अखिलेश यादव का BJP पर गंभीर आरोप, बोले- किसानों की आय दोगुनी करने का वादा झूठा

अखिलेश यादव का BJP पर गंभीर आरोप, बोले- किसानों की आय दोगुनी करने का वादा झूठा

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किसानों के हित की योजनाओं को लेकर केन्द्र के साथ उत्तर प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला है। समाजवादी पार्टी के उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय में पूर्व आयकर आयुक्त तथा पूर्व विधायक के साथ दर्जन भर से अधिक लोगों ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मौजूद थे।

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने इस मौके पर कहा कि लोगों के पार्टी में लगातार शामिल होने से हमारा परिवार दिन पर दिन बड़ा होता जा रहा है। अखिलेश यादव ने केन्द्र तथा प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला करते हुए कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने का वादा झूठा है। इस सरकार बदलते ही किसानों के दिन बदलेंगे। उन्होंने कहा कि लोगों ने देखा है कि योगी आदित्यनाथ सरकार ने पंचायत चुनाव में किस तरह से गुंडागर्दी करके लोकतंत्र का गला घोंटा है। इस सरकार ने मां गंगा को भी धोखा दिया है। प्रदेश की सारी नदियां गंदी होती जा रही हैं। यह सरकार सिर्फ हमारी योजनाओं का फीता काट रही है।

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में घोर अराजकता का माहौल है। कहीं पर भी बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। पुलिस भी बेलगाम है। सरकार से प्रदेश संभल नहीं पा रहा है। इस अवसर पर समावादी पार्टी में गुरुवार को काफी लोग शामिल भी हुए। इन सभी को अखिलेश यादव ने सदस्यता पत्र प्रदान किया। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष ने पूर्व आयकर आयुक्त शिव वचन राम के साथ पूर्व विधायक भगेरू राम को उनके समर्थकों के साथ पार्टी में शामिल कराया। 


गढ़मुक्तेश्वर मेला को योगी सरकार की अनुमति, कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश

गढ़मुक्तेश्वर मेला को योगी सरकार की अनुमति, कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पर लगभग अंकुश लगा चुके सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कोरोना कर्फ्यू पूरी तरह से हटाने के बाद अब एक कदम और आगे बढ़ा दिया है। खुले मैदान में अब किसी तरह के आयोजन की कोई पाबंदी नहीं है। कार्तिक मास में दीपावली के बाद गढ़मुक्तेश्वर में करीब 15 दिन तक मेला लगता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में लगने वाले एक बड़े मेले के आयोजन को अनुमति प्रदान कर दी है। उन्होंने हापुड़ में लगने वाले गढ़मुक्तेश्वर मेले के आयोजन को अनुमति दी है। इसके साथ ही निर्देश भी दिया है कि वहां पर सभी स्थान पर कोविड प्रोटोकॉल के साथ भव्य रूप से मेले का आयोजन हो।


अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि कार्तिक मास में बीते दो वर्ष से प्रदेश के हापुड़ जनपद के गढ़मुक्तेश्वर के खादर में लगने वाला कार्तिक मेला स्थगित था। इस बार मुख्यमंत्री योगी ने ऐतिहासिक मेले के आयोजन के लिए निर्णय लिया है। मेले के आयोजन को लेकर अब शासनादेश जारी हो गया है। ऐसे में इस बाद दिवगंत परिजनों के दीपदान के लिए लोग खादर में पहुंच सकते हैं।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ बनाए रखे जाने व कोविड नियमों के तहत सभी पर्व एवं त्योहारों को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के निर्देश दिए हैं।


हापुड़ जिले के गढ़मुक्तेश्वर में कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाले मेले में कई राज्यों से लाखों श्रद्धालु पहुंचते हैं। यहां लोग अपने पुरखों की आत्मा की शांति के लिए दीपदान करते हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-09 के साथ बुधवार को समीक्षा बैठक के बाद प्रदेश के सभी जिलों में कन्टेंमेंट जोन के बाहर रात का कर्फ्यू समाप्त करने का आदेश दिया था। कोविड प्रोटोकाल के अनुपालन की शर्त के अनुसार रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू करने के आदेश थे।