IPL 2021 से पहले अपनी टीम के कप्तान को ही बाहर निकाल सकती है राजस्थान रॉयल्स

IPL 2021 से पहले अपनी टीम के कप्तान को ही बाहर निकाल सकती है राजस्थान रॉयल्स

राजस्थान रॉयल्स अपने कप्तान और प्रमुख बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को 2021 आFपीएल नीलामी से पहले रिलीज करने की संभावना है। राजस्थान रॉयल्स फ्रेंचाइजी इस पर जल्द ही एक अंतिम निर्णय लेगी। टीम के साथ बने रहने वाले खिलाड़ियों की अंतिम सूची भी जल्द प्रस्तुत की जाएगी, क्योंकि आइपीएल फ्रेंचाइजी को 20 जनवरी को समय सीमा बताई गई है। स्मिथ की कप्तानी में राजस्थान की टीम ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है।

क्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुकाबिक, स्मिथ को रिलीज करने पर विचार करने के पीछे के प्रमुख कारणों में से एक ये है कि उनकी 2020 आइपीएल की फॉर्म अच्छी नहीं रही है, जहां रॉयल्स आठ टीमों की लीग में अंतिम स्थान पर थी। एक नेता और बल्लेबाज के रूप में स्मिथ के कमजोर प्रभाव को फ्रेंचाइजी ने 2020 सीजन की समीक्षा में पाया है। स्मिथ ने टीम के लिए सभी 14 लीग मैच खेले, जिसमें 131 के स्ट्राइक रेट से 311 रन बनाए, जिसमें तीन अर्धशतक शामिल थे।

यह समझा जाता है कि राजस्थान रॉयल्स का फ्रेंचाइजी प्रबंधन चाहता था कि टीम कम से कम प्लेऑफ में पहुंचे। 2008 में उद्घाटन सत्र में आइपीएल का खिताब जीतने के बाद रॉयल्स ने 2013, 2015 और उसके बाद 2018 में प्लेऑफ में जगह बनाई थी। स्मिथ की कमी का असर पूरे आइपीएल 2020 में एक चर्चा का विषय बना रहा, क्योंकि उन्होंने अपनी बल्लेबाजी पॉजिशन को कई बार बदला था। उन्होंने सलामी बल्लेबाज के तौर पर शुरुआत की, लेकिन फिर मध्यक्रम में खेलने लगे।

2018 की नीलामी से पहले, स्मिथ एकमात्र खिलाड़ी थे, जिन्हें रॉयल्स ने 12.5 करोड़ रुपये (लगभग 1.953 मिलियन अमरीकी डॉलर) में रिटेन किया था। 2018 में रॉयल्स ने दो साल के निलंबन के बाद वापसी की और स्मिथ को कप्तान नियुक्त किया। हालांकि, स्मिथ ने आइपीएल से पहले साउथ अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ कांड के चलते पद से हट गए थे। वहीं, 2019 के सीजन के बीच में अजिंक्य रहाणे से कप्तानी छीनकर स्मिथ को सौंपी गई थी।

स्मिथ को रिलीज करने के मामले में राजस्थान रॉयल्स को नया कप्तान नियुक्त करना होगा। मौजूदा टीम में एक स्पष्ट अग्रदूत भारतीय बल्लेबाज विकेटकीपर संजू सैमसन हैं, जो आइपीएल 2020 में फ्रेंचाइजी के लिए प्रभावी खिलाड़ियों में से एक हैं। सोमवार को सैमसन ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के अपने पहले मैच में केरल का नेतृत्व किया था। सैमसन, जो हाल ही में ऑस्ट्रेलियाई दौरे के व्हाइट-बॉल लेग का हिस्सा थे, उनको रॉयल्स ने 2018 की नीलामी में 8 करोड़ रुपये (लगभग 1.25 मिलियन अमरीकी डॉलर) में खरीदा था।

सैमसन को ऑस्ट्रेलियाई दौरे के लिए चुने जाने की अहम वजह आइपीएल में उनकी सफलता थी, जहां वह रॉयल्स के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे, जिन्होंने तीन अर्धशतकों के साथ लगभग 159 के स्ट्राइक रेट से 375 रन बनाए। सैमसन राजस्थान रॉयल्स नेतृत्व समूह का भी हिस्सा थे, जिसमें स्टीव स्मिथ, मुख्य कोच एंड्रयू मैकडोनाल्ड, जोस बटलर और बेन स्टोक्स शामिल थे। अब देखना ये है कि अगले सप्ताह तक राजस्थान की टीम क्या फैसला लेती है।


भारत की जीत के बाद गावस्कर ने खास अंदाज में मनाया था जश्न, कहा...

भारत की जीत के बाद गावस्कर ने खास अंदाज में मनाया था जश्न, कहा...

ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर जब रिषभ पंत ने विजयी चौका जड़कर जब भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐतिहासिक जीत दिलाई तो यह कभी ना भुलाया जाने वाला क्षण बन गया। चोटिल खिलाडि़यों की फौज के बावजूद गजब का हौसला दिखाने वाली टीम इंडिया के खिलाडि़यों के प्रदर्शन से हर किसी का सीना चौड़ा हो गया। इन्हीं में से एक भारत के दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर भी थे, जिसकी खुशी उनके चेहरे पर साफ देखी जा सकती है, लेकिन अब एक ऐसा वीडियो सामने आया है, जिसमें वह हाथों में रेडवाइन लेकर जीत का जश्न मनाते हुए घूम रहे हैं और वहां मौजूद एक-एक ऑस्ट्रेलियाई भी उनके जश्न में शामिल होकर खुशी जाहिर कर रहा है।

दरअसल, गावस्कर ऑस्ट्रेलियाई खेल चैनल 7 के कमेंटेटर पैनल में शामिल थे। टीम इंडिया ने जब जीत दर्ज की, तो उसके बाद स्टेडियम के अंदर तो गजब का नजारा था ही, वहां मौजूद गावस्कर चैनल 7 टीम के साथ इस जश्न को मना रहे थे। वीडियो में साफ है कि गावस्कर हाथों में रेडवाइन का ग्लास ऊपर उठाकर खुशी से कमरे में इधर से उधर घूम रहे हैं और इस बीच वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा उनको गले लगाकर कह रहे हैं कि हम जीत गए, हम जीत गए। क्या शानदार सीरीज थी। वहीं वहां मौजूद ऑस्ट्रेलियाई लोग भी गावस्कर के साथ अपनी खुशी जाहिर कर रहे थे। गावस्कर ने कहा कि मेरी जिंदगी में अब जितना भी समय बचा है, मैं इन पलों को हमेशा संजोकर रखूंगा। मैं अभी भी चंद्रमा के ऊपर कक्षा में चक्कर लगा रहा हूं।

टीम इंडिया बेहद विषम परिस्थिति में ऑस्ट्रेलिया को अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराया था। ये लगातार दूसरा मौका था जब टीम इंडिया ने कंगारू टीम को लगातार उनकी धरती पर टेस्ट सीरीज में हराया था। इस टेस्ट सीरीज में विराट की गैरमौजूदगी और कई स्टार खिलाड़ियों के टीम से बाहर होने के बाद भी टीम का ये कमाल बेमिसाल था। सबसे बड़ी बात ये कि टीम 36 रन पर ऑल आउट होने के बाद भी ऐसा कमाल कर पाने में सफल हो पाई थी। 


BJP पर राहुल गांधी का बड़ा हमला - नागपुर का 'निकरवाला' कभी नहीं तय कर सकता किसी राज्य का भविष्य       Cold Wave India : उत्तर और मध्य भारत में अगले तीन से चार दिनों में पड़ेगी कड़ाके की सर्दी       पाकिस्तान के लिए एडा क्लास के 4 युद्धपोत बना रहा तुर्की, जानें भारत के लिए कितना खतरनाक       फ्री में मिलेगा BSNL 4G सिम कार्ड, जानें पाने का तरीका       Kisan Andolan: कांग्रेस की चेतावनी, किसानों की मांग पूरी नहीं हुई तो संसद सत्र होगा हंगामेदार       Honda Grazia का Sports Edition भारत में हुआ लॉन्च, जानें आपके बजट में कितनी है फिट       रात में बच्चे को सोने नहीं देती खांसी तो इन घरेलू उपायों से दिलाएं आराम       UP पुलिस का गब्बर स्टाइल में एक और ट्वीट, पूछा- कितने आदमियों ने ये ट्वीट देखा?       सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं नोनी के पत्‍तों का रस, इन 7 रोगों से दिलाए निजात       बिल्ली और केकड़े का ये वीडियो देख आप हमेशा अपने काम से काम रखोगे!       शशि थरूर कांग्रेस को बता रहे थे मजबूत विपक्ष, बिशन सिंह बेदी की 'गुगली' ने बंद की बोलती!       पॉर्न देखने वालों की मुश्किलें बढ़ीं, पॉप्युलर वेबसाइट का डेटा लीक       Corona Vaccine Update: भारत में 16 लाख से ज्यादा लोगों को कोरोना का टीका, दुनिया के बाकी देश कहां       India China Faceoff: 11 घंटे तक चली 9वें दौर की बातचीत, भारत ने फिर कहा- पीछे तो पूरी तरह ही हटना पड़ेगा       शराब पीने वालों के लिए बुरी खबर, 31 मार्च तक 5 दिन बंद रहेंगी वाइन की दुकानें       आपके मोबाइल में मौजूद है फर्जी ऐप, तो ऐसे करें असली-नकली की पहचान       नेपाल में प्रचंड धड़े ने पीएम केपी शर्मा ओली को पार्टी से निकाला, स्पष्टीकरण नहीं देने पर कार्रवाई       विवादित ढांचे को लेकर प्रकाश जावडेकर बोले, 6 दिसंबर 1992 को ऐतिहासिक गलती को किया गया ठीक       लालू प्रसाद यादव की हालत स्थिर, दिल और किडनी की है गंभीर समस्या       गणतंत्र दिवस परेड खत्म होने के बाद ही ट्रैक्टर पर निकल सकेंगे किसान, चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेगी पुलिस