ओलंपियाड के इस शिविर में ओपन और स्त्री वर्ग की चारों टीमें शिरकत करेंगी. मुख्य स्त्री टीम की सदस्य और पूर्व रैपिड विश्व चैंपियन कोनेरु हंपी का बोलना है कि वह अमूमन शिविरों में शिरकत नहीं करती हैं, लेकिन यह आनंद और गेलफेंड जैसे दिग्गजों से सीखने का अच्छा मौका है. गेलफेंड छह बार के विश्व चैंपियनशिप कैंडिडेट भी हैं. उन्होंने विश्व चैंपियन खिताब के लिए एक बार आनंद को भी चुनौती दी थी, जिसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. 

52 वर्षीय गेलफेंड ने 2009 में विश्व कप जीता था. इसके अतिरिक्त वह इस्राइल के लिए 11 चेस ओलंपियाड में भाग ले चुके हैं. 1990 से 2017 तक वह फिडे रैंकिंग में शीर्ष 30 खिलाडियों में शुमार रहे हैं. शतंरज महासंघ के अध्यक्ष संजय कपूर का बोलना है कि वह भारतीय टीमों की तैयारियों के लिए सब कुछ सुनिश्चित करना चाहते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए गेलफेंड जैसे कोच और खिलाड़ी की सेवाएं ली जा रही हैं. 

10वां चेस ओलंपियाड खेलने जा रहे पी हरिकृष्णा का बोलना है कि एक कोच के रूप में गेलफेंड का होना बड़ी बात है. उनका अनुभव और ज्ञान भारतीय टीम की काफी सहायता करेगा.


मुंबई को मिली सीजन की 10वीं हार

मुंबई को मिली सीजन की 10वीं हार

IPL 2022 के 65वें मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद ने मुंबई इंडियंस को रोमांचक मोड़ पर 3 रनों से मात दी. यह मुकाबला अंतिम गेंद तक पहुंचा. भुवनेश्वर कुमार ने विकेट मेडन 19वां ओवर डालकर हैदराबाद को जीत दिलाई. अंतिम 13 गेंदों में मुंबई को 19 रन चाहिए थे. इसके बाद 18वें ओवर की अंतिम गेंद पर 18 गेंदों पर 46 रन बनाकर खेल रहे टिम डेविड पवेलियन लौट गए. इसके बाद भुवी ने 19वें ओवर में कमाल किया फिर 20वां ओवर लेकर आए फजलहक फारूखी ने 19 रन नहीं बनने दिए. इस तरह लगातार पांच हार के एसआरएच को छठी जीत मिली.

सनराइजर्स हैदराबाद हालांकि अभी भी पॉइंट्स टेबल में 12 अंकों के साथ आठवें जगह पर है लेकिन टेक्निकली उसकी प्लेऑफ की उम्मीदें अभी भी बरकरार हैं. वहीं मुंबई इंडियंस को 13वें मुकाबले में सीजन की 10वीं हार का सामना करना पड़ा. मुंबई टेबल में 6 पॉइंट्स के साथ अंतिम जगह पर बनी है. 9वें जगह पर है 13 में से 9 मैच हारने वाली चेन्नई सुपर किंग्स. पांच बार की चैंपियन टीम अब अपना अंतिम मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स के साथ खेलेगी.

भुवी ने पलटा मैच का रुख

आपको बता दें इस मैच में टॉस हारकर पहले खेलने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद ने निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट पर 193 रन बनाए थे. उत्तर में मुंबई इंडियंस की टीम भी पूरे ओवरों में 7 विकेट खोकर 190 रन ही बना सकी. हैदराबाद के लिए राहुल त्रिपाठी ने सर्वाधिक 76 रनों की पारी खेली थी. इसके अतिरिक्त प्रियम गर्ग ने 42 और निकोलस पूरन ने 38 रन बनाए थे. दूसरी तरफ से मुंबई के लिए टिम डेविड ने 18 गेंदों पर 46 रनों की आतिशी पारी खेली लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए.

मैच मुंबई के पक्ष में था और 13 गेंदों पर 19 रनों की आवश्यकता थी. इसी बीच नटराजन के 18वें ओवर में चार छक्के लगाने के बाद अंतिम गेंद पर डेविड रन आउट हो गए. फिर 19वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने पहली गेंद पर बिना खाता खोले संजय यादव को आउट किया और पूरा ओवर मेडन निकाल दिया. इस ओवर ने मैच का रुख पलट दिया. उमरान मलिक ने हैदराबाद के लिए सर्वाधिक चार विकेट झटके.