भारतीय टीम का न्यूजीलैंड दौरा हुआ स्थगित, खेली जानी थी अहम वनडे सीरीज

भारतीय टीम का न्यूजीलैंड दौरा हुआ स्थगित, खेली जानी थी अहम वनडे सीरीज

न्यूजीलैंड के आने वाले समर सीजन में टीम भारत की मेजबानी करने वाली थी, लेकिन भारतीय टीम के इस दौरे को स्थगित कर दिया गया है। न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने इस बात की भी जानकारी दे दी है कि ये दौरा अब भारतीय टीम कब करेगी। न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड यानी एनजेडसी को हेक्टिक शेड्यूल के कारण भारत के खिलाफ होने वाली वनडे सीरीज को अगले साल के अंत तक के लिए स्थगित करना पड़ा है।

दरअसल, न्यूजीलैंड क्रिकेट को बांग्लादेश, नीदरलैंड्स और साउथ अफ्रीका की मेजबानी जनवरी 2022 से मार्च 2022 तक करनी है। इसके अलावा भारत की मेजबानी भी मार्च में ही टीम को करनी थी, लेकिन न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड को आइसीसी महिला विश्व कप का भी आयोजन करना है। ऐसे में भारत के कीवी दौरे को स्थगित किया गया है। 2023 टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाइंग स्पाट के लिए विश्व कप सुपर लीग के हिस्से के रूप में ये तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जानी थी, जो कि आइसीसी के फ्यूचर टूर्स प्रोग्राम का हिस्सा है।


न्यूजीलैंड की वेबसाइट स्टफ के अनुसार, एनजेडसी के एक प्रवक्ता ने पुष्टि की कि भारत एफटीपी के अनुसार इस सीजन न्यूजीलैंड का दौरा नहीं करेगा और नवंबर 2022 में आस्ट्रेलिया में अगले निर्धारित टी20 विश्व कप के बाद में उन दायित्वों को पूरा करेगा। हालांकि, कीवी क्रिकेट बोर्ड बांग्लादेश, नीदरलैंड्स और दक्षिण अफ्रीका को इस सीजन में देश बुलाएगा। वहीं, इसके बाद सात महिला टीम भी न्यूजीलैंड पहुंचेंगी, जहां 4 मार्च से 3 अप्रैल तक 50 ओवर का विश्व कप होना है।

 
नवंबर में ब्लैक कैप्स का भारत दौरा, जिसमें दो टेस्ट और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच शामिल हैं, इसका मतलब है कि वे दिसंबर की शुरुआत तक स्वदेश नहीं लौटेंगे और क्रिसमस से ठीक पहले अपने 14 दिनों के प्रबंधित अलगाव और संगरोध (MIQ) को पूरा करेंगे। इसका मतलब है कि कोई बॉक्सिंग डे टेस्ट इस साल नहीं है और बांग्लादेश के खिलाफ घरेलू समर का पहला मैच कम से कम 28 दिसंबर या उसके बाद का है, ताकि खिलाड़ी और कर्मचारी महीनों के बाद कोविड के बुलबुले में अपने परिवार के पास लौट सकें।


विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

नामिबिया ने डेविड विसे के ताबड़तोड़ अर्धशतक से बुधवार को यहां टी-20 विश्व कप के पहले दौर के ग्रुप-ए के मैच में अपने से ऊंची रैंकिंग की नीदरलैंड्स को छह गेंद रहते छह विकेट से हरा दिया। दक्षिण अफ्रीका के लिए भी टी-20 मैच खेल चुके विसे ने 40 गेंदों पर चार चौके और पांच छक्के की मदद से नाबाद 66 रन बनाए। इसके चलते नामिबिया ने 19 ओवर में चार विकेट पर 166 रन बनाकर जीत दर्ज की। नीदरलैंड्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 164 रन का स्कोर बनाया था।


लक्ष्य का पीछा करते हुए नामिबिया ने नौ ओवर में 52 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे, लेकिन 36 साल के विसे ने अकेले दम पर नीदरलैंड्स को छह गेंद बाकी रहते हराने में मदद की। उन्होंने प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तान पीटर सीलार पर छक्का लगाकर महज 29 गेंद में करियर का पहला अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक पूरा किया।


उन्होंने कप्तान गेरहार्ड इरास्मस (32) के साथ चौथे विकेट के लिए 51 गेंद में 93 रन की साझेदारी की। अंत में जेजे स्मिट ने आठ गेंद में नाबाद 14 रन बनाए। स्मिट ने 19वें ओवर की अंतिम दो गेंद पर दो चौके लगाकर टीम की जीत सुनिश्चित की। पदार्पण कर रही नामिबिया की पहले दौर के मैच में यह पहली जीत थी।


इससे पहले नीदरलैंड्स के सलामी बल्लेबाज मैक्स ओडोड (70) ने लगातार दूसरा अर्धशतक जड़ा और कोलिन एकरमैन (35) के साथ 82 रन की साझेदारी की। ओडोड की 57 गेंद की पारी में छह चौके और एक छक्का शामिल था। इस जीत से नामिबिया सुपर-12 चरण की दौड़ में बनी हुई है और पहले दौर के अंतिम मैच में उसे इसके लिए आयरलैंड को हराना होगा। वहीं, दो मैच हारने के बाद नीदरलैंड्स के अगले चरण में पहुंचने की संभावना काफी कम है।