लालू की बेल पर अब 11 दिसंबर को सुनवाई, कांग्रेस पार्टी बोली...

लालू की बेल पर अब 11 दिसंबर को सुनवाई, कांग्रेस पार्टी बोली...

पटना/रांची   राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के अध्यक्ष और बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की जमानत याचिका पर रांची हाईकोर्ट  (Ranchi High Court) में सुनवाई टल गई है अब यह 11 दिसंबर को होगी लालू यादव के जमानत टलने पर राजनीति गरमा गई है आरजेडी और काँग्रेस ने इसे षड्यंत्र बताया है ज़मानत टलने के बाद राजद ने  प्रतिक्रिया देते हुए CBI पर शक जताते हुए न्यायपालिका पर भरोसा जताया है वहीं, कांग्रेस पार्टी ने बोला कि बार-बार सुनवाई टलने से शक पैदा होता है

आरजेडी नेता सुबोध राय ने बोला कि हमें न्यायपालिका पर भरोसा है पर जिस ढंग से CBI षड्यंत्र कर रही है वो चिंताजनक है CBI की षड्यंत्र के कारण लालू की जमानत नहीं हुई हालांकि आलोक मेहता ने बोला कि हमें न्यायपालिका पर यक़ीन है और हमारे नेता को अवश्य न्याय मिलेगा वहीं, कांग्रेस पार्टी नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने बोला कि कुछ तो बात है जिसके कारण लालू की जमानत बार-बार टाल दी जाती है सियासी षड्यंत्र की जा रही है  कांग्रेस नेता ने बोला कि बार-बार सुनवाई टलना शक पैदा करता है  आज या कल जब सुनवाई होगी न्याय मिलेगा

आरजेडी के बयानों पर पलटवार करते हुए जेडीयू नेता मदन सहनी ने बोला के जब कारागार में रहकर के लालू इतने  प्रलोभन और धमकी दे सकते हैं तो बाहर आकर ना जाने क्या कर सकते हैं इसलिए ऐसे लोगों को कभी जमानत नहीं मिली चाहिए वहीं, जेडीयू नेता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने बोला कि ये कोर्ट का फ़ैसला है, लेकिन न्यायपालिका से हमारी अपेक्षा है कि वह इस पर विचार करेगी जो कारागार मेनुअल की अवहेलना कर रहा हो, जो आदतन क्रिमिनल हो क्या उसकी जमानत पर विचार करेगी? भाजपा नेता संजय मयूख ने बोला कि आप शीघ्र को ना तो जन्नत पर भरोसा है और ना ही लोकतंत्र पर उन्हें केवल अपने परिवार पर भरोसा है कांग्रेस पार्टी नेता के द्वारा जमानत पर सुनवाई टलने पर शक करने पर बीजेपी नेता प्रमोद कुमार ने बोला कि न्यायपालिका पर शक करना अनुचित है  न्यायपालिका हर समय कानून के मुताबिक अपना कार्य करती है और उसे पॉलिटिक्स से कुछ भी लेना-देना नहीं होता है
बता दें कि सुनवाई से पहले  राबड़ी देवी ने बोला था कि न्यायपालिका पर हमें भरोसा है और कोर्ट के हर फ़ैसले को हम मानेंगे  बता दें कि लालू के विरूद्ध चारा घोटाले से संबंधित पांच मुद्दे झारखंड में चल रहे हैं इनमें से चार मामलों में CBI न्यायालय उन्हें सजा सुना चुकी है पांचवां केस डोरंडा कोषागार का है, जिसकी सुनवाई अभी CBI न्यायालय में चल रही है

जिन चार मामलों में लालू प्रसाद को सजा मिली है, उसके विरूद्ध उन्होंने उच्च न्यायालय में अपील की है इनमें तीन मुद्दे में उच्च न्यायालय ने उन्हें जमानत दे दी है बताते चलें कि लालू प्रसाद को सभी मामलों में आधी सजा काटने के आधार पर जमानत दी गई है

दुमका कोषागार मुद्दे में भी उन्होंने इसी आधार पर जमानत मांगी है साथ ही अपनी रोग का हवाला भी दिया है अब यदि  11 दिसंबर को उच्च न्यायालय से उन्‍हें दुमका कोषागार के मुद्दे में जमानत मिल जाती है तो वे कारागार से बाहर आ जाएंगे जाहिर है इसका बिहार की पॉलिटिक्स पर भी बड़ा प्रभाव पड़ेगा

हालांकि जमानत का विरोध करते हुए CBI ने अपने उत्तर में बोला है कि CBI न्यायालय ने दुमका कोषागार मुद्दे में लालू प्रसाद यादव को दो भिन्न-भिन्न मामलों में सात-सात वर्ष की सजा सुनाई है न्यायालय ने दोनों सजाएं एक साथ चलाने का आदेश नहीं दिया है इस कारण लालू प्रसाद यादव ने दुमका कोषागार के मुद्दे में एक दिन की सजा भी नहीं काटी है


ट्रैक्टर परेड: अखिलेश ने BJP को बताया कसूरवार, मायावती बोलीं...

ट्रैक्टर परेड: अखिलेश ने BJP को बताया कसूरवार, मायावती बोलीं...

लखनऊ: किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा पर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर तीखा हमला बोला है। अखिलेश ने यादव ने ट्रैक्टर परेड हिंसा के लिए बीजेपी को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार ने जिस तरह किसानों की लगातार उपेक्षा की, उसी वजह से किसानों की नाराजगी आक्रोश में बदली।

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा है कि ‘बीजेपी सरकार ने जिस प्रकार किसानों को निरंतर उपेक्षित, अपमानित व आरोपित किया है, उसने किसानों के रोष को आक्रोश में बदलने में निर्णायक भूमिका निभायी है। अब जो हालात बने हैं, उनके लिए बीजेपी ही कसूरवार है। बीजेपी अपनी नैतिक जिम्मेदारी मानते हुए कृषि-कानून तुरंत रद्द करे।


मायावती ने ट्रैक्टर रैली में उपद्रव की निंदा की
दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर रैली में हिंसा को बसपा प्रमुख मायावती ने दु्र्भाग्यपूर्ण बताया है। मायावती ने बुधवार सुबह ट्वीट कर कहा कि देश की राजधानी दिल्ली में कल गणतंत्र दिवस के दिन किसानों की हुई ट्रैक्टर रैली के दौरान जो कुछ भी हुआ, वह कतई भी नहीं होना चाहिए था। यह अति-दुर्भाग्यपूर्ण तथा केन्द्र की सरकार को भी इसे अति-गंभीरता से ज़रूर लेना चाहिए।

उन्होंने कहा कि बसपा की केन्द्र सरकार से पुनः यह अपील है कि वह तीनों कृषि कानूनों को अविलम्ब वापिस लेकर किसानों के लम्बे अरसे से चल रहे आन्दोलन को खत्म करे ताकि आगे फिर से ऐसी कोई अनहोनी घटना कहीं भी न हो सके।

ट्रैक्टर परेड में जमकर हिंसा
केंद्र सरकार के कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों ने गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर रैली निकाली। ट्रैक्टर परेड के दौरान किसानों ने जमकर उपद्रव मचाया। किसानों ने बसों और वाहनों में जमकर तोड़फोड़ की। किसानों की कई जगहों पर पुलिस के साथ झड़प भी हुई। किसानों के हमले में करीब 300 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं।

गणतंत्र के दिन बैरिकेड तोड़कर किसान लाल किला पर पहुंच गए और प्राचीर पर अपना झंडा फहरा दिया। इस दौरान किसानों ने देश के तिरंगे का अपमान भी किया। लाल किले पर उपद्रव और दिल्ली हुई हिंसा के बाद गृह मंत्रालय गंभीर हो गया है। मंत्रालय ने पुलिस अधिकारियों को उपद्रवियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं। घायल पुलिसकर्मियों को बेहतर इलाज मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं।


Shehnaaz Gill के बर्थडे पर सिद्धार्थ शुक्ला ने उन्हें पानी में दिया धक्का       Bigg Boss 14: विकास गुप्ता ने बताई मां को घर से निकालने की सच्चाई, बोले...       Bigg Boss 14: अली गोनी और अभिनव शुक्ला ने गुस्से में एक दूसरे पर उठाया हाथ, अब बिग बॉस क्या लेंगे फैसला?       Bigg Boss 14: बाथरूम लॉक होने पर गार्डन में ही सबके सामने नहाने लगीं राखी सावंत, लोगों ने कहा...       सिद्धार्थ शुक्ला से प्यार, हिमांशी से टकरार... जानें पंजाब की कटरीना के बारे में बहुत कुछ       Bigg Boss 14: निक्की तंबोली ने राहुल वैद्य की गर्लफ्रेंड को लेकर निकला गुस्सा, कहा...       igg Boss 14: परिवार के राज़ खोलने पर विकास गुप्ता हुए ट्रोल, लोग बोले...       सिनेमाघरों का बदलेगा नज़ारा, 50 फीसदी से अधिक सीटों की अनुमति जल्द       Abhay Deol ने शेयर किया वेब सीरीज़ '1962' का फ़र्स्ट लुक, 3000 चीनी सैनिकों पर भारी पड़े थे 125 भारतीय जांबाज़       विवाद के बीच ‘तांडव’ की टीम ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका, शुरू हुई सुनवाई       Tandav टीम को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली राहत, अदालत ने कहा...       ज़ी5 की वेब सीरीज़ में रवि दुबे और निया शर्मा की ज़बरदस्त कैमिस्ट्री, देखें टीज़र       थिएटर्स में ताबड़तोड़ कमाई के बाद इस तारीख़ को अमेज़न प्राइम पर आ जाएगी फ़िल्म       Aamir Khan के बेटे जुनैद ख़ान फ़िल्मों में आने से पहले इस तरह कर रहे हैं ख़ास तैयारी       महज़ 26 साल की उम्र में दुनिया छोड़ गयी यह अभिनेत्री, दुनियाभर में मनाया जा रहा है शोक       Preity Zinta को याद आये 'सोल्जर' वाले दिन, कहा...       RRR समेत साउथ की इन बाहुबली फ़िल्मों का है बेसब्री से इंतज़ार, बॉक्स ऑफ़िस पर मचेगा तहलका       किसान आंदोलन की समर्थक गुल पनाग का गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा पर फूटा गुस्सा       गुरुवार को किया जाएगा सौरव गांगुली का स्टेंटिंग       ब्रिसबेन टेस्ट में प्लेइंग इलेवन में नहीं शामिल करने पर कुलदीप यादव ने इतने दिन बाद दी प्रतिक्रिया